दुनिया में कोविड-19 के मामलों की संख्या 9.68 करोड़ पहुंची, जानिए भारत में कुल मरीजों की संख्या

  • भारत समेत दुनिया के कई देशों में कोरोना वैक्सीनेशन अभियान शुरू हो चुका है
  • टीकाकरण अभियान के अंतर्गत रोजाना लाखों लोगों को कोरोना वैक्सीन लगाई जा रही है।

नई दिल्ली। दुनियाभर में कोरोनावायरस महामारी से संक्रमित हुए मरीजों की संख्या 9.68 करोड़ तक पहुंच चुकी है, जबकि 20.7 लाख से अधिक लोगों की मौत हो चुकी है। गुरुवार की सुबह अपने हालिया अपडेट में यूनिवर्सिटी के सेंटर फॉर सिस्टम साइंस एंड इंजीनियरिंग (CSSE ) ने खुलासा किया कि इस वक्त दुनिया में कुल मामलों और मौतों की संख्या क्रमश: 96,823,968 और 2,073,866 है। CSSE के मुताबिक, संक्रमितों की सबसे अधिक संख्या 24,432,807 के साथ अमेरिका वायरस से सबसे अधिक प्रभावित देशों की सूची में अव्वल नंबर पर है, जबकि यहां हुई मौतों की संख्या 406,001 है। भारत का स्थान इस सूची में दूसरे नंबर पर है, जहां इस वक्त मामलों और हुई मौतों की संख्या क्रमश: 10,595,660 और 152,718 पर बनी हुई है।

कोरोना वैक्सीन बनाने वाले Serum Institute of India में लगी आग, देखें यह वीडियो

रोजाना लाखों लोगों को कोरोना वैक्सीन लगाई जा रही

भारत समेत दुनिया के कई देशों में कोरोना महामारी को करारा जवाब देने के लिए कोरोना वैक्सीनेशन अभियान शुरू हो चुका है। कोरोना टीकाकरण अभियान के अंतर्गत रोजाना लाखों लोगों को कोरोना वैक्सीन लगाई जा रही है। हालांकि वैक्सीनेशन के शुरुआती चरण में हेल्थ वर्कर्स और फ्रंट लाइन वर्कर्स को कोरोना वैक्सीन लगाई जा रही है, जिसके बाद वैक्सीनेशन अभियान का विस्तार कर देश के अन्य लोगों को भी टीका लगाया जाएगा। इस बीच सूत्रों के हवाले से जानकारी मिली है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी वैक्सीनेशन अभियान के दूसरे चरण में कोरोना वैक्सीन लगवाएंगे। आपको बता दें कि वैक्सीनेशन के दूसरे चरण में पचास साल की उम्र से अधिक और कमजोर लोगों को टीका लगाया जाना है।

पुणे: सीरम इंस्टीट्यूट प्लांट में लगी आग से 5 की मौत, जानिए कितनी सुरक्षित है कोरोना वैक्सीन?

इतिहास में पहली बार इतने व्यापक स्तर पर वैक्सीनेशन

गौरतलब है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शनिवार को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से दुनिया के सबसे बडïï़े कोरोना वैक्सीनेशन कार्यक्रम की शुरुआत की। इस दौरान उन्होंने कोरोना वैक्सीन की खोज निकालने पर देश के वैज्ञानिको और शोधकर्ताओं को बधाई दी। इस दौरान प्रधानमंत्री ने कहा कि देश लंबे समय से कोरोना वैक्सीन का इंतजार कर रहा था। उन्होंने कहा कि यह इतिहास में पहली बार है, जब इतने व्यापक स्तर पर वैक्सीनेशन अभियान शुरू किया गया हो। कोरोना वैक्सीन के साइड इफेक्ट को लेकर उड़ रही अफवाओं को लेकर प्रधानमंत्री मोदी ने कहा था कि वैक्सीन पूरी तरह से सुरक्षित और असरदार है। इसलिए इसको लेकर चल रही अफवाओं और चर्चाओं पर ध्यान न दें।

Corona Vaccine से 600 लोगों को साइड इफेक्ट, जानिए इस मुद्दे पर क्या बोले स्वास्थ्य मंत्री

वैक्सीनेशन अभियान को गुरुवार को 6ठवां दिन

कोरोना वैक्सीनेशन अभियान को आज यानी गुरुवार को 6ठवां दिन है। जिसके चलते अब तक सात लाख से अधिक लोगों को वैक्सीन लगाई जा चुकी है। लेकिन डॉक्टर्स और हेल्थ केयर वर्कर्स समेत कुछ लोग अभी भी कोरोना वैक्सीन को लेकर आशंकित हैं और उसको लगवाने से हिचक रहे हैं। हालांकि केंद्रीय स्वास्थ्य विभाग ने इसका गहरी चिंता जताई है। आपको बता दें कि भारत में जब से कोरोना महामारी की शुरुआत हुई है, तब से अब तक एक करोड़ से अधिक लोग इस घातक बीमारी का शिकार हो चुका है, जिसके साथ डेढ़ लाख से अधिक लोग कोरोना की वजह से काल के गाल में समा चुके हैं। अगर पिछले चौबीस घंटे की बात करें तो इस दौरान कोरोना वायरस के 15, 223 मरीज सामने आए हैं।

Mohit sharma
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned