विश्वविद्यालय कैंपस से पढ़ाई करके लौट रही छात्रा का अपहरण करने के बाद सामूहिक दुष्कर्म

Highlights

  • गढ़मुक्तेश्वर थाने में चार आरोपी युवकों के खिलाफ मामला दर्ज
  • सीसीएसयू कैंपस से पढ़ाई करने के बाद घर लौट रही थी छात्रा
  • पुलिस की ताबड़तोड़ दबिश में कई युवक हिरसात में लिए गए

 

मेरठ। चौधरी चरण सिंह विश्वविद्यालय कैंपस से पढ़ाई करने के बाद घर लौट रही छात्रा के साथ हैवानियत का सनसनीखेज मामला सामने आया है। आरोप है कि मेरठ के गढ़ रोड पर चारों युवकों ने छात्रा का अपहरण कर लिया और स्याना क्षेत्र के मकान में ले जाकर उसके साथ दुष्कर्म किया। गढ़ मुक्तेश्वर में चार युवकों के खिलाफ अपहरण और सामूहिक दुष्कर्म का मामला दर्ज किया गया है। छात्रा को मेडिकल कालेज अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

यह भी पढ़ेंः दुष्कर्म आरोपी को नहीं पकड़ने से क्षुब्ध पीड़िता ने की आत्महत्या, ग्रामीणों का गुस्सा फूटा, इंस्पेक्टर लाइन हाजिर

गढ़ मुक्तेश्वर के व्यापारी की 20 वर्षीय बेटी सीसीएसयू मेरठ कैंपस से पढ़ाई कर रही है। गुरुवार को क्लास करने के बाद वह बस से घर जा रही थी। बताते हैं कि मउखास के पास उसकी परिजनों से बातचीत भी हुई थी। इसके बाद उसका मोबाइल स्विच आफ हो गया। परिजनों ने इसकी सूचना पुलिस थाने में दी। पुलिस को छात्रा के मोबाइल की लोकेशन स्याना क्षेत्र के गांव चांदपुर पूठी में मिली। पुलिस ने उसे यहां एक मकान में बेहोशी की हालत में बरामद किया। उसे मेडिकल कालेज अस्पताल में भर्ती कराया गया, उसके शरीर पर गंभीर चोट के निशान हैं।

यह भी पढ़ेंः VIDEO: मेरठ में स्टेयरिंग फेल होने के बाद डिवाइडर तोड़कर कार से जा भिड़ा ट्रक, दो की मौत, एक घायल

छात्रा के पिता ने चार युवकों के खिलाफ गढ़ मुक्तेश्वर थाने में मुकदमा दर्ज कराया है। पुलिस के अनुसार प्रियांश निवासी चांदपुर पूठी, थाना स्याना बुलंदशहर, आकाश निवासी हापुड़, सुमित निवासी हापुड़ और सोनी निवासी हापुड़ के खिलाफ अपहरण, मारपीट और सामूहिक दुष्कर्म की धारा में केस दर्ज कर लिया गया है। पुलिस ने दबिश देते हुए कई लोगों को हिरासत में लिया है। पुलिस को छात्रा ने बताया कि उसे मउखास तक तो पता था, उसके बाद उसे पता नहीं क्या हुआ।

यह भी पढ़ेंः VIDEO: चढ़त के समय हुई हर्ष फायरिंग में बच्चे को लगी गोली, हालत गंभीर

अंदेशा है कि कोई आरोपी छात्रा के साथ बस में सवार था। उसे नशीला पदार्थ सुंघाया और उसे बस से उतार लिया गया। उसके बाद उसका अपहरण किया गया। आरोपी कार से उसे चांदपुर पूठी ले गए। जब उसे होश आया तो वह प्रियांश को मिली, उसे वह पहले से जानती थी। उसके मुंह में कपड़ा ठूंसकर दरिंदगी की गई। विरोध करने पर बेल्ट और लात-घूंसों से पीटते रहे। आईजी प्रवीण कुमार का कहना है कि पुलिस ने मुकदमा दर्ज कर मेडिकल परीक्षण करा दिया है। आरोपियों के कुछ रिश्तेदारों व परिवार के लोगों को हिरासत में लिया गया है। जल्द ही आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया जाएगा।

sanjay sharma Desk/Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned