योगी सरकार के खिलाफ आंदोलन के लिए सपा ने बनाया ये खास प्लान

15 जुलाई को प्रदेश के सभी ब्लॉक मुख्यालयों में सपा करेगी प्रदर्शन, पंचायत चुनाव में भाजपा सरकार पर सरकारी मशीनरी के दुर्व्यवहार का आरोप।

By: lokesh verma

Published: 12 Jul 2021, 03:36 PM IST

पत्रिका न्यूज नेटवर्क
मेरठ. उत्तर प्रदेश विधान सभा चुनाव 2022 की आहट अब सुनाई देने लगी है। पंचायत चुनाव की समाप्ति के बाद अब सभी दल 2022 की तैयारी में जुट गए हैं। इस कड़ी में उत्तर प्रदेश की प्रमुख विपक्षी पार्टी सपा योगी सरकार के खिलाफ आक्रामक होते हुए बड़े आंदोलन की तैयारी में जुट गई है। आगामी 15 जुलाई को सपा प्रदेश के सभी जिलों के ब्लॉक मुख्यालय पर प्रदर्शन की तैयारी कर रही है। सपा का आरोप है कि भाजपा ने जिला पंचायत और ब्लॉक प्रमुखों के चुनाव में कथित तौर पर धांधली की और समाजवादी पार्टी प्रत्याशियों के साथ मारपीट की है। इतना ही नहीं सपा ने इन चुनाव में महिलाओं के साथ भी दुर्व्यवहार का आरोप लगाया है।

यह भी पढ़ें- यूपी में तीन दशक बाद जमीनी स्तर पर खड़ी हुई कांग्रेस कार्यकर्ताओं की फौज, ब्लॉक और न्याय पंचायत स्तर पर संगठन सक्रिय

सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव ने इसके लिए पार्टी के पदाधिकारियों से तैयारी में जुट जाने को कहा है। सपा के जिलाध्यक्ष राजपाल सिंह ने बताया कि योगी सरकार में लोकतंत्र नाम की कोई चीज नहीं रह गई है। ब्लॉक प्रमुखों के चुनाव में सरकारी मशीनरी का दुरुपयोग कर प्रत्याशियों और कार्यकर्ताओं को दौड़ा-दौड़ाकर पीटा गया है। उन्होंने बताया कि कई स्थानों पर चुनाव में बीजेपी समर्थकों ने पुलिस की मौजूदगी में पार्टी प्रत्याशी उनके बीडीसी सदस्यों पर हमला किए हैं। वाहनों में तोड़फोड़ की गई है। इसके बावजूद पुलिस ने पार्टी के कार्यकर्ताओं पर लाठियां बरसाई हैं।

उन्होंने बताया कि चुनाव से एक दिन पहले उरई के एट में पार्टी प्रत्याशी के समर्थक बीडीसी सदस्यों पर बीजेपी के लोगों ने हमला किया। मारपीट कर सदस्यों को उठाए जाने की कोशिश की गई थी। जिलाध्यक्ष का आरोप है कि ब्लॉक प्रमुख चुनाव जबरन जीतने को बीजेपी के गुंडों ने सारी हदें पार करते हुए मारपीट की है। महिलाओं को भी नहीं बख्शा गया। एसपी कार्यकर्ताओं को ही पुलिस ने बंद कर प्रताड़ित किया गया। उन्होंने बताया कि नारी के सम्मान में अब पार्टी 15 जुलाई से जिले से लेकर तहसील मुख्यालयों में सरकार के खिलाफ आंदोलन कर राज्यपाल को ज्ञापन भेजेगी। आंदोलन में पार्टी के सभी मोर्चे के पदाधिकारी, नवनिर्वाचित ब्लॉक प्रमुख, प्रधान और जिला पंचायत सदस्यों के अलावा बड़ी संख्या में कार्यकर्ता शामिल होंगे।

आंदोलन के बहाने सपा की अब 2022 के चुनाव की तैयारी

ब्लॉक प्रमुख चुनाव में हुई हिंसा और धांधली को लेकर अब समाजवादी पार्टी आन्दोलन के बहाने में 2022 के विधानसभा चुनाव की तैयारी में जुट गई है। इस मुद्दों को लेकर पार्टी जनता के बीच आन्दोलन के जरिए बीजेपी की सरकार को घेरेगी। इसीलिए 15 जुलाई को होने वाले सरकार के खिलाफ आन्दोलन में भारी भीड़ जुटाने का प्लान बनाया गया है।

यह भी पढ़ें- सीएम आवास पर जनता दर्शन शुरू, जनता सीएम योगी से मिली, परेशानी कही और खिलखिलाते हुए घर लौटे

lokesh verma
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned