मेरठ अपहरण कांड: ट्रांसपाेर्टर का बेटा 9.31 लाख रुपये कैश के साथ दिल्ली से सकुशल बरामद

Highlights

  • सौतेली मां से परेशान हाेकर 9वीं के छात्र ने रची थी अपने अपहरण की साजिश
  • घर से जाते समय साथ ले गया था 9.31 लाख रुपए
  • मेरठ पुलिस टीम ने दिल्ली से बच्चे को किया बरामद

 

By: shivmani tyagi

Updated: 03 Nov 2020, 08:55 PM IST

पत्रिका न्यूज नेटवर्क

मेरठ। ट्रांसपोर्टर के अपह्त बेटे काे एटीएफ ने दिल्ली से सकुशल बरामद कर लिया है। इसके पास से पुलिस ने 9.31 लाख रुपये भी बरामद किए हैं। प्रथमिक पूछताछ में यह बात सामने आई है कि सौतेली मां और पिता की प्रताड़ना से परेशान हाेकर बच्चे ने अपने ही अपहरण की साजिश रची थी। घटना के खुलासे पर पुलिस टीम को एक लाख रुपये का इनाम दिए जाने की घाेषणा की गई है।

यह भी पढ़ें: MLC Election: स्नातक एवं शिक्षक निर्वाचन क्षेत्रों के लिए अधिसूचना जारी, देखें पूरी लिस्ट

शास्त्री नगर के सेक्टर 12 में रहने वाले मोहम्मद आसिफ का हापुड़ में ट्रांसपोर्ट का काम है। सोमवार को आसिफ के पिता हसरत अली की तबीयत अचानक बिगड़ गई थी। हजरत अली किठौर के राधना गांव में रहते हैं। रोजाना की तरह आसिफ अली ट्रांसपोर्ट पर गए हुए थे। उसी समय उनकी पत्नी एक बेटे को लेकर राधना चली गई। घर पर आसिफ अली का छोटा बेटा 15 वर्षीय आरिफ और 13 वर्षीय बेटी आयशा मौजूद थी। आयशा ने पुलिस को बताया कि दोपहर को खेलते हुए मकान की छत पर चली गई थी। उस समय आरिफ नीचे खेल रहा था जाे अचानक गायब हाे गया। दोपहर को करीब 1:45 बजे अचानक आसिफ के मोबाइल पर एक मैसेज आया जिसमें 50 लाख की रंगदारी मांगी गई। जब मैसेज आया ताे फाेन आसिफ की बेटी आयशा के पास था। मैसेज को देखकर आयशा ने पिता को मामले की जानकारी दी। उसके बाद आसिफ समेत परिवार के अन्य सदस्य घर पहुंचे तब मामले की जानकारी पुलिस को दी गई।

यह भी पढ़ें: संभल: नई दुल्हन का जोरदार स्वागत कर सोए थे लोग, रात में छत गिरने से तीन की मौत, 10 घायल

अपहरण की सूचना पर एसपी सिटी नौचंदी थाना पुलिस और आसपास के कई थानों की पुलिस मौके पर पहुंची। ट्रांसपोर्टर आरिफ ने दो महीने पहले ही दूसरी शादी की थी। पहली पत्नी की मौत हो चुकी है और उससे दो बच्चे हैं। घर से भागे छात्र ने बताया की उसकी सौतेली मां बहुत प्रताड़ित करती है इस कारण से वो भाग गया था। मेरठ एसएसपी का कहना है कि प्रथम दृष्टया पूरा मामला बच्चे के घर से भागने का सामने आ रहा है फिर भी इस मामले की जांच की जा रही है। उन्हाेंने कहा कि पुलिस की प्राथमिकता बच्चे काे सकुशल बरामद करने की थी जाे पुलिस टीम ने कर लिया है। अगर इस मामले में कुछ और तथ्य सामने आएंगे ताे उनके आधार पर भी कार्रवाई की जाएगी।

shivmani tyagi
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned