पिछले साल के मुकाबले सरकार ने 1.7 फीसदी कम खरीदा गेहूं, 337 लाख टन की खरीदारी

पिछले साल के मुकाबले सरकार ने 1.7 फीसदी कम खरीदा गेहूं, 337 लाख टन की खरीदारी

Ashutosh Kumar Verma | Updated: 04 Jun 2019, 06:52:05 PM (IST) बाजार

  • इस साल सरकार ने केवल 337 लाख टन ही खरीदा गेहूं।
  • पिछले साल की थी 343 लाख टन की खरीदारी।
  • एफसीआई ने दी जानकारी।

नई दिल्ली। देशभर में गेहूं की सरकारी खरीद चालू रबी विपणन वर्ष (2019-20) में अब तक 337 लाख टन पूरी हुई है, जबकि पिछले साल इस दौरान सरकारी एजेंसियों ने किसानों से 343 लाख टन गेहूं खरीदा था। इस प्रकार पिछले साल के मुकाबले चालू सीजन में गेहूं की सरकारी खरीद 1.74 फीसदी कम हुई है। भारतीय खाद्य निगम (एफसीआई) की ओर से मंगलवार को मिली जानकारी के अनुसार, चालू सीजन में देशभर में सरकारी एजेंसियों ने अब तक 337 लाख टन गेहूं सीधे किसानों से खरीदा है, जबकि पिछले साल इसी अवधि के दौरान 343 लाख टन गेहूं की खरीद हुई थी।

इस साल दुनिया की 5वीं सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था बन जाएगा भारत, 2025 तक जापान को भी छोड़ देगा पीछे

किन राज्यों से हुई खरीदारी

एफसीआई से प्राप्त आंकड़ों के अनुसार, पंजाब में सबसे ज्यादा 129.12 लाख टन गेहूं की खरीद हुई है, जबकि पिछले साल 126 लाख टन की खरीद हुई थी। हरियाणा में सरकारी एजेंसियों ने 93.23 लाख टन गेहूं खरीदा है, जबकि पिछले साल 87 लाख टन खरीदा गया था। मध्य प्रदेश में गेहूं की खरीद 67.25 लाख टन हुई है जबकि पिछले साल प्रदेश में 69.67 लाख टन गेहूं खरीदा गया था। देश के सबसे बड़े गेहूं उत्पादक राज्य उत्तर प्रदेश में इस साल अब तक 33.79 लाख टन गेूहं की खरीद हो पाई है, जबकि पिछले साल इस दौरान 43.58 लाख टन गेहूं की सरकारी खरीद हुई थी।

संकट में पाक इकोनॉमीः 78 फीसदी प्याज आैर 46 फीसदी महंगा टमाटर खाएगी पाकिस्तानी आवाम

यूपी में अभी भी खरीद चालू

एफसीआई के सूत्रों के अनुसार, उत्तर प्रदेश में अब तक खरीद चालू है, जबकि अन्य जगहों पर खरीद तकरीबन समाप्त हो चुकी है। वहीं, राजस्थान में सरकारी एजेंसियों ने इस साल 13 लाख टन गेहूं खरीदा है जबकि पिछले साल इसी दौरान वहां 14.96 लाख टन की खरीद हुई थी। एफसीआई के आंकड़ों के अनुसार, उत्तराखंड में इस साल 41,787 टन, चंडीगढ़ में 12,450 टन, गुजरात में 4650 टन और हिमाचल प्रदेश में 1,000 टन गेहूं की सरकारी खरीद हुई है।

सरकारी बैंकों को संजीवनी देंगी नई वित्त मंत्री, बजट में 40 हजार करोड़ देने की कर सकती हैं घोषणा

सरकार ने एमएमसपी 1840 रुपए प्रति क्विंटल तय किया

केंद्र सरकार ने चालू विपणन वर्ष के लिए गेहूं का न्यनूतम समर्थन मूल्य (एमएसपी) 1,840 रुपये प्रति क्विंटल तय किया है। केंद्र सरकार ने इस साल देशभर में 357 लाख टन गेहूं खरीद का लक्ष्य रखा है, जबकि पिछले सीजन 2018-19 में सरकारी खरीद एजेंसियों ने देशभर में 357.95 लाख टन गेहूं की खरीद की थी। केंद्रीय कृषि सहाकारिता एवं किसान कल्याण मंत्रालय द्वारा फरवरी में जारी दूसरे अग्रिम उत्पादन अनुमान के अनुसार, इस साल देश में गेहूं का उत्पादन 99.12 करोड़ टन हो सकता है।

 

Business जगत से जुड़ी Hindi News के अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook पर Like करें, Follow करें Twitter पर और पाएं बाजार, फाइनेंस, इंडस्‍ट्री, अर्थव्‍यवस्‍था, कॉर्पोरेट, म्‍युचुअल फंड के हर अपडेट के लिए Download करें Patrika Hindi News App.

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned