Coronavirus: क्वारंटाइन से भागा IAS अधिकारी, जानें कैसे मिला?

  • कोरोना वायरस फैलने की श्रृंखला को तोड़ने के लिए पूरा देश हुआ लॉकडाउन
  • IAS अधिकारी नियमों का मजाक उड़ाते हुए क्वारंटाइन से भाग गया
  • विदेश यात्रा कारण के IAS को आइसोलेशन में रहने के लिए कहा गया था

नई दिल्ली। कोरोना वायरस ( Coronavirus ) फैलने की श्रृंखला को तोड़ने के लिए पूरा देश लॉकडाउन ( Lockdown ) है, वहीं एक जूनियर IAS अधिकारी ( IAS Officer ) नियमों का मजाक उड़ाते हुए एकांतवास यानी क्वारंटाइन ( quarantine ) से भाग गया।

जूनियर IAS अधिकारी अनुपम मिश्रा ने हाल ही में विदेश यात्रा की थी, जिस कारण उन्हें आइसोलेशन ( Isolation ) में रहने के लिए कहा गया था।

लेकिन ऐसा करने की बजाय वह उस जगह से निकल गए और बाद में पता चला कि मिश्रा उत्तर प्रदेश के कानपुर शहर में स्थित अपने घर पहुंच गए हैं।

बड़ी खबर: कोरोना महामारी के बीच भारत के लिए आई एक अच्छी खबर, जानें कैसे ठीक हो गए इतने मरीज?

 

y.jpg

मिश्रा, 2016 बैच के आईएएस अधिकारी हैं और हाल ही में केरल के कोल्लम में सब कलेक्टर का पदभार संभालने के लिए आए थे।

उन्होंने अपने वरिष्ठों को सूचित किया कि वह विदेश में थे। तब उन्हें यहां से लगभग 70 किलोमीटर दूर कोल्लम स्थित सरकारी आवास में अलग-थलग रहने के लिए कहा गया था।

कोल्लम के जिला कलेक्टर बी.अब्दुल नासर ने शुक्रवार को मीडिया को बताया कि मिश्रा ने स्पष्टीकरण दिया है कि जब उन्हें स्व-एकांतवासमें जाने के लिए कहा गया था, तब उन्होंने कहा था कि वह कानपुर स्थित अपने घर वापस जाना चाहते थे।

Coronavirus : 12वीं की छात्रा ने पेश की मिसाल, प्रधानमंत्री राहत कोष में ढाई लाख का दिया दान

 

a1.png

नासर ने कहा, "यह प्रोटोकॉल का उल्लंघन है और मैं उनके बर्ताव के बारे में राज्य सरकार के सामने रिपोर्ट पेश करूंगा, आगे की कार्रवाई सरकार को करनी है।"

कोल्लम जिले के रहने वाले राज्य के मत्स्य मंत्री जे. मर्कुट्टी ने कहा कि यह सामाजिक प्रतिबद्धता की कमी का एक स्पष्ट मामला है।

खबरों के मुताबिक, मिश्रा ने हाल ही में शादी की है और वे सिंगापुर से लौटे थे। उनके वरिष्ठों ने उन्हें सेल्फ-आइसोलेशन में रहने को कहा था, जो कि नियमों के अनुरूप जरूरी था।

मिश्रा ने पिछले हफ्ते अपने आधिकारिक आवास में एकांतवास शुरू किया था, लेकिन नियम तोड़कर कानपुर चले गए।

क्या 14 अप्रैल के बाद बढ़ सकती है लॉकडाउन की डेट? सरकार ने जारी किया 3 महीने का प्लान

 

Coronavirus: अनुपम खेर की मां को सताई PM मोदी की सेहत की चिंता, इंस्टा पर शेयर किया भावुक वीडियो

गुरुवार को अधिकारियों को पता चला कि वह कोल्लम में अपने आधिकारिक आवास में मौजूद नहीं हैं। बाद में पुलिस की मदद से पता चला कि वह कानपुर में हैं।

जिला कलेक्टर ने इसे स्पष्ट तौर पर नियामों का उल्लंघन माना है। अब राज्य सरकार को तय करना है कि उनके खिलाफ क्या कार्रवाई की जानी चाहिए।

 

Mohit sharma
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned