महिला ने बेटे को दिया जन्म लेकिन अस्पताल ने सौंप दी बेटी, अब डीएनए से सामने आएगा सच

Highlights:

-प्रसूता ने जन्मा लड़का, नर्स ने परिजनों के बेटा बताकर गोद में डाली बेटी

-बच्चा बदलने को लेकर जिला अस्पताल में हंगामा

-डीएनए टेस्ट से सामने आएगा सच

-अस्पताल के कागजों में भी बेटा ही दर्ज

By: Rahul Chauhan

Published: 09 Jan 2021, 10:37 AM IST

पतरिका न्यूज नेटवर्क

मेरठ। जिला अस्पताल में शुक्रवार की रात उस समय हंगामा खड़ा हो गया जब एक महिला ने लड़के को जन्म दिया और नर्स ने बेटे की बधाई देते हुए परिजनों के गोद में बेटी को सौंप दिया। बच्चा बदलने का आरोप लगाकर प्रसूता के परिजनों ने अस्पताल में जमकर हंगामा किया। हंगामे की बीच बात डीएनए जांच तक जा पहुंची। बच्चे के पिता ने अस्पताल प्रशासन पर बच्चा बदलने का आरोप लगाते हुए हंगामा किया। इस पर अस्पताल प्रशासन भी डीएनए जांच के लिए तैयार हो गया। अस्पताल के रिकार्ड में भी बेटा ही दर्ज किया गया है। मामला अब थाने तक जा पहुंचा है।

दरअसल, थाना रोहटा क्षेत्र के गांव रसूलपुर जाहिद निवासी शाहरुख ने पत्नी शाहना को प्रसव के लिए रोहटा के सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में भर्ती कराया था। उसके बाद उसको जिला अस्पताल में भर्ती करा दिया गया। करीब 11 बजे बच्चा हुआ तो स्टाफ ने बेटा बताया। बच्चे की तबीयत खराब होने की बात कहते हुए उसे नर्सरी में भर्ती करा दिया था। कागजों में भी बेटा ही लिखा गया था। शाहरुख ने बताया कि स्टाफ ने बेटा होने पर इनाम भी लिया था। परिजनों को बेटा होने की बधाई दी जाती रही।

यह भी देखें: पुलिस बनी सहारा, पति पत्नी ने शुरू किया नया जीवन

शुक्रवार को रात कर्मचारियों ने बेटी को गोद में थमा दिया। उन्होंने बेटा होने की जानकारी दी। इस पर स्टाफ ने कहा कि गलती से बेटा बता दिया था। इस पर परिजनों ने अस्पताल में हंगामा कर दिया। चिकित्सक भी पहुंच गए और परिजनों को समझाने का प्रयास किया। अस्पताल में हंगामे की स्थिति बनी रही। सूचना पर देहली गेट थाना पुलिस भी पहुंच गई और लोगों को समझा-बुझाकर शांत किया।

यह भी पढ़ें: गजब! बिल्डिंग मटेरियल सप्लाई कर ऐसे लगा रहे थे चूना, ट्रेडर्स के 1721 विजिटिंग कार्ड देख पुलिस भी हैरान

थाना प्रभारी ने बताया कि अभी लिखित शिकायत नहीं मिली है। प्राथमिक जांच में पता चला कि एक बजे से पहले दो प्रसव हुए थे। जिनमें एक बेटी भी हुई थी। शाहरुख की पत्नी का प्रसव भी एक बजे से पहले हुआ था। सही स्थिति का पता डीएनए टेस्ट से ही लगेगा। वहीं, शाहरुख ने बताया कि चिकित्सकों ने भी अब डीएनए टेस्ट कराने की बात कही है। शनिवार को नमूने लेने के लिए कहा है। वहीं मामले को लेकर अस्पताल में गहमागहमी है। बता दे कि बच्चा बदलने का यह कोई नया मामला नहीं है। इससे पहले भी जिला अस्पताल में बच्चा बदले जाने की घटनाएं होती रही हैं।

Show More
Rahul Chauhan
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned