उत्तराखंड में बादल फटने के बाद अलर्ट पर ITBP, कई जगहों पर श्रद्धालुओं को रोका गया

उत्तराखंड में चार जगहों पर बादल फटने से भारी तबाही हुई है।

नई दिल्लीः जहां एक तरफ पूरा देश गर्मी से परेशान है वहीं उत्तराखंड में चार जगहों पर बादल फटा है। टिहरी, उत्तरकाशी, बालकोट और पौड़ी में बादल फटने से काफी नुकसान हुआ है। उत्तराखंड में हालात को देखते हुए ITBP को अलर्ट पर रखा गया है। बादल फटने की वजह से बद्रीनाथ और गोबिंदघाट की गाड़ियों को ऋषिकेश की तरफ भेजा जा रहा है। इसके अलावा बद्रीनाथ और हेमकुण्ड जाने वाले श्रद्धालुओं को जोशीमठ में ही रोका गया है। बताया जा रहा है कि सामान्य हालात होने के बाद ही इन लोगों को आगे के लिए प्रस्थान की इजाजत दी जाएगी। देहरादून समेत प्रदेश के कई इलाकों में बारिश से जनजीवन प्रभावित हुआ है। उधर उत्तराखंड मौसम विभाग ने 36 घंटे तक प्रदेश में तेज बारिश का अनुमान लगाया है। मौसम विभाग का कहना है कि प्रदेश में सौ किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से हवाएं भी चल सकती हैं। मौसम विभाग ने उत्तराखंड में अगले 36 घंटों के लिए ऑरेंज अलर्ट जारी किया है।

ये भी पढ़ेंः उत्तराखंड: चमोली-चंपावत में फटा बादल, बद्रीनाथ हाईवे बंद

लोगों के घरों में घुसा पानी
शुक्रवार शाम के बादल फटने से लोगों में दहशत फैल गई है। यहां पर कई लोगों के घरों और दुकानों में पानी घुस गया है। टिहरी, उत्तरकाशी, बालकोट और पौड़ी के लोगों के लिए प्रशासन ने एनडीआरएफ की टीमें मौके पर तनात कर रखी है। इन जगहों पर अभी तक किसी जान-माल की नुकसान की खबर नहीं है लेकिन प्रशासन का कहना है कि मौके पर हालात का जायजा लेने के बाद ही सही जानकारी मिल सकेगी।

ये भी पढ़ेंः मिर्जापुर में बादल फटने से 10 घरों समेत पूरा परिवार बहा, एक की मौत, तीन लापता

बादल फटने का इन जगहों पर ज्यादा हुआ असर
बताया जा रहा है कि पिथौरागढ़ और नैनीताल के बेताल घाट में बादल फटने से भारी तबाही मची है। पिथौरागढ़ जिले में तो लोगों को भारी मुश्किलों का सामना करना पड़ा। कहा जा रहा है कि बादल फटने का असर भारत-नेपाल सीमा पर स्थित काली और गोरी नदी घाटी क्षेत्र में सबसे अधिक हुआ है। इसके अलावा टिहरी, उत्तरकाशी, बालकोट और पौड़ी भी बादल फटने से जनजीवन प्रभावित हुआ है। फिलहाल मौके पर राहत और बचाव कार्य का काम शुरु कर दिया गया है।

Show More
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned