Coronavirus: ताली-थाली-शंखनाद से मिले सुर मेरा-तुम्हारा, कोरोना वायरस के खिलाफ लड़ाई का लगाया नारा

  • रविवार को देशभर में जनता कर्फ्यू का नागरिकों ने किया पालन।
  • शाम पांच बजे से पहले ही बॉलकनी-घरों के दरवाजों पर आए लोग।
  • ऐसा लग रहा था मानों पूरा देश मिले सुर मेरा तुम्हारा गा रहा हो।

नई दिल्ली। एक ओर कोरोना वायरस का बढ़ता कहर और इसे रोकने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा किए गए जनता कर्फ्यू का देशभर में जबर्दस्त समर्थन देखने को मिला। इसका आलम यह रहा कि रविवार शाम पांच बजे ऐतिहासिक रूप से पूरे देश में शंखनाद-थाली-ताली और घंटे की आवाज से हर दिशा गूंज उठी। देश के इतिहास में संभवता ऐसा पहली बार हुआ होगा जब हर आम और खास आदमी अपने घर की बॉलकनी-दरवाजे पर कोरोना वायरस के खिलाफ लड़ाई में महत्वपूर्ण भूमिका निभाने वाले लोगों के सम्मान में सुर मिलाते नजर आए।

देशभर में टोटल लॉकडाउन को लेकर सामने आई सबसे बड़ी खबर, सबसे पहले जान लीजिए पूरी बात फिर

वहीं, पीएम मोदी ने लोगों के इस कदम का शुक्रिया करते हुए ट्वीट किया, "कोरोना वायरस की लड़ाई का नेतृत्व करने वाले प्रत्येक व्यक्ति को देश ने एक मन होकर धन्यवाद अर्पित किया। देशवासियों का बहुत-बहुत आभार... #JantaCurfew"

शाम पांच बजे कोरोना वायरस के खिलाफ लड़ाई में लगे लोगों का मान बढ़ाने के लिए राजनीति, सिनेमा, कॉरपोरेट समेत हर क्षेत्र के लोग दिखाई दिए। राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद, लोकसभा अध्यक्ष ओम बिड़ला, रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह, भाजपा अध्यक्ष जेपी नड्डा, केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री अश्विनी चौबे, गिरिराज सिंह, केंद्रीय मंत्री प्रह्लाद जोशी, प्रकाश जावड़ेकर, धर्मेंद्र प्रधान, एनसीपी मुखिया शरद पवार, उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ, आंध्र प्रदेश सीएम वाईएस जगन मोहन रेड्डी, उत्तराखंड सीएम त्रिवेंद्र सिंह रावत, योगगुरु बाबा रामदेव, बॉलीवुड अभिनेता अमिताभ बच्चन समेत तमाम हस्तियों ने सपरिवार अपने घरों की छतों-बॉलकनी-दरवाजे पर ताली-थाली-शंख बजाया।

दरअसल कोरोना वायरस के खिलाफ देशव्यापी युद्ध में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की जनता कर्फ्यू का पालन करने की अपील का व्यापक असर देखने को मिला है। रविवार को जनता कर्फ्यू को सफल बनाने के बाद लोगों ने पांच बजने से पहले ही शंखनाद कर, ताली बजाकर और थाली पीटकर इस लड़ाई के खिलाफ एकजुटता दिखाई।

Coronavirus को लेकर पीएम मोदी की बड़ी घोषणा, 1 लाख रुपये का इनाम देने का ऐलान

पीएम मोदी ने जहां देशभर के नागरिकों ने अपने घरों में रहकर विकट परिस्थितियों में काम करने वाले डॉक्टर, पुलिस, सेना, प्रशासन और मीडिया के सम्मान में पांच बजे पांच मिनट तक ताली-थाली बजाने का आह्वान किया था, लोगों ने एकजुटता दिखाते हुए पांच बजे से पहले ही सुर मिलाना शुरू कर दिया और पांच मिनट की जगह तमाम जगहों पर आधे घंटे तक लोग ताली-थाली बजाते रहे। पूरे देश में ऐसा लग रहा था मानों हर कोई यह जता रहा हो कि 'मिले सुर मेरा तुम्हारा।'

इससे पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बीते 19 मार्च को राष्ट्र के नाम संबोधन में देशवासियों से 22 मार्च को सुबह 7 बजे से रात 9 बजे तक जनता कर्फ्यू का पालन करने की अपील की थी। पीएम मोदी ने इसके साथ ही नागरिकों से विकट परिस्थितियों में काम करने वाले लोगों के सम्मान में ठीक पांच बजे ताली बजाने और थाली पीटने का भी आह्वान किया था।

आपकी जेब में रखे करेंसी नोट से भी है कोरोना वायरस का खतरा, आरबीआई ने जारी की एडवायजरी

चैनलों ने भी रोका प्रसारण

रविवार को प्रधानमंत्री की अपील का असर डीटीएच सर्विस प्रोवाइडर और टेलीविजन चैनलों के ऊपर भी देखने को मिला। जैसे ही रविवार को शाम के ठीक पांच बजे, पूरे देश में जारी सभी प्रकार के प्रसारण रोक दिए गए। इसके बाद हर चैनल पर एक विशेष प्रकार की ट्यून बजाई गई, जिसमें ताली पीटने की आवाज सुनाकर लोगों को याद दिलाया गया।

इसके साथ ही चैनलों की तरफ से विकट परिस्थितियों में देशवासियों को सुरक्षित रखने वाले लोगों को सम्मान दिया गया और थालियां भी पीटीं गईं।

उत्साह में फोड़े पटाखे

देशभर म? कोरोना वायरस ??स को लेकर कोई डर का माहौल नहीं है, कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अपील के बाद अति उत्साह में तमाम स्थानों पर लोगों ने पटाखे भी फोड़े। नोएडा के कई हिस्सों में शाम पांच बजे पटाखे फोड़े गए और काफी देर तक आतिशबाजी भी की गई। नोएडा ही नहीं दिल्ली, मुंबई, कोलकाता समेत देश के तमाम स्थानों से आतिशबाजी की भी खबर सामने आई।

अमित कुमार बाजपेयी
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned