script6 Things you should not do before and after Covid-19 Vaccination: Centre | Covid-19 वैक्सीनेशन से पहले और बाद में मत करें ये 6 काम | Patrika News

Covid-19 वैक्सीनेशन से पहले और बाद में मत करें ये 6 काम

कोरोना वायरस के खिलाफ लड़ाई के देश में जारी टीकाकरण अभियान में केंद्र सरकार ने कुछ बदलाव किए हैं। इसके साथ ही कोरोना टीकाकरण कराने के इच्छुक लोगों के लिए गाइडलाइंस जारी की हैं जिनमें खुराक लेने से पहले और बाद में क्या करना है और क्या नहीं, यह जानकारी हो सके।

नई दिल्ली

Updated: May 21, 2021 12:55:30 am

नई दिल्ली। कोविड -19 के खिलाफ देश भर में चल रहे टीकाकरण अभियान में कई नए बदलाव किए गए हैं। केंद्र सरकार ने कोरोना टीकाकरण से पहले और बाद में क्या करना और नहीं करना है, इस संबंध में अब दिशानिर्देश जारी किए हैं ताकि ऑनलाइन टीके का अप्वाइंटमेंट बुक करने वाले लोग किसी गफलत में ना रहें।
6 Things you should not do before and after Covid-19 Vaccination: Centre
6 Things you should not do before and after Covid-19 Vaccination: Centre
Must Read: क्या है बिहार सरकार का HIT Covid App, जिससे खुश होकर पीएम मोदी ने मांगी पूरी जानकारी

फिलहाल भारत का टीकाकरण अभियान तीसरे चरण में है, जहां 18 से 44 वर्ष की आयु के लोग भी वैक्सीन हासिल करने के पात्र हैं। हालांकि केंद्र सरकार ने राज्यों से कहा है कि वे 45 वर्ष से अधिक आयु के लोगों के टीकाकरण को प्राथमिकता दें क्योंकि कोविड-19 की नई लहर में भी वृद्ध लोगों के लिए खतरा अधिक है।
किसे टाल देना चाहिए कोरोना टीकाकरण?

नवीनतम दिशानिर्देशों के अनुसार, जो लोग अभी-अभी कोरोना वायरस के संक्रमण से उबरे हैं, उन्हें अपने टीकाकरण के लिए तीन महीने तक इंतजार करना चाहिए। वैसे पहले चार सप्ताह का अंतर अनिवार्य था, जिसे अब खत्म कर दिया गया है।
इसी तरह तीन महीने की प्रतीक्षा अवधि की सलाह उन लोगों के लिए भी दी गई है जिनका प्लाज्मा थेरेपी से इलाज हुआ है और उनके लिए भी जो वैक्सीन की पहली खुराक प्राप्त करने के बाद संक्रमित हो गए हैं।
Must Read: तेजी से बढ़ेगा कोरोना वैक्सीनेशन, सिंगल डोज वैक्सीन का उत्पादन होगा शुरू

वहीं, जिन लोगों को किसी अन्य बीमारी के लिए अस्पताल में भर्ती होना पड़ा है, उन्हें भी टीकाकरण के लिए चार से आठ सप्ताह तक इंतजार करना चाहिए।
कोविशील्ड की दूसरी खुराक के लिए नए नियम

अब कोविशील्ड की दूसरी खुराक पहली खुराक के 12 से 16 सप्ताह के बाद ली जा सकती है। कोविन पोर्टल को इसके लिए री-कॉन्फ़िगर किया गया है, लेकिन जिन लोगों ने पहले ही अपनी अपॉइंटमेंट बुक कर ली है, वे चाहें तो निर्धारित तिथि पर अपनी दूसरी खुराक ले सकते हैं। इसके साथ ही अगर वे चाहें तो 84 दिनों के अंतराल की नई गाइडलाइन को पूरा करने के लिए आगे की दूसरी तारीख भी ले सकते हैं।
आइए जानते हैं वो कौन से 6 काम हैं जो किसी को नहीं करने चाहिए:
1. बिना अपॉइंटमेंट के वैक्सीनेशन सेंटर जाना। इसकी वजह यह है कि कोरोना वैक्सीनेशन के सभी स्लॉट कोविन रजिस्ट्रेशन के माध्यम से ऑनलाइन बुक किए जा रहे हैं।
2. एक व्यक्ति को एक से ज्यादा प्लेटफॉर्म पर पंजीकरण नहीं करना चाहिए।
3. एक व्यक्ति को अलग-अलग प्लेटफॉर्म पर कई फोन नंबर और कई आईडी प्रूफ का इस्तेमाल नहीं करना चाहिए।
4. टीकाकरण के दिन शराब या अन्य किसी मादक पदार्थ का सेवन नहीं करना चाहिए।
5. वैक्सीन के किसी भी साइड इफेक्ट के मामले में घबराना नहीं चाहिए।
6. दूसरी खुराक के लिए कोविन पोर्टल पर रजिस्ट्रेशन की कोई जरूरत नहीं है।
newsletter

अमित कुमार बाजपेयी

पत्रकारिता में एक दशक से ज्यादा का अनुभव. ऑनलाइन और ऑफलाइन कारोबार, गैज़ेट वर्ल्ड, डिजिटल टेक्नोलॉजी, ऑटोमोबाइल, एजुकेशन पर पैनी नज़र रखते हैं. ग्रेटर नोएडा में हुई फार्मूला वन रेसिंग को लगातार दो साल कवर किया. एक्सपो मार्ट की शुरुआत से लेकर वहां होने वाली अंतरराष्ट्रीय प्रदर्शनियों-संगोष्ठियों की रिपोर्टिंग.

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

बड़ी खबरें

Rahul Narwekar: जानें कौन हैं महाराष्ट्र विधानसभा के नए स्पीकर राहुल नार्वेकर, जो कभी रहे थे शिवसेना और NCP के खासवायरल फोटो के बाद गहलोत के मंत्रियों के निशाने पर कटारिया, भाजपा से माफी की मांगआप नेता अग्निपथ योजना के खिलाफ 'प्रतीकात्मक विरोध' के रूप में प्रधानमंत्री मोदी को भेजेंगे 420 रुपएENG vs IND: टेस्ट में ब्लू कैप पहनकर उतरे क्रिकेटेर्स, दिलचस्प है इसके पीछे की वजहMaharashtra Assembly Speaker Election: महाराष्ट्र में विधानसभा स्पीकर का चुनाव आज, भाजपा और महा विकास अघाड़ी के बीच सीधी टक्करमस्क-बेजोस सहित कई अरबपतियों की दौलत में भारी गिरावट, जुकरबर्ग की संपत्ति हुई आधीबिहार में पैसेंजर ट्रेन के इंजन में लगी आग, रक्सौल से नरकटियागंज जा रही थी रेलगाड़ीराहुल गांधी के बयान को उदयपुर की घटना से जोड़ा, जयपुर में रिपोर्ट दर्ज
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.