मुन्‍ना बजरंगी हत्‍याकांड में पूर्व सांसद धनंजय सिंह ने पुलिस को दिया बड़ा बयान

9 जुलाई काे बागपत जेल में हुई मुन्‍ना बजरंगी की हत्‍या के मामले खेकड़ा थाने पहुंचे बसपा के पूर्व बाहुबली सांसद धनंजय सिंह

By: sharad asthana

Published: 07 Sep 2018, 11:58 AM IST

बागपत। 9 जुलाई काे बागपत जेल में हुई मुन्‍ना बजरंगी की हत्‍या के मामले में जांच चल रही है। इसको लेकर पूर्वांचल के माफिया डॉन मुन्‍ना बजरंगी की पत्‍नी सीमा सिंह के भी बयान लिए जा चुके हैं। उन्‍होंने इस मामले में जौनपुर से बसपा के सांसद रहे धनंजय सिंह पर साजिश रचने का आरोप लगाया था। इसके बाद बसपा के पूर्व सांसद धनंजय सिंह भी अपने बयान दर्ज कराने के लिए गुरुवार को थाने पहुंचे थे। वह अपने बयान दर्ज कराने के बाद गुरुवार रात करीब नौ बजे ही वापस लौट गए। इस दौरान उनकी सुरक्षा पुख्‍ता रही।

यह भी पढ़ें: मुन्‍ना बजरंगी को गोली मारने वाले सुनील राठी को इस वजह से निकाला गया फतेहगढ़ जेल से बाहर

लाव-लश्‍कर के साथ पहुंचे धनंजय सिंह

पूर्वांचल के माफिया डॉन मुन्‍ना बजरंगी की हत्‍या के मामले में बसपा के पूर्व बाहुबली सांसद धनंजय सिंह गुरुवार रात करीब 8 बजे लाव लश्कर के साथ खेकड़ा पहुंचे। सीओ वंदना शर्मा ने थाने में उनसे पूछताछ की और बयान दर्ज किए। इस दौरान पूर्व सांसद के परिवार और परिचित थाने में जमे रहे। रात करीब 9 बजे वह अपने बयान दर्ज कराके वापस चले गए।

यह भी पढ़ें: Special- किसी मंत्री से कम नहीं है इस कुख्‍यात की सिक्‍योरिटी, बुलेटप्रूफ जैकेट पहने जवान तैनात रहते हैं सुरक्षा में

रंगदारी मांगने के मामले में बागपत लाया गया था मुन्‍ना बजरंगी को

आपे बता दें क‍ि 8 जुलाई को मुन्‍ना बजरंगी को पूर्व विधायक से रंगदारी मांगने के मामले में बागपत जिला कारागार में लाया गया था। 9 जुलाई की सुबह मुन्‍ना बजरंगी की गोलियां बरसाकर हत्‍या कर दी गई थी। इस मामले में वेस्‍ट यूपी के कुख्‍यात सुनील राठी पर हत्‍या करने का आरेाप लगा था। सुनील राठी ने पूछताछ में अपना जुर्म भी कबूला था। वहीं, मुन्‍ना बजरंगी की पत्नी सीमा सिंह ने पूर्व बाहुबली सांसद धनंजय सिंह पर साजिश रचने का आरोप लगाया था।

यह भी पढ़ें: पूर्व DGP सुलखान सिंह ने किया बड़ा खुलासा, इस वजह से जेल में हुई मुन्ना बजरंगी ही हत्या

धनंजय सिंह ने कहा- हत्‍याकांड से कोई लेना-देना नहीं

इस मामले में पूर्व सांसद धनंजय सिंह का कहना है क‍ि उनका इस हत्‍याकांड से कोई लेना-देना नहीं है। उन्‍हें सियासी षड्यंत्र के तहत फंसाया गया है। वहं यहां अपना पक्ष रखने के लिए ही आए थे। इसके अलावा उन्हें इस मामले में कुछ नहीं कहना है।

यह भी पढ़ें: मुन्ना बजरंगी हत्याकांड में बड़ा खुलासा, जांच में इन पांच अधिकारियों के नाम आए सामने

Show More
sharad asthana
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned