महाराष्ट्र: क्या फडणवीस और राउत की मुलाकात से बदलेंगे राजनीतिक समीकरण!

इस मीटिंग को लेकर महाराष्ट्र में राजनीतिक सरगर्मियों का दौर शुरू हो गया है। वहीं यह भी प्रश्न उठ रहा है कि क्या शिवसेना भाजपा के साथ मिलकर सरकार बनाने की कवायद शुरू कर सकती है?

मुंबई के एक होटल में महाराष्ट्र के पूर्व मुख्यमंत्री देवेन्द्र फडणवीस तथा शिवसेना नेता संजय राउत की मुलाकात हुई। इस मीटिंग को लेकर महाराष्ट्र में राजनीतिक सरगर्मियों का दौर शुरू हो गया है। वहीं यह भी प्रश्न उठ रहा है कि क्या शिवसेना भाजपा के साथ मिलकर सरकार बनाने की कवायद शुरू कर सकती है?

CM Yediyurappa का पलटवार, विजयेंद्र पर भ्रष्टाचार के आरोप साबित होने पर राजनीति से ले लूंगा सन्यास

संजय राउत ने किया गठबंधन की संभावना से इनकार
इस वक्त भाजपा में काफी उथल-पुथल मची हुई है। भाजपा की सबसे पुरानी सहयोगी पार्टी अकाली दल ने उससे नाता तोड़ लिया है। इसके साथ ही बंगाल में राहुल सिन्हा ने भी असंतोष का स्वर उठाना शुरु कर दिया है। ऐसे में यह देखना दिलचस्प होगा कि इन दोनों बड़े नेताओं की मुलाकात क्या रंग लाएगी। हालांकि संजय राउत ने कहा है कि उनकी मीटिंग औपचारिक थी तथा उसके राजनीतिक मायने नहीं निकाले जाने चाहिए।

एनसीपी, कांग्रेस के साथ सहज नहीं है शिवसेना
आपको यह भी बता दें कि इस समय सुशांत सिंह राजपूत मर्डर की जांच चल रही है। इस केस की जांच में जिस तरह से बॉलीवुड तथा तमाम बड़े नाम सामने आ रहे हैं, उसे देखते हुए भी इस मीटिंग के कई निहितार्थ निकाले जा सकते हैं। वहीं दूसरी ओर महाराष्ट्र सरकार कोरोना से निपटने में बुरी तरह विफल रही है और कंगना राणावत के ऑफिस को तोड़ने को लेकर भी विपक्षी दलों के निशाने पर है। इसी मुद्दे को लेकर शिवसेना की सहयोगी पार्टियां एनसीपी तथा कांग्रेस भी उस पर हमलावर रुख अपना रही है जिसे लेकर शिवसेना असहज स्थिति में है। ऐसे में इन दोनों बड़े नेताओं की मीटिंग भविष्य में क्या रंग लाएगी, यह देखना भी दिलचस्प होगा।

BJP Congress
Show More
सुनील शर्मा
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned