रामदेव की बढ़ी मुश्किलें, पांच दिन में ही हो गया 1267 करोड़ रुपए का नुकसान

  • बीते पांच दिनों में करीब रुचि सोया के शेयरों में आ चुकी है 43 रुपए की गिरावट
  • शेयरों में गिरावट आने से कंपनी के मार्केट कैप में 1267 करोड़ रुपए की आई कमी

By: Saurabh Sharma

Published: 17 Feb 2021, 12:11 PM IST

नई दिल्ली। जब से योग गुरु बाबा रामदेव की कंपनी पतंजलि ने रुचि सोया का अधिग्रहण किया है तब से कंपनी का मुनाफा और शेयरों में तेजी देखने को मिली है। हाल ही में आए कंपनी के तिमाही नतीजों में आय में इजाफा देखने को मिला है। उसके बाद भी रामदेव की कंपनी रुचि सोया की मुश्किलें कम होने का नाम नहीं ले रही हैं। बीते पांच दिनों में कंपनी के शेयरों में करीब 43 रुपए की गिरावट आ चुकी है। जिसकी वजह से कंपनी के मार्केट को 1267 करोड़ रुपए का नुकसान हो गया है। आइए आपको भी बताते हैं कि आखिर कंपनी का शेयर बाजार में किस तरह से परफॉर्म कर रहा है।

यह भी पढ़ेंः- बाजार निवेशक सावधान, मार्च-अप्रैल में डूब सकता है आपका रुपया

रुचि सोया के शेयरों में गिरावट
सप्ताह में लगातार तीसरा दिन और उससे पहले गुरुवार और शुक्रवार यानी कुल मिलाकर पांच दिनों से रुचि सोया के शेयरों में गिरावट देखने को मिल रही है। आंकड़ों की मानें तो 10 फरवरी को जब बाजार बंद हुआ था तो कंपनी का शेयर प्राइस 711.85 रुपए था। जोकि आज सुबह 11 बजकर 45 मिनट पर 669 रुपए पर आ गया। यानी इस दौरान कंपनी का शेयर करीब 43 रुपए तक कम हो गया। जो कि एक बड़ी गिरावट मानी जा सकती है।

यह भी पढ़ेंः- एलन मस्क ने एक झटके में गंवाए 3,35,40,67,00,000 रुपए और छिन गई दुनिया के सबसे अमीर शख्स की कुर्सी

मार्केट कैप में गिरावट
वहीं दूसरी ओर कंपनी के शेयरों में गिरावट के कारण कंपनी के मार्केट कैप में भी गिरावट देखने को मिल रही है। 10 फरवरी को कंपनी का मार्केट कैप बाजार बंद होने तक 21059.45 करोड़ रुपए था, जोकि आज कंपनी का शेयर 669 रुपए पर आने के बाद 19,791.76 करोड़ रुपए पर आ गया। यानी इस दौरान के कंपनी के मार्केट कैप में 1267.69 करोड़ रुपए की कमी देखने को मिल चुकी है।

यह भी पढ़ेंः- रिकॉर्ड उंचाई पर पेट्रोल और डीजल के दाम, 48 दिन में 6.50 रुपए हुआ महंगा

आय में तेजी और मुनाफा में गिरावट
हाल ही में कंपनी की ओर से तिमाही नतीजे जारी किए थे। जिसके तहत चालू वित्त वर्ष की अक्टूबर-दिसंबर तिमाही में रुचि सोया इंडस्ट्रीज को 227.44 करोड़ रुपए का मुनाफा हुआ। जबकि वित्त वर्ष 2019-20 की समान अवधि में कंपनी को 7,617.43 करोड़ रुपए का मुनाफा हुआ था। वहीं तिमाही में कंपनी के आय 4,475.6 करोड़ रुपए रही जो एक साल पहले 2019-20 की तीसरी तिमाही में 3,725.66 करोड़ रुपए थी। पतंजलि आयुर्वेद ने 2019 में रुचि का अधिग्रहण 4,350 करोड़ रुपए में किया था।

Show More
Saurabh Sharma
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned