यहां की महिलाएं बेखौफ करती हैं स्मैक स्मगलिंग

Vikhyaat Mandal

Publish: Feb, 15 2018 03:23:00 PM (IST)

Mandla, Madhya Pradesh, India
यहां की महिलाएं बेखौफ करती हैं स्मैक स्मगलिंग

दो सप्ताह में मादक पदार्थों की तस्करी के तीन प्रकरण

मंडला. आदिवासी बहुल्य जिले में मादक पदार्थों के तस्करों ने अपने कारोबार की जड़ों को किस गहराई तक पहुंचा दिया है। इसका अंदाजा लगाया जा सकता है कि नगर में तस्करी करने वालों में अब तक सिर्फ प्रौढ़ और युवा ही नहीं, किशोरों को भी गिरफ्तार किया जा चुका है। तस्करी के व्यापार में महिलाओं को भी शामिल किया गया है। इस बात का खुलासा बुधवार को पुलिस अधीक्षक राकेश कुमार सिंह ने किया और बताया कि अंतर्राष्ट्रीय बाजार में एक लाख रुपए की कीमत वाले स्मैक के साथ एक महिला को सब्जी बाजार के नजदीक से गिरफ्तार किया गया है। सब्जी मार्केट के नजदीक, तिलक वार्ड निवासी महिला गंगाबाई पति भद्द्ेलाल बंजारा को ५.५ ग्राम स्मैक के साथ गिरफ्तार किया गया। अंतर्राष्ट्रीय बाजार में इस की कीमत एक लाख रुपए बताई जा रही है।
एसपी राकेश सिंह के निर्देशन में जिले भर में मादक पदार्थों के तस्करी, शराब, जुआं और सट्टा के विरुद्ध अभियान चला रखा है। इसके चलते कई आरोपी पुलिस की गिरफ्त में आ रहे हैं और दर्जन भर प्रकरण बन चुके हैं। एसपी सिह ने बताया कि मुखबिर से सूचना मिली थी कि स्टेडियम गेट के पास एक महिला संदिग्ध अवस्था में घूम रही है। उन्होंने तत्काल एसडीओपी मंडला एवी सिंह को टीम के साथ मौके पर भेजा। महिला गंगाबाई की तलाशी लेने पर महिला पुलिस को उसके पास से स्मैक बरामद हुई।
पूछताछ में आरोपी द्वारा स्वीकार किया गया कि यह मादक पदार्थ जबलपुर से लाया गया है। इस संबंध में और अधिक गहनता से पूछताछ की जा रही है। एसपी सिंह का कहना है कि गंगाबाई के संबंध में निरंतर अवैध पदार्थ एवं शराब बिक्री की सूचनाएं मिल रहीं थीं। इससे पहले भी आरोपिया पर अवैध शराब एवं मादक पदार्थ बिक्री के अपराध थाना कोतवाली में पंजीबद्ध हंै। उक्त कार्रवाई में उप निरीक्षक अवधेश तोमर, मनीश लोधा, मनोज जादौन, महिला आरक्षक ज्योति, आरक्षक धीरज, अमित,विवेक, रज्जन,जफर एवं गौरी की सराहनीय भूमिका रही।
तीसरा प्रकरण
महज दो सप्ताह में मादक पदार्थों की तस्करी का यह तीसरा मामला दर्ज किया गया है। तीनों ही मामले थाना कोतवाली में दर्ज किए गए। अंदाजा लगाया जा सकता है कि मादक तस्करों ने थाना कोतवाली अंतर्गत क्षेत्र में ही अपना कारोबार फैला रखा है। सूत्रों का यह भी कहना है कि कोतवाली पुलिस के अप्रत्यक्ष संरक्षण में ही यह कारोबार फलफूल सका है।
इससे पहले एक फरवरी को कोतवाली क्षेत्र लालीपुर तिराहे के नजदीक से राकेश कुमार कोरी पिता प्रेम लाल कोरी उम्र 28 वर्ष निवासी सिद्ध बाबा वार्ड थाना घामापुर जिला जबलपुर के कब्जे से 3 किलो ग्राम गांजा एवं सुनील श्रीवास पिता रामेश्वर प्रसाद श्रीवास उम्र 40 वर्ष निवासी साईं बाबा मंदिर के पास थाना मदन महल जिला जबलपुर के कब्जे से 2 किग्रा गांजा जब्त किया गया था। इसके बाद ६ फरवरी को थाना कोतवाली अंतर्गत रानी अवंतिबाई कन्या विद्यालय के नजदीक से बब्लू पिता मोहन नामदेव उम्र 43 वर्ष निवासी रानी दुर्गावती वार्ड के पास से भारी मात्रा में गांजे की पुडिय़ा बरामद की गई थी। तीसरा प्रकरण कल दर्ज किया गया। गौरतलब है कि जिन क्षेत्रों से मादक पदार्थों के तस्करों को गिरफ्तार किया जा रहा है। उन क्षेत्रों की सूची स्थानीय लोगों और कुछ व्यापारियों द्वारा लगभग एक वर्ष पूर्व ही पुलिस अधीक्षक कार्यालय में उपलब्ध कराया जा चुका है। लेकिन न ही एसपी कार्यालय द्वारा कोई कार्रवाई की गई और न ही थाना कोतवाली द्वारा।

डाउनलोड करें पत्रिका मोबाइल Android App: https://goo.gl/jVBuzO | iOS App : https://goo.gl/Fh6jyB

Ad Block is Banned