योगी सरकार का बड़ा फैसला, कोरोना के संदिग्ध प्राइवेट कर्मचारियों को छुट्टी में भी मिलेगी पूरी सैलरी

- उत्तर प्रदेश की योगी आदित्यनाथ सरकार का बड़ा फैसला
- सरकारी और प्राइवेट कर्मचारियों के लिए जारी किये दिशा-निर्देश
- मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने सभी प्राइवेट फर्मों को दी एडवाइस

By: Hariom Dwivedi

Updated: 19 Mar 2020, 02:18 PM IST

पत्रिका ब्रेकिंग
लखनऊ. उत्तर प्रदेश सरकार ने कोरोना वायरस फैलने से रोकने के लिए सभी सरकारी कर्मचारियों और प्राइवेट कर्मचारियों के लिए दिशा-निर्देश जारी किये हैं। इसके तहत जिन भी व्यक्तियों में कोविड-19 पॉजिटिव पाया जाएगा। उनका न केवल मुफ्त इलाज किया जाएगा, बल्कि उन्हें इलाज के दौरान पूरी सैलरी भी दी जाएगी। इसी तरह राज्य सरकार ने प्रदेश की सभी निजी कंपनियों को निर्देश दिया है कि वे जहां तक संभव हो घर से ही काम करने का निर्देश अपने कर्मचारियों को ददें। इस दौरान यदि किसी में कोरोना वायरस का संक्रमण का अंदेशा होता है और उसे क्वारेंटाइन किया जाता है तो उस दौरान उस कर्मचारी को हर हाल में नियोक्ता को पेड लीव देनी होगी।

राज्य सरकार के प्रवक्ता व ऊर्जा मंत्री श्रीकांत शर्मा के मुताबिक, सीएम योगी ने सभी प्राइवेट फर्मों को एडवाइस दी है कि वे अपने कर्मचारियों को वर्क फ्रॉम होम की इजाजत दें, लेकिन इस बात का ध्यान रखें कि वे इस बीच किसी भी कर्मचारी की सैलरी इस बिना पर न काटें कि वह कार्यालय से अनुस्थित है। यूपी सरकार के इस फैलले का सबसे ज्यादा असर ऩोएडा, ग्रेटर नोएडा, गाजियाबाद और लखनऊ में पड़ेगा, जहां बड़ी संख्या में नेशनल औऱ मल्टीनेशनल कंपनियां काम कर रही हैं। राज्य सरकार के प्रवक्ता का कहना है कि उन सभी कर्मचारियों को पेड लीव के लिए 14 दिन के क्वारेंटाइन का मेडिकल सर्टिफिकेट देना होगा, तभी उन्हें पेड लीव मिल सकेगी।

...तो यहां करें शिकायत
मुख्यमंत्री कार्यालय से कोरोना वायरस हेल्पलाइन नंबर भी जारी किया गया है, जिसमें यदि कोई कंपनी क्वारेंटाइन पीरियड का लाभ नहीं दे रही है तो सीधे शिकायत भी की जा सकती है।
नंबर इस प्रकार से है- [email protected]
0522-2230688, 0522- 2230955, 0522- 2230691, 0522- 2230333

यह भी पढ़ें : दिहाड़ी मजदूर न हों परेशान, योगी सरकार कर रही है यह इंतजाम

Corona virus
Show More
Hariom Dwivedi
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned