यह गैंग र्इ-रिक्शा में बैठकर करता था वारदातें, मुठभेड़ में पकड़ा गया

मेरठ में र्इ-रिक्शा लूटने के गैंग के तीन बदमाश पकड़े

By: sanjay sharma

Published: 29 Mar 2018, 05:55 PM IST

मेरठ। पुलिस जहां बदमाशों को लुटेरों को पकड़ने के लिए प्रतिदिन नए हथकंडे अपनाती है। वहीं बदमाश भी पुलिस को चकमा देने और वारदात में पकड़े न जाने के लिए तरह-तरह के उपाय अपनाते हैं। कहते हैं अगर खाकी अपना काम ईमानदारी से करे तो पुलिस और कानून की गिरफ्त से भला बचा कौन है। मेरठ पुलिस के हाथ लूट करने वाला एक ऐसा गिरोह हत्थे चढ़ा, जो ई-रिक्शा चालकों को नशीला कोल्ड ड्रिंक पिलाकर उनको लूटने का काम करता था। मजे की बात ये लुटेरा गिरोह वारदात के समय मोबाइल का प्रयोग नहीं करता था और न ही मोबाइल को अपने साथ रखता था।

यह भी पढ़ेंः चार महीने पहले भाजपा के इस कद्दावर नेता ने दी थी यह सलाह, इस पर काम नहीं हुआ तो मिल रही हार!

मुठभेड के दौरान किया गिरफ्तार

पल्लवपुरम पुलिस ने मुठभेड़ के दौरान शातिर किस्म के ई-रिक्शा लुटेरों को मुठभेड़ के दौरान गिरफ्तार किया है। पुलिस ने इनके पास से लूटी हुइ तीन ई-रिक्शा और एक तमंचा और दो चाकू बरामद किए हैं। एसपी सिटी मान सिंह चौहान ने बताया कि मुखबिर से मिली सूूचना के आधार पर जटौली फ्लाईओवर के नीचे से पुलिस मुठभेड़ में तीन शातिर अपराधियों को गिरफ्तार किया। पकड़े गए लोगों से पूछताछ में चौंकाने वाली जानकारी मिली।

यह भी पढ़ेंः बिजली के निजीकरण को लेकर हड़ताल, कहा- निजीकरण किसी कीमत पर स्वीकार नहीं

र्इ-रिक्शा किराए पर लेकर करते थे वारदात

सरगना जावेद ने बताया कि वे लोग ई-रिक्शा किराए पर करते थे और अपने साथ नशीली कोल्ड ड्रिंक की बोतल रखते थे। रिक्शा चालक को वे अपनी बातों में लगाकर उससे मेल-जोल बढ़ाते थे और इसी दौरान उसे नशीला कोल्डड्रिक पिलाते थे। जिस पर चालक बेहोश हो जाता था और वे लोग उसे कहीं भी सुनसान जगह पर फेंककर रिक्शा अपने साथ ले जाते थे। पुलिस ने जिन अभियुक्तों को गिरफ्तार किया उनके नाम है सुल्तान निवासी समर गार्डन, जावेद निवासी श्यामनगर और इमरान निवासी श्यामनगर। पुलिस ने गिरफ्तार अभियुक्तों को जेल भेज दिया।

यह भी पढ़ेंः जाम से निजात के लिए इस शहर में किया जा रहा यह काम

sanjay sharma
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned