अधिकारियों ने नहीं सुनी, तो महिला बन गई वीरू, देखें वीडियो

Dhirendra yadav | Publish: May, 18 2018 09:22:23 AM (IST) | Updated: May, 18 2018 09:22:24 AM (IST) Mathura, Uttar Pradesh, India

कड़ी मशक्कत के बाद महिला को पेड़ से नीचे उतारा जा सका।

मथुरा। आपने फिल्म शोले तो देखी होगी, ऐसा ही नजारा दिखा मथुरा की छाता तहसील में। यहां अपनी फरियाद लेकर आई महिला को जब किसी अधिकारी से राहत नहीं मिली, तो वो पेड़ चढ़ गई। उसने कूदने की धमकी दी, तो अधिकारियों के होश उड़ गए। कड़ी मशक्कत के बाद महिला को पेड़ से नीचे उतारा जा सका।

ये भी पढ़ें - 600 रुपये में एक घंटा, 300 रुपये अतिरिक्त लेकर दी जा रही थी ये सुविधा...

अधिकारियों के उड़ गए होश
सोना पत्नी रघुवीर निवासी सुजावली थाना कोसी कला की निवासी है। सोना अपनी जमीन से लकड़ी दंबगों द्वारा ले जाने की शिकायत लेकर छाता तहसील पहुंची और अपने साथ हो रहे व्यवहार के बारे में अधिकारियों को अवगत कराया। जब अधिकारियों ने इस पीड़ित महिला की नहीं सुनी, तो पीड़ित महिला छाता तहसील परिसर में लगे पेड़ पर चढ़ गई। महिला को चढ़ते देख पुलिस प्रशासन और आसपास के लोग इकट्ठा हो गए। पेड़ पर चढ़ी महिला को करीब डेढ़ घंटे की कड़ी मशक्कत के बाद नीचे उतारा गया।

ये भी पढ़ें - शुक्र है शुक्रवार है, जानिए कैसा रहेगा आपका आज का दिन, इन चार राशियों के लिए हो सकती है परेशानी

ये है महिला का आरोप
महिला का आरोप है कि उसके प्लाट और मकान पर वीरपाल, रामवीर, रन्नो, सोरन पुत्रगण चुन्नी और पदमा, गिरधारी, हेमा, लखीराम, कन्ना पुत्रगण सामरे उसके प्लॉट में रखी 15 ट्रॉली पत्थर और दो ट्रॉली लकड़ियां भरकर ले गए । जब उसने विरोध किया तो इन सभी लोगों ने उसके साथ मारपीट कर दी और प्लॉट पर कब्जा कर लिया। किसी तरह महिला ने दबंगों से जान बचाई। डायल 100 को सूचना दी, मौके पर पहुंची डायल 100 ने कुछ लोगों को हिरासत में लिया और दूसरे दिन उन्हें छोड़ दिया।

ये भी पढ़ें - मेनका गांधी के बयान से उबाल, हेमराज वर्मा बोले किसान विरोध है सरकार, देखें वीडियो

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।
OK
Ad Block is Banned