scriptImpact of Jayant's alliance with BJP from West UP to Rajasthan-Haryana | जयंत का बीजेपी से गठबंधन पर वेस्ट यूपी से राजस्‍थान–हरियाणा तक असर, खापों ने सुनाया फरमान | Patrika News

जयंत का बीजेपी से गठबंधन पर वेस्ट यूपी से राजस्‍थान–हरियाणा तक असर, खापों ने सुनाया फरमान

locationमेरठPublished: Feb 10, 2024 04:42:22 pm

Submitted by:

Upendra Singh

भाजपा और रालोद में गठबंधन से पश्चिमी यूपी के सभी लोकसभा सीटों पर सीधा असर पड़ेगा। दोनों के गठबंधन का खाप पंचायतों ने भी अपना समर्थन दे दिया है।

chaudhary.jpg
जयंत चौधरी।
भाजपा और रालोद के गठबंधन से राजनीतिक समीकरण पूरी तरह से बदल जाएंगे। पहले चुनावों में जाट समाज भाजपा और रालोद में बटा, लेकिन गठबंधन से रालोद मजबूत होगी। इसका सीधा असर लोकसभा चुनाव में ‌दिखेगा।
खाप पंचायतों ने जयंत को दिया अपना समर्थन
पश्चिमी यूपी में खाप पंचायतों के प्रभावशाली नेताओं ने राष्ट्रीय लोकदल यानी RLD प्रमुख जयंत चौधरी के एनडीए में शामिल होने की खबर पर अपना समर्थन दिया है। किसानों के बड़े नेता चौधरी चरण सिंह को भारत रत्न से सम्मानित किए जाने के बाद हर कोई बीजेपी सरकार की तारीफ कर रहा है।
बड़े किसान नेताओं ने रालोद को अपना समर्थन दिया
पिछले कई दिनों से जयंत चौधरी के NDA गठबंधन में जाने के संकेत मिल रहे हैं। खाप पंचायतों के समर्थन के बाद तो इस गठबंधन का होना लगभग पक्का ही समझा जा रहा है। खाप पंचायतों के समर्थन के बाद तो रालोद और भाजपा का गठबंधन का होना लगभग पक्का ही समझा जा रहा है। बड़े किसान नेताओं का भाजपा और रालोद गठबंधन को समर्थन देना आने वाले चुनावों में महत्वपूर्ण भूमिका निभा सकता है।
लोकसभा चुनाव में रालोद मिलेगा फायदा
जाट समाज मोदीनगर विधानसभा के साथ बागपत लोकसभा बड़ी भूमिका निभाते हैं। पहले हुए चुनावों में जाट समाज भाजपा और रालोद में बटा, लेकिन गठबंधन में रालोद मजबूत होगी। इसका असर आने वाले विधानसभा चुनाव में भी देखने को मिलेगा। साल 2027 में मोदीनगर विधानसभा पर चुनाव जीतना सत्ताधारी दल के लिए आसान नहीं होगा। रालोद और भाजपा के गठबंधन को खाप नेताओं के समर्थन से यह माना जा रहा है। इसका लाभ दोनों दलों को राजस्‍थान और हरियाणा में भी मिलेगा। किसान आंदोलन के बाद से किसान बीजेपी से नाराज चल रहे थे, लेकिन रालोद, बीजेपी के गठबंधन और चौधरी चरण सिंह को भारत रत्न दिए जाने से यह नाराजगी खत्म मानी जा रही है।
विपक्ष के नेतओं में बेचैनी बढ़ी
सत्तादल के नेताओं में बेचैनी है। उनके चेहरे पर पेरशानी दिख रही है। शीर्ष नेतृत्व के फैसले को सही बताते हुए अपना पल्ला झाड़ रहे हैं। बागपत लोकसभा से पिछले दस साल से डॉ. सत्यपाल सिंह सांसद हैं। इससे पहले यहां चौधरी अजित सिंह यहां के सांसद थे। वर्तमान में बागपत लोकसभा में पांच विधानसभा हैं, जिसमें मोदीनगर, सिवालखास, छपरौली, बागपत व बड़ौत हैं। सूत्रों की मानें तो मोदीनगर की राजनीति के कई कद्दावर नेता कुछ दिन में रालोद का दामन थाम सकते हैं।
खाप ने चौधरी चरण सिंह को भारत रत्न दिए जाने की सराहना की
चौधरी चरण सिंह को भारत रत्न देने पर बलियान खाप के प्रमुख नरेश टिकैत ने मोदी सरकार की प्रशंसा की है। संजय कलखंडे ने किसानों के कल्याण के लिए लंबे समय चले आ रहे प्रतिबद्धता की तारीफ की है। संजय कलखंडे 'कलखंडे' खाप के प्रमुख हैं। सजंय कलखंडे ने कहा कि यह ये परिवार ने पहली बार पाला नहीं बदला है। उन्होंने हमेशा किसानों के हितों को प्राथमिकता दी है। खटीसा खाप के प्रमुख सूरज मल ने भी चौधरी चरण सिंह को भारत रत्न देने की सराहना की है।

ट्रेंडिंग वीडियो