scriptNewly married from Meerut kidnap and tried to convert in Bulandshahr | मेरठ से नवविवाहित का अपहरण कर बुलंदशहर में मतांतरण का प्रयास, पुलिस ने थाने से आरोपी छ़ोड़ा | Patrika News

मेरठ से नवविवाहित का अपहरण कर बुलंदशहर में मतांतरण का प्रयास, पुलिस ने थाने से आरोपी छ़ोड़ा

मेरठ की नवविवाहिता का अपहरण कर बुलंदशहर में मतांतरण का प्रयास किया जा रहा था। विवाहिता के परिजनों ने इस संबंध में पुलिस को जानकारी भी दी। लेकिन मेरठ पुलिस की सुस्ती देख परिजन खुद ही बुलंदशहर पहुंच गए और वहां से नवविवाहिता को मस्जिद के भीतर से बरामद कर लिया। परिवार के लोगों की मदद से पुलिस ने आरोपी और उसके परिजनों को पकड़ लिया। लेकिन उनको मेरठ में लाकर छोड़ दिया। विवाहिता के परिजनों ने थाना पुलिस पर आरोप लगाए हैं।

मेरठ

Published: June 19, 2022 07:15:41 pm

मेरठ के थाना परतापुर क्षेत्र से एक नवविवाहिता का अपहरण का बुलंदशहर ले जाया गया। जहां पर उसका मस्जिद में मतांतरण कराया जा रहा था। विवाहिता के परिजन लोगों की मदद से मस्जिद पहुंचे और मतांतरण को रूकवा दिया। इसी बीच पुलिस भी पहुंची और आरोपी के साथ ही उसके परिजनों को पकड़कर मेरठ परतापुर थाने ले आई। परिजनों ने नवविवाहिता को बरामद कर लिया और उसे भी मेरठ ले आए। मामला दो संप्रदाय का होने के बावजूद पुलिस ने आरोपी तो को थाने से छोड़ दिया। इसकी जानकारी जब परिजनों को लगी तो उन्होंने थाने पहुंचकर जमकर हंगामा किया।
मेरठ से नवविवाहित का अपहरण कर बुलंदशहर में मतांतरण का प्रयास, पुलिस ने थाने से आरोपी छ़ोड़ा
मेरठ से नवविवाहित का अपहरण कर बुलंदशहर में मतांतरण का प्रयास, पुलिस ने थाने से आरोपी छ़ोड़ा
आज परिजन इस मामले में एसएसपी से मिले। एसएसपी ने पूरे प्रकरण की जांच कर कार्रवाई का भरोसा दिलाया है। वहीं पीड़ित परिजनों ने पुलिस पर एक लाख वसूलने का आरोप लगाया। परतापुर थाना क्षेत्र की रहने वाली नवविवाहिता 15 जून को घर से बाहर सामान लेने गई थी। आरोप है कि बुलंदशहर के रहने वाले नुरू और आसिफ उसे कार में अपहरण कर ले गए। परिवार के लोगों ने परतापुर थाने में आरोपियों के खिलाफ अपहरण का मुकदमा दर्ज कराया। परिवार की मदद से पुलिस ने बुलंदशहर की एक मस्जिद से आरोपी और नवविवाहिता को बरामद कर लिया।
यह भी पढ़े : rape in meerut : फौजी ने इंस्टाग्राम पर बीए की छात्रा से पहले की दोस्ती फिर शादी का झांसा दे किया दुष्कर्म

परिवार का आरोप है कि आरोपी बुलंदशहर की जिस मस्जिद से नवविवाहिता को बरामद किया गया उसमें उसका मतांतरण कराया जा रहा था। नवविवाहिता को बरामद कर उसके बयान दर्ज किए जा रहे हैं। इसी बीच पुलिस ने आरोपियों को छोड़ दिया। पुलिस पर वसूली का आरोप लगाते हुए नवविवाहिता के परिजनों ने थाने पर हंगामा किया। वहीं इस मामले में एसपी सिटी विनीत भटनागर का कहना है कि पूरे मामले में विस्तार से जांच की जा रही है। साथ ही आरोपी को गिरफ्तार कर जेल भेजा जाएगा। वहीं परिजन इस माले में एसएसपी से मिले हैं। एसएसपी प्रभाकर चौधरी ने जांच कर कार्रवाई का अश्वासन दिया है।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Weather. राजस्थान में आज 18 जिलों में होगी बरसात, येलो अलर्ट जारीसंस्कारी बहू साबित होती हैं इन राशियों की लड़कियां, ससुराल वालों का तुरंत जीत लेती हैं दिलशुक्र ग्रह जल्द मिथुन राशि में करेगा प्रवेश, इन राशि वालों का चमकेगा करियरउदयपुर से निकले कन्हैया के हत्या आरोपी तो प्रशासन ने शहर को दी ये खुश खबरी... झूम उठी झीलों की नगरीजयपुर संभाग के तीन जिलों मे बंद रहेगा इंटरनेट, यहां हुआ शुरूज्योतिष: धन और करियर की हर समस्या को दूर कर सकते हैं रोटी के ये 4 आसान उपायछात्र बनकर कक्षा में बैठ गए कलक्टर, शिक्षक से कहा- अब आप मुझे कोई भी एक विषय पढ़ाइएUdaipur Murder: जयपुर में एक लाख से ज्यादा हिन्दू करेंगे प्रदर्शन, यह रहेगा जुलूस का रूट

बड़ी खबरें

Eknath Shinde Property: मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे से 12 गुना ज्यादा अमीर हैं शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे, जानें किसके पास कितनी संपत्तिपश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री के आवास में घुसने वाले शख्स ने परिसर को समझ लिया था कोलकाता पुलिस का मुख्यालयबीजेपी नेता कपिल मिश्रा को मिली जान से मारने की धमकी, ईमेल में लिखा - 'हम तुम्हें जीने नहीं देंगे'हैदराबाद के एक कार्यक्रम में भाग लेने पहुंचे RCP सिंह तो BJP में शामिल होने की लगने लगी अटकलें, भाजपा ने कही ये बातप्रदेश के भोपाल, इंदौर समेत 11 नगर निगमों में मतदान 6 को, चुनावी शोर थमाकानपुर मेट्रो: टनल बनाने का काम शुरू, देश को समर्पित करने के विषय में मिली ये जानकारीउदयपुर कन्हैया हत्याकांड का वीडियो सोशल मीडिया पर पोस्ट करने पर युवक गिरफ्तारवरिष्ठता क्रम सही करने आरक्षकों की याचिका पर विभाग को 21 दिन में निर्णय लेने का आदेश
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.