पुलवामा की दूसरी बरसी: सेना ने जारी किया बेहद भावुक वीडियो, नम हो जाएगी हर देशवासी की आंखें !

  • साल 2019 में सीआरपीएफ काफिले पर हुआ था हमला
  • इस हमले में 40 जवानों की गई थी जान
  • इस दर्दनाक हमले की आज है दूसरी बरसी

नई दिल्ली। 14 फरवरी, 2019 को पुलवामा में सीआरपीएफ के काफिले पर आतंकियों ने हमला किया गया था। इस हमले में सीआरपीएफ के 40 जवान देश के लिए शहीद हो गए थे। इस हमले के पीछे आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद का हाथ बताया गया गया था।

इस घटना के बाद भारत ने बदला लेने के लिए पाकिस्तान के बालाकोट स्थित जैश कैंप को उड़ा दिया था लेकिन असल सच्चाई तो ये है कि हर एक हिंदुस्तानी के दिल में आज भी पुलवामा का जख्म ताजा हैं। आज यानी 14 फरबृवरी को इस दर्दनाक हमले की दूसरी बरसी है। इस मौके पर भारतीय सेना ने इस पूरी घटना की कहानी को बयां करने वाला बेहद भावुक वीडियो जारी किया है।

पुलवामा हमले की दूसरी बरसी आज, शहीद के परिजनों को अभी भी वादे पूरे होने का इंतजार

pulwama-terror-attack.jpg

वीडियो में दिखाई गई पुलवामा की पूरी कहानी

इस वीडियो के चिनार कॉर्प्स के ट्विटर हैंडल से साझा किया गया है। वीडियो में पूरी घटना और उसके बाद भारत सरकार के उठाए कदमों के बारे में बताया गया है। वीडियो की शुरुआत में बताया गया है कि कैसे 20 साल के आंतकी आदिल अहमद डार ने सीआरपीएफ बटालियन की बसों को निशाना बनाया था।

आज भी पापा की कोई चीज टटोलते हैं तो आंखों में तैर जाता उनका मुस्कुराता चेहरा

वीडियो में ग्राफिक्स के माध्यम से दिखाया गया है कि आदिल अहमद ने कैसे अपने ही घर से महज 10 किलोमीटर की दूर पर ही हाइवे पर सीआरपीएफ पर हमला बोला था, जिसमें 40 जवान शहीद हुए थे जबकि 70 घायल हुए थे। वीडियो में पुलवामा हमले के जवाब में पाकिस्तान के बालाकोट एयरस्ट्राइक के बारे में भी बताया गया है।

pulwama_3_0.jpeg

वीडियो के आखिर में एक शेर भी लिखा गए हैं। शेर में जाे लाइन लिखी है वो इस प्रकार है।

'बिठाकर पास बच्चों को जो कल किस्से सुनाता था, उसे किस्सा बनाने को, क्या जायज ये धमाका था? पहुंचा घर जो उसके था वो ताबूत था खाली, उठा जो उसकी चौखट से बहुत भारी जनाजा था। '

Vivhav Shukla
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned