नियम तोड़ने वाले कोचिंग संचालकों की सूची जारी, मचा हड़कंप

नियम तोड़ने वाले कोचिंग संचालकों की सूची जारी, मचा हड़कंप

Amaresh Singh | Updated: 04 Jul 2019, 01:25:59 PM (IST) Mandla, Mandla, Madhya Pradesh, India

अब कलेक्टर कार्यालय से होगी आगे की जांच

मंडला। सूरत में आग लगने से मारे गए कोचिंग के 22 छात्र-छात्राओं की मौत के बाद शहर के कोचिंग संस्थानों को अल्टीमेटम दिया गया था लेकिन एक माह का समय बीत जाने के बाद भी कोचिंग संस्थाओं के हालात नहीं बदले हैं। यही कारण है कि जिला शिक्षा कार्यालय से जिले के उन सभी कोचिंग क्लासेस की सूची कलेक्टर कार्यालय को उपलब्ध कराई गई है, जिनका संचालन जिला मुख्यालय में किया जा रहा है।

यह भी पढ़ें-मानसून की झड़ी से किसानों के खिले चेहरे, एक दिन में 22.7 मिमी बारिश

14 कोचिंग क्लासेज के नाम शामिल
सूची कलेक्टर कार्यालय तक पहुंचने से अब सभी कोचिंग क्लास के संचालकों के चेहरे पर हवाइयां उड़ रही हैं जिनके क्लास में निर्धारित मापदंडों के अनुसार, सुरक्षा के मानक उपलब्ध नहीं है। जिला शिक्षा कार्यालय ने जो सूची बनाई है उसमें 14 कोचिंग क्लासेज के नाम शामिल किए गए हैं। बताया गया है कि इनमें से Óयादातर कोचिंग संस्थान बिना पंजीयन के ही संचालित किए जा रहे हैं। कई संस्थानों ने अपने कोचिंग संस्थानों के वीआईपी और बड़े नाम रखे हैं, लेकिन उनके पास सुविधाओं के नाम पर कुछ नहीं है। ब'चों की सुरक्षा ताक पर रखी जा रही है। कोचिंग संस्थान ब'चों से लाखों रुपए की फीस जुटा रहे हैं, लेकिन उनकी मॉनिटरिंग नहीं किए जाने से वहां पढऩे वाले छात्र छात्राओं को न केवल अनेक परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है बल्कि सुरक्षा के पर्याप्त साधन नहीं होने के कारण उनमें से अनेक की जान को भी खतरा हो सकता है।

यह भी पढ़ें-इन राशि वालों का आज सोचा हुआ काम पूरा होगा, भाग्य का साथ मिलेगा

विभाग ने जारी की सूची
जिला शिक्षा कार्यालय ने जो सूची जारी की है उन कोचिंग संस्थानों में एसके साइंस कोचिंग सेंटर ङ्क्षबझिया मंडला है इसका संचालन सुरेश कुमार साहू द्वारा किया जा रहा है। संस्थान में पढऩे वाले ब"ाों की संख्या 50-60 है। कैरियर पॉइंट कोचिंग सेंटर विशाल ढाबा के पीछे बिनझिया में संचालित है, यहां 45-50 पढ़ रहे हंै। आशीष कोचिंग क्लासेज चूना भट्टा मंडला के संचालक आशीष कुमार 30-40 ब'चों को पढ़ाते हैं। जीवीएन कोचिंग सेंटर, चूना भट्टा, तसला फैक्ट्री के पास आशीष कुमार चंद्रोल द्वारा 70-80 ब'चों को, डेस्टिनेशन इंस्टीट्यूट बस स्टैंड के पीछे आनंद मसीह 30-40 विद्यार्थियों को, नेहा कोचिंग सेंटर देवदरा मंडला नेहा चंद्रौल 15-20 विद्यार्थियों को पढ़ाया जा रहा है। इसके अलावा ओम कोचिंग क्लासेस सिविल लाइंस मंडला 15-20 विद्यार्थी, शुक्ला कोचिंग क्लासेस, सान्याल स्कूल के पीछे देवदरा सतीश शुक्ला 60-70 विद्यार्थी, चौरसिया कोचिंग क्लासेस चूना भट्टा देवदरा देवेंद्र चौरसिया 40-50 विद्यार्थी, सार्थक कोचिंग क्लासेस- बस स्टैंड के पीछे - बसंत कुमार यादव 40-50 विद्यार्थी, कैवल्य अकैडमी बस स्टैंड के पीछे मंडला 30 -40 विद्यार्थी, ज्ञानम अकैडमी बस स्टैंड के पीछे अमित पाठक 50-60विद्यार्थी, गैलेक्सी इन्स्टीट्यूट, बस स्टैंड के पीछे पुनीत सिंघानिया एवं प्रताप बरकड़े 30-40विद्यार्थी, सक्सेस प्वाइंट शर्मा कैंपस जिला पंचायत के सामने सुनील पनेरिया 90-100 विद्यार्थी शामिल हैं। इस संबंध में जिला शिक्षा विभाग के जांच अधिकारी एलएस मसराम ने कहा कि कलेक्टर कार्यालय को कोचिंग संस्थानों की सूची सौंप दी गई है। निर्देशानुसार आगे की कार्रवाई की जाएगी।

 

Show More

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned