Corona महामारी से जूझ रहे महाराष्ट्र पर एक और संकट, पालघर में अब इस बीमारी ने बढ़ाई चिंता

  • महाराष्ट्र के पालघर में कांगो बुखार ( Congo Fever ) का खतरा
  • जिला प्रशासन ने जारी किया अलर्ट, जानवरों से इंसान में फैलता है यह बीमारी

नई दिल्ली। पूरा देश इन दिनों कोरोना महामारी (COVID-19) से जूझ रहा है। खासकर, महाराष्ट्र में इस वायरस को लेकर स्थिति लगातार बिगड़ती जा रही है। इसी बीच राज्य में एक और बीमारी ने संकट बढ़ा दी है। पालघर ( Palghar ) जिले में कांगो बुखार को लेकर प्रशासन ने अलर्ट जारी करते हुए सतर्क रहने का निर्देश दिया है।

पढ़ें- Cat Que Virus: आईसीएमआर ने किया अलर्ट, देश में मुश्किल बढ़ा सकता है चीन का नया वायरस

महाराष्ट्र में एक और बीमारी का खतरा

जानकारी के मुताबिक, पालघर जिला प्रशासन ने कहा कि कोरोना वायरस संकट के बीच हेमोरेजिक फीवर यानी कांगो बुखार ( Congo Fever ) का भी खतरा बढ़ गया है। प्रशासन का कहना है कि इस बुखार के कारण पशुपालन अधिकारियों, मांस विक्रेताओं, पशुपालकों के लिए चिंता का विषय है। रिपोर्ट में कहा गया है कि इस बुखार को लेकर काफी एहतियात बरतें, क्योंकि अभी तक कांगो बुखार का इलाज नहीं है। पालघर पशुपालन विभाग के उपायुक्त डॉक्टर प्रशांत डी कांबले ने का कहना है कि अभी कांगो बुखार का मामला गुजरात के कुछ जिलों में पाया गया है। इसके कारण पास के इलाकों में इस बीमारी के बढ़ने का खतरा बढ़ गया है। प्रशासन का कहना है कि महाराष्ट्र का पालघर जिला, गुजरात के वलसाड जिले के बेहद करीब है। लिहाजा, यहां पर कांगो बुखार फैलने का खतरा बढ़ गया है।

पढ़ें- खुलासा: सीरो सर्वे 2 में 8.7 करोड़ लोगों के Corona संक्रमित आने की संभावना, इतनों में मिला एंटीबॉडी

पालघर जिला प्रशासन ने जारी किया अलर्ट

पालघर जिला प्रशासन ने जारी सूचना में कहा है कि कांगो बुखार जानवरों में फैलता है। एक विशेष प्रकार की किलनी के जरिए यह बीमारी एक पशु से दूसरे पशु में फैलती है। वहीं, संक्रमित पशुओं के खून और उसके मांस खाने से यह बीमारी इंसान में फैलती है। रिपोर्ट में यह भी कहा गया है कि यह बीमारी बेहद ही खतरनाक है। क्योंकि, अगर समय पर इसका पता नहीं चलता है और इलाज नहीं हो पाता है तो तकरीबन 30 प्रतिशत लोगों की इस बीमारी से मौत हो जाती है। फिलहाल, इस बीमारी को लेकर न तो कोई टीका उपलब्ध है और ना ही कोई दवा। लिहाजा, इस बीमारी से केवल एहतियात बरतकर ही बचा जा सकता है। कोरोना के बीच इस बीमारी ने प्रशासन की चिंता और बढ़ा दी है और लोगों से सतर्क रहने के लिए निर्देश जारी किया गया है। गौरतलब है कि महाराष्ट्र में कोरोना वायरस का कहर लगातार जारी है। राज्य में कोरोना संक्रमितों का आंकड़ा 13,15,402 पहुंच गया है। इनमें 2,65,455 एक्टिव केस हैं। वहीं, 10,49,947 लोग इस महामारी से ठीक हो चुके हैं। जबकि, कोरोना से अब तक महाराष्ट्र में 35,751 लोगों की मौत हो चुकी है।

Show More
Kaushlendra Pathak
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned