Maharashtra: कोविड टास्क फोर्स की चेतावनी, बताया प्रदेश में कब आएगी कोरोना की तीसरी लहर

कोरोना वायरस की तीसरी लहर को लेकर बढ़ी महाष्ट्र की चिंता, कोविड टास्क फोर्स ने जल्द दस्तक देने के दिए संकेत

नई दिल्ली। कोरोना वायरस ( Coronavirus ) की पहली और दूसरी लहर का सबसे बुरा कहर झेलने वाले महाराष्ट्र ( Maharashtra ) के लिए एक और बड़ी खबर सामने आई है। तीसरी लहर को लेकर कोविड टास्क फोर्स ( Covid Task Force ) ने चेतावनी जारी की है। कोविड टास्क फोर्स ने बताया कि महाराष्ट्र में कोरोना की तीसरी लहर कब दस्तक देगी।

दरअसल एक बार फिर इस राज्य में कोरोना के नए मामलों को लेकर हालात बिगड़ने लगे हैं। मौजूदा समय में भी महाराष्ट्र कोरोना के सक्रिय मामलों में दूसरे नंबर पर है।

यह भी पढ़ेंः Coronavirus Third Wave: बच्चों में बढ़ रहा संक्रमण, अमरीका-ब्रिटेन के बाद भारत पर मंडराया खतरा

महाराष्‍ट्र सरकार की ओर से गठित की गई कोविड टास्‍क फोर्स ( Covid Task Force ) ने राज्‍य में जल्‍द ही कोरोना की तीसरी लहर ( Corona Third Wave ) आने की चेतावनी भी दे दी है।

अगले महीने आ सकता है बड़ा खतरा
कोविड टास्‍क फोर्स के मुताबिक महाराष्‍ट्र में कोरोना की तीसरी लहर अगले महीने यानी सितंबर या फिर अक्‍टूबर में दस्तक दे सकती है।

बता दें कि उद्धव सरकार की ओर से टास्‍क फोर्स कोरोना की स्थिति पर नजर रखने के लिए और इस महामारी से निपटने में सलाह देने के लिए गठित की गई है।

हाल में सीएम उद्धव ठाकरे (CM Uddhav Thackeray) ने कोविड टास्‍क फोर्स के साथ अहम बैठक की थी। इसमें कोरोना की तीसरी लहर आने की आशंका समेत स्‍वास्‍थ्‍य सुविधाओं, ऑक्‍सीजन के इंतजाम और महामारी को रोकने को लेकर चर्चा की गई थी।

दूसरी लहर में ऑक्‍सीजन की कमी के कारण हालात काफी बिगड़ गए थे। यही नहीं ऑक्सीजन की कमी के चलते कई लोगों को अपनी जान तक गंवाना पड़ी थी।

यह भी पढ़ेंः जल्द मिल सकती है Covaxin और Covishield वैक्सीन की मिक्सिंग डोज, DCGI से मिली अहम मंजूरी

महाराष्ट्र में सबसे ज्यादा मौतें
देश में कोरोना वायरस का सबसे ज्यादा कहर महाराष्ट्र पर ही बरपा है। यहां अब तक 1.34 लाख लोग कोविड जैसी घातक बीमारी के चलते अपनी जान गंवा चुके हैं। जबकि 63 लाख से ज्यादा कोरोना के मामले दर्ज किए गए हैं।

हालांकि महाराष्ट्र में अब तक 61 लाख से ज्‍यादा मरीज ठीक भी हुए हैं। बीते 24 घंटे की बात करें तो प्रदेश में 137 लोगों ने अपनी जान गंवाई है, जबकि 5,609 मामले दर्ज किए गए हैं।

साथ ही इन्‍हीं 24 घंटों में 7,720 मरीज ठीक होकर अस्पताल से डिस्चार्ज हुए। प्रदेश में सबसे ज्‍यादा मामले मुंबई ( Mumbai ), ठाणे, पालघर से सामने आए हैं।

धीरज शर्मा
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned