दिल्ली में Corona ने तोड़ा चार महीने का रिकॉर्ड, गुजरात के 20 शहरों में आज से लागू होगी ये पाबंदी

राजधानी दिल्ली में कोरोना ने तोड़ा चार महीने का रिकॉर्ड, सामने आए एक दिन में सबसे ज्यादा केस

नई दिल्ली। देशभर के कई राज्यों में कोरोना वायरस ( Coronavirus in india ) का खतरा लगातार बढ़ रहा है। कोरोना के बढ़ते नए मामलों में राजधानी दिल्ली भी ज्यादा पीछे नहीं है। यहां पिछले चार महीनों का रिकॉर्ड टूटा है। कोविड-19 के मंगलवार को एक दिन सबसे ज्यादा केस सामने आए हैं।

27 नवंबर के बाद पहली बार एक दिन में पांच हजार से ज्यादा कोरोना के मामले दर्ज किए गए हैं। पिछले 24 घंटों में 5100 मामले रिपोर्ट हुए, जबकि 27 नवंबर को 5,482 मामले रिपोर्ट हुए थे। वहीं गुजरात में भी कोरोना का संकट बढ़ने के बीच रुपाणी सरकार ने बड़ा फैसला लिया है। बुधवार 7 अप्रैल से प्रदेश के 20 शहरों में नाइट कर्फ्यू लागू कर दिया जाएगा।

यह भी पढ़ेंः देश में Corona की दूसरी लहर ने फिर तोड़ा रिकॉर्ड, एक दिन में आए डराने वाले केस

राजधानी दिल्ली में अब तक कुल मामले 6 लाख 85 हजार 62 हो गए हैं। इस बीच राहत की बात यह है कि दिल्ली में रिकॉर्ड तोड़ टेस्ट भी किए जा रहे हैं। राजधानी में पहली बार एक लाख से ज्यादा टेस्ट हुए हैं। वहीं संक्रमण दर 5 फीसदी से नीचे पहुंच गई है।

स्वास्थ्य मंत्रालय के आंकड़ों के मुताबिक दिल्ली में रिकवरी रेट 95.84 फीसदी है। जबकि एक्टिव केस 2.52 प्रतिशत हैं। डेथ रेट की बात करें तो ये 1.62 फीसदी है। वहीं राजधानी में पॉजिटिविटी रेट 4.93 फीसदी हो गया है।

पिछले 24 घंटों में 2 हजार 340 मरीजों ने कोरोना को मात दी है। इसके साथ ही अबतक ठीक हुए मरीजों की कुल संख्या 6 लाख 56 हजार 617 हो गई है।

आपको बता दें कि दिल्ली में कोरोना टेस्ट में तेजी लाई जा रही है। एक तरफ जहां कोरोना के मामले बढ़ रहे हैं वहीं दूसरी तरफ तेजी से टेस्टिंग भी बढ़ाई जा रही है,वहीं वैक्सीनेशन पर ज्यादा से ज्यादा जोर दिया जा रहा है।
दिल्ली में मंगलवार को 1 लाख 3 हजार 453 लोगों की कोरोना जांच की गई। यह अब तक का सबसे बड़ा आंकड़ा है। इसमें से 5100 लोग कोरोना संक्रमित पाए गए।

दिल्ली में अब तक 1 करोड़ 50 लाख 75 हजार 212 कुल टेस्ट- हो चुके हैं।

गुजरात में भी बढ़ी सख्ती
दिल्ली के साथ कई राज्यों में सरकारें सख्ती बढ़ा रही हैं। दिल्ली में जहां नाइट कर्फ्यू 6 अप्रैल की रात से ही शुरू हो गया वहीं गुजरात के 20 शहरों में 7 अप्रैल से इसे लागू किया जा रहा है।

राज्य सरकार ने 20 शहरों में रात आठ बजे से लेकर सुबह छह बजे तक कर्फ्यू लगाने की घोषणा की है। यह बुधवार से 30 अप्रैल तक प्रभावी रहेगा।

आपको बता दें कि इससे पहले दिन में गुजरात उच्च न्यायालय ने कहा था कि राज्य में कोविड-19 के कारण स्थिति "नियंत्रण से बाहर" हो रही है।

यह भी पढ़ेँः Corona के बढ़ते खतरे के बीच राहत की खबर, Vaccination को लेकर भारत ने बनाया नया रिकॉर्ड

इसके साथ ही अदालत ने सुझाव दिया कि वायरस संक्रमण की श्रृंखला को तोड़ने के लिए तीन से चार दिनों के लिए कर्फ्यू या लॉकडाउन लागू किया जा सकता है।

अब तक अहमदाबाद, सूरत, वडोदरा और राजकोट में रात नौ बजे से सुबह छह बजे तक का कर्फ्यू लगा था। मुख्यमंत्री विजय रूपाणी की अध्यक्षता में हुई कोरोना वायरस कोर समूह की बैठक में अन्य शहरों में नाइट कर्फ्यू का फैसला लिया।

Coronavirus in india
धीरज शर्मा
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned