CM Yediyurappa का पलटवार, विजयेंद्र पर भ्रष्टाचार के आरोप साबित होने पर राजनीति से ले लूंगा सन्यास

  • येदियुरप्पा ने विपक्षी नेताओं को भ्रष्टाचार के आरोपों को साबित करने की चुनौती दी।
  • कांग्रेस के नेताओं ने सीएम के बेटे विजयेंद्र पर बेंगलूरु विकास प्राधिकरण के ठेकेदार से रिश्वत लेने का आरोप लगाया है।

By: Dhirendra

Updated: 27 Sep 2020, 09:00 AM IST

नई दिल्ली। कर्नाटक में भ्रष्टाचार को लेकर पक्ष और विपक्ष के बीच राजनीति चरम पर है। मुख्यमंत्री बीएस येदियुरप्पा ने अपने बेटे पर लगे आरोपों को लेकर सिद्धारमैया सहित अन्य नेताओं पर पलटवार किया है। सीएम येदियुरप्पा ( CM Yediyurappa ) ने विपक्षी नेताओं के सामने चुनौती पेश करते हुए भ्रष्टाचार के आरोपों को साबित करने की चुनौती दी है।

सीएम ने कहा है कि अगर बीवाई विजयेंद्र पर लगे भ्रष्टाचार के आरोप में रत्ती भर भी सच्चाई है तो वह राजनीति से सन्यास ले लेंगे। बता दें कि सीएम के बेटे बीवाई विजयेंद्र प्रदेश बीजेपी के उपाध्यक्ष हैं।

अब विदेशों में फंसे Tibetan Diaspora भी इंडिया लौट सकेंगे, पूरी करनी होंगी ये खास शर्तें

कांग्रेस नेताओं ने विजयेंद्र पर लगाया रिश्वत लेने का आरोप

कर्नाटक विधानसभा में बीजेपी सरकार के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव पर चर्चा के दौरान सीएम येदियुरप्पा ने सदन में विपक्ष के नेता सिद्धारमैया पर पलटवार किया। उन्होंने कहा कि कांग्रेस के नेताओं ने आरोप लगाया है कि विजयेंद्र ने बेंगलूरु विकास प्राधिकरण के ठेकेदार से रिश्वत ली है।

सीएम ने कहा कि विपक्षी नेताओं ने एक कन्नड़ न्यूज चैनल के स्टिंग ऑपरेशन के आधार पर यह आरोप लगाया है। विपक्षी नेताओं ने दावा किया गया है कि 666 करोड़ रुपए की परियोजना हासिल करने वाले वाले ठेकेदार ने आरटीजीएस के जरिए विजयेंद्र को पैसे दिए हैं।

Bihar Election : उपेंद्र कुशवाहा पड़े अलग-थलग, आरजेडी नाराज तो नीतीश ने की 'नो एंट्री' की बात

सिद्धारमैया को दी आरोप साबित करने की चुनौती

सीएम बीएस येदियुरप्पा ने सिद्धारमैया व अन्य कांग्रेसी नेताओं से कहा कि आप लोगों को बेबुनियाद आरोप लगाने के लिए शर्मिंदगी महसूस करनी चाहिए। सीएम ने सिद्धारमैया को आरोप साबित करने और लोकायुक्त तथा भ्रष्टाचार रोधी ब्यूरो के पास शिकायत दर्ज कराने की चुनौती भी दी है। मुख्यमंत्री ने कहा कि सिद्धरमैया ऐसे व्यक्ति का जिक्र कर रहे हैं जो सदन के सदस्य नहीं हैं।

इस मुद्दे पर बीजेपी के अन्य नेताओं ने भी विपक्षी नेताओं पर जमकर आलोचना की। सत्ता पक्ष के नेताओं के सख्त रवैये को भांपते हुए कांग्रेस के विधायक भी अपने नेता के बचाव में उतर आए।

टीवी चैनल के खिलाफ केस दर्ज

इस पर कानून एवं संसदीय कार्य मंत्री जेसी मधुस्वामी ने हस्तक्षेप करते हुए कहा कि सिद्धरमैया जिस ठेकेदार पर रिश्वत देने का आरोप लगा रहे हैं उन्होंने टीवी चैनल के खिलाफ एक मामला दर्ज कराया हैं।

Show More
Dhirendra
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned