कोरोना के खिलाफ जंग में आएगी तेजी, मई-जून तक कोवैक्सीन की उत्पादन क्षमता होगी दोगुनी

स्वदेशी कोवैक्सीन टीके की वर्तमान उत्पादन क्षमता मई-जून 2021 तक दोगुनी हो जाएगी और फिर जुलाई-अगस्त 2021 तक लगभग 6-7 गुना बढ़ जाएगी।

नई दिल्ली। कोरोना महामारी के बढ़ते मामलों ने एक बार फिर से सबकी चिंताएं बढ़ा दी है। लिहाजा, संक्रमण के फैलने से रोकने के लिए केंद्र सरकार और सभी राज्य सरकारों की ओर से जरूरी एहतियाती कदम उठाए जा रहे हैं।

वहीं, कोरोना टीकाकरण अभियान में भी और तेजी लाने के लिए जरूरी प्रयास किए जा रहे हैं। इस बीच वैक्सीनेशन को लेकर एक बड़ी खबर सामने आई है। दरअसल, केंद्र सरकार की ओर से आत्मनिर्भर भारत 3.0 कोविड सुरक्षा मिशन के तहत स्वदेशी कोरोना टीकों के विकास और उत्पादन में तेजी लाने की घोषणा की गई थी।

यह भी पढ़ें :- Corona Vaccination : कोविशील्ड वैक्सीन लगवाने से आखिर क्यों कतरा रहे हैं लोग? जानें- विशेषज्ञों की राय

अब ये खबर सामने आई है कि स्वदेशी कोवैक्सीन टीके की वर्तमान उत्पादन क्षमता मई-जून 2021 तक दोगुनी हो जाएगी और फिर जुलाई-अगस्त 2021 तक लगभग 6-7 गुना बढ़ जाएगी। यानी अप्रैल, अगस्त तक वैक्सीन की खुराक में 6-21 करोड़ की बढ़ोतरी होगी।

बता दें कि इस मिशन को भारत के जैव प्रौद्योगिकी विभाग द्वारा कार्यान्वित किया जा रहा है। मिशन के तहत भारत बायोटेक की उत्पादन क्षमता बढ़ाने के लिए जैव प्रौद्योगिकी विभाग द्वारा वैक्सीन निर्माण सुविधाओं को अनुदान के रूप में वित्तीय सहायता प्रदान कर रहा है।

अगस्त से हर माह 10 करोड़ खुराक का होगा उत्पादन

माना जा रहा है कि इस साल जुलाई अगस्त में हर माह कोवैक्सीन की उत्पादन क्षमता 10 करोड़ खुराक पहुंचने की उम्मीद है। वैक्सीन की उत्पादन क्षमता को कैसे बढ़ाया जाएगा, इस संबंध में चर्चा करने और अधिक से अधिक जानकारी जुटाने के संबंध में कुछ हफ्ते पहले अंतर मंत्रालय की टीमों ने 2 मुख्य वैक्सीन निर्माताओं की साइटों का दौरा किया था।

यह भी पढ़ें :- PM Modi ने लगवाई वैक्सीन की दूसरी डोज, देश में कोरोना के नए मामलों ने फिर तोड़ा रिकॉर्ड

अब काफी अध्ययन करने के बाद भारत बायोटेक लिमिटेड, हैदराबाद के साथ-साथ अन्य सार्वजनिक क्षेत्र के विनिर्माण की क्षमताओं को आवश्यक बुनियादी ढांचे और प्रौद्योगिकी के साथ उन्नत किया जा रहा है। केंद्र सरकार भारत बायोटेक की नई बेंगलुरू प्लांट के लिए जीओआई से 65 करोड़ रुपये की सहायता के रूप में वित्तीय मदद कर रही है।

आपको बता दें कि कोरोना संक्रमितों की संख्या के मामले में भारत ने ब्राजील को पीछे छोड़ दिया है। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के अनुसार, बीते 24 घंटों में कोरोना संक्रमण के 2,17,353 नए मामलों सामने आए हैं और 1,100 से अधिक लोगों की मौत हुई है। एक दिन में दर्ज संक्रमितों की यह सबसे बड़ी संख्या है। देश में शुक्रवार की सुबह 7 बजे तक 17,37,539 सत्रों में कुल वैक्सीन की 11,72,23,509 खुराक दी गई है।

Show More
Anil Kumar
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned