फोटोग्राफी की आड़ में बनाते थे 'आधार’, कार्ड जारी करते थे कंम्प्यूटर इंजीनियर, जानिए पूरा मामला

फोटोग्राफी की आड़ में बनाते थे 'आधार’, कार्ड जारी करते थे कंम्प्यूटर इंजीनियर, जानिए पूरा मामला

Sanjay Kumar Sharma | Updated: 09 Oct 2019, 07:38:36 PM (IST) Meerut, Meerut, Uttar Pradesh, India

Highlights

  • मेरठ के भावनपुर क्षेत्र का सनसनीखेज मामला
  • पुलिस ने छापे में दो पकड़े, एक आरोपी हुआ फरार
  • आरोपियों के पास से काफी संख्या में फर्जी कार्ड मिले

मेरठ। मेरठ के भावनपुर क्षेत्र में फोटोग्राफी की आड़ में फर्जी आधार कार्ड बनाने का भंडाफोड़ किया गया है। पुलिस ने दो आरोपियों को गिरफ्तार किया है, जबकि एक फरार हो गया। पुलिस ने कार्ड बनाने के लिए उपयोग में लाए जा रहे उपकरण भी बरामद किए हैं।

यह भी पढ़ेंः एसएसपी आफिस में पहुंचकर बोला- साहब, मैं 25 हजार का इनामी बदमाश शादाब हूं, मुझे जेल भेज दो, नहीं तो...

भावनपुर के गांव हसनपुर कदीम में पुलिस ने फर्जी आधार कार्ड बनाने का पर्दाफाश किया है। गांव का ही लोकेश फोटोग्राफी की आड़ में फर्जी आधार कार्ड बनाने का काम करता था। सीओ अखिलेश भदौरिया ने बताया कि लोकेश ने अपने पास असलम और सलीम को कंम्प्यूटर इंजीनियर के तौर पर रखा हुआ था। दोनों ही आधार कार्ड जारी करते थे। भावनपुर पुलिस ने जब छापा मारा तो सलीम कुछ सामान उठाकर ले गया, जबकि लोकेश और असलम को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया। दोनों के पास से काफी संख्या में फर्जी आधार कार्ड बरामद किए गए हैं। साथ ही एक कैमरा, प्रिंटर, लैपटाप और अन्य उपकरण भी कब्जे में ले लिए।

UP News से जुड़ी Hindi News के अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Uttar Pradesh Facebook पर Like करें, Follow करें Twitter पर ..

Show More
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned