FLOOD: शिवना नदी की बाढ़ में डूबे पशुपतिनाथ, राहत शिविरों में ठहरे बाढ़ पीढ़ित

FLOOD: शिवना नदी की बाढ़ में डूबे पशुपतिनाथ, राहत शिविरों में ठहरे बाढ़ पीढ़ित

Manish Geete | Updated: 16 Aug 2019, 12:55:27 PM (IST) Mandsaur, Mandsaur, Madhya Pradesh, India

मंदसौर में लगातार बारिश से शिवना नदी उफान पर है। शिवना नदी की बाढ़ में पशुपतिनाथ का मंदिर पूरी तरह से डूब गया है और शिवलिंग भी जलमग्न हो गया। निचली बस्तियों में पानी भर जाने से बड़ी संख्या में लोगों को राहत शिविरों में पहुंचाया गया है।

मंदसौर। मंदसौर में लगातार बारिश से शिवना नदी उफान पर है। शिवना नदी की बाढ़ में पशुपतिनाथ का मंदिर पूरी तरह से डूब गया है और शिवलिंग भी जलमग्न हो गया। निचली बस्तियों में पानी भर जाने से बड़ी संख्या में लोगों को राहत शिविरों में पहुंचाया गया है। प्रशासन ने उनके खाने-पीने और ठहरने की व्यवस्था की है। प्रशासन लगातार बारिश की स्थिति पर नजर बनाए हुए हैं।


Live Updates
-नीमच जिले में 38.72 इंच हुई अभी तक बारिश। औसत से 5 इंच से अधिक हुई।
-मंदसौर में गांधीसागर का जल स्तर 1300.2 फीट तक पहुंचा।
-मंदसौर की धान मंडी क्षेत्र, खानपुरा की निचली बस्ती, पंप हाउस और शहर के कई क्षेत्रों में अब तक पानी भरा हुआ है।

- लोगों का मानना है कि शिवना नदी भगवान का अभिषेक करने पहुंचती है।

 

 

mandsaur

शिवना ने किया भगवान का जलाभिषेक
मध्यप्रदेश के मंदसौर में भारी बारिश का दौर जारी है। गुरुवार रात शिवना नदी ने भगवान पशुपतिनाथ के आठों मुखों का जलाभिषेक किया। शुक्रवार सुबह नदी का पानी कम होना शुरू हुआ है। गुरुवार रात तक निचली बस्तियों की हालत इतनी खराब हो चुकी थी कि पुलिस, प्रशासन, आम जनता के सहयोग से वहां रहने वालो को सुरक्षित स्थानों पर पहुंचाया गया।

 

यहां भी घुसा पानी
शहर के पतासी गली, बरगुंडा मोहल्ला, नीलमशाह दरगाह क्षेत्र, खानपुरा और शनि विहार इलाके में पानी घुस गया। जलभराव के कारण खानपुरा में अंजुमन स्कूल, केशव सत्संग भवन, छीपा जमातखाना में ठहरने की व्यवस्था की गई है। पताशे वाली गली, धानमंडी क्षेत्र में जलभराव की स्थिति निर्मित होने पर माहेश्वरी स्कूल, आकामोती धर्मशाला में ठहरने की व्यवस्था की गई है। इसके अलावा पशुपतिनाथ मंदिर परिसर, धोबी समाज धर्मशाला में भी लोगों के ठहराने की व्यवस्था की गई है। सीतामऊ तालाब से पानी अधिक आने के कारण खेड़ा गांव में कई घरों में पानी घुस गया है। लदुना में भी निचली बस्तियों को खाली करवाया गया।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned