इथोपिया विमान हादसा: उड्डयन मंत्री सुरेश प्रभु ने बुलाई आपात बैठक, भारत ने बोइंग 737 मैक्स 8 पर लगाया बैन

इथोपिया विमान हादसा: उड्डयन मंत्री सुरेश प्रभु ने बुलाई आपात बैठक, भारत ने बोइंग 737 मैक्स 8 पर लगाया बैन
इथोपिया विमान हादसा: दुनियाभर में खौफ, भारत ने बोइंग 737 मैक्स 8 पर लगाया बैन

Anil Kumar | Publish: Mar, 13 2019 12:30:08 AM (IST) | Updated: Mar, 13 2019 09:16:24 AM (IST) इंडिया की अन्‍य खबरें

  • इथोपियन एयरलाइंस के विमान को दुनियाभर के कई देशों ने किया बैन।
  • भारत ने भी इथोपियन एयरलाइंस के बोइंग 737 मैक्स पर लगाया बैन।
  • DGCA ने कहा यात्रियों की सुरक्षा सर्वोपरि है।

नई दिल्ली। इथोपियन एयरलाइंस दुर्घटना के बाद बोइंग 737 मैक्स 8 जेट को लेकर दुनियाभर में सवाल खड़े हो रहे हैं। बीते 6 महीने के अंदर दो विमान हादसों से पूरी दुनिया में हवाई यात्रा करने वाले यात्रियों में खौफ फैल गया है। लिहाजा दुनिया के कई देशों ने अपने यहां यात्रियों की सुरक्षा को देखते हुए बोइंग 737 मैक्स 8 को बैन कर दिया है। अब इसी कड़ी में भारत भी शामिल हो गया है। भारत ने भी बोइंग 737 मैक्स 8 को बैन कर दिया है। मंगलवार की देर रात फैसला लेते हुए भारत सरकार ने तत्काल प्रभाव से भारत में बोइंग 737 मैक्स-8 के विमानों की उड़ान पर रोक लगा दी गई है। इस बाबत उड्डयन मंत्री सुरेश प्रभु ने सभी एयरलाइंसों की आपात बैठक बुलाई है। मिनिस्ट्री ऑफ सिविल एविएशन (DGCA) ने एक बयान जारी करते हुए कहा है कि जब तक इस विमान की सुरक्षा संबंधी जांच पूरी नहीं हो जाती तब तक इसकी उड़ान पर रोक कायम रहेगी। dgca ने आगे यह भी कहा कि यात्रियों की सुरक्षा सर्वोपरि है। इसलिए संबंधित एयरलाइंस और एजेंसियों के अधिकारियों से लगातार बातचीत की जा रही है।

दुनियाभर के 25 देशों ने लगाया बैन

बता दें कि इससे पहले दुनियाभर के कई देशों ने इथोपियन विमान हादसे के बाद से अपने देश में उड़ान पर रोक लगा दी है। मलेशिया, ब्रिटेन, ऑस्ट्रेलिया, इंडोनेशिया, चीन, इथोपिया, सिंगापुर और दक्षिण कोरिया समेत 25 देशों ने इन विमानों के उड़ान भरने पर रोक लगा दी है। उधर अमरीका के संघीय विमानन प्रशासन ने घोषणा की है कि अगर बोइंग 737 मैक्स में सुरक्षा संबंधी कोई खामी पाई जाती है तो उचित कार्रवाई की जाएगी। इतना ही नहीं यूनाइटेड किंगडम (यूके) ने तो अपने एयरस्पेस में ही इन विमानों के प्रवेश पर प्रतिबंध लगा दिया है। फिलहाल इथोपिया में दुर्घटनाग्रस्त हुए विमान का कॉकपिट डेटा रिकार्डर और ब्लैक बॉक्स मिल गए हैं और इसके जरिए दुर्घटना के कारणों का पता लगाने की कोशिश की जा रही है। आपको बता दें कि इस घटना में 157 लोग मारे गए थे।

इथोपिया विमान दुर्घटना: UN महासचिव एंटोनियो गुटेरेस ने हादसे पर जताया दुख

DGCA ने जारी की थी गाइडलाइन

आपको बता दें कि इस विमान हादसे के बाद से DGCA ने एक गाइडलाइन जारी किया था। DGCA ने बोइंग 737 मैक्स 8 विमान को उड़ाने वाले पायलटों के लिए जारी एक गाइडलाइन में यह बताया था कि इस विमान को उड़ाने के लिए कम से कम 1000 घंटे का अनुभव होना जरूरी है। बता दें कि बोइंग 737 मैक्स का विमान भारत में केवल स्पाइस जेट और जेट एयरवेज ही इस्तेमाल करती है। स्पाइस जेट के बेड़े में बोइंग 737 मैक्स-8 के कुल आठ विमान है। अब इसकी उड़ान पर रोक लगा दी गई है। इधर स्पाइस जेट ने बयान जारी कर कहा है कि उसके लिए यात्रियों की सुरक्षा सर्वोपरि हैष वह विमान के मुद्दे को लेकर डीजीसीए और बोइंग दोनों से जुड़ी हुई है तो वहीं जेट एयरवेज ने खुद के कर्ज में दबे होने की बात कहते हुए कहा कि वो विमानों का किराया देने में असमर्थ है। ऐसे विमानों का संचालन करने की स्थिति में ही वो नहीं है।

इथोपिया विमान दुर्घटना: सवालों के घेरे में बोइंग 737 मैक्स 8 जेट, 25 देशों ने उड़ान भरने पर लगाई रोक

सवालों के घेरे में बोइंग 737 मैक्स 8 जेट

दुनिया की सबसे बड़ी विमान निर्माता कंपनी बोइंग अपने 737 मैक्स 8 जेट्स की सुरक्षा पर सवालों का सामना कर रही है।चार महीनों के भीतर 737 मैक्स 8 जेट्स के साथ होने वाले हादसे के बाद दुनिया भर में इन विमानों की सुरक्षा को लेकर बहस शुरू हो गई है। इथोपियन एयरलाइंस की घातक दुर्घटना के बाद चीन वह पहला देश था जिसने विमानों की ग्राउंडिंग का आदेश दिया।उसके बाद तो एक के बाद कई देशों ने इन विमानों के उड़ने पर रोक लगा दी। उधर इथोपियन एयरलाइंस की उड़ान ET 302 के मलबे से कॉकपिट वॉयस रिकॉर्डर और फ्लाइट डेटा रिकॉर्डर बरामद कर लिया गया है। इस बात की उम्मीद लगाई जा रही है कि इससे हादसे के कारणों की जांच में मदद मिल सकेगी।

इथोपियन एयरलाइन का प्लेन क्रैश होने के बाद जागा भारत, बोइंग के सामने सख्ती से रखी यह बात

6 महीने के भीतर यह दूसरा विमान हादसा

जांचकर्ताओं को उम्मीद है कि ब्लैक बॉक्स से इस बात का पता लगाया जा सकेगा कि क्यों विमान अदीस अबाबा से नैरोबी के लिए उड़ान भरने के छह मिनट बाद दुर्घटनाग्रस्त हो गया। हालांकि जमीन पर मौजूद गवाहों ने विमान हादसे पर परस्पर विरोधी बयान दिए हैं। बता दें कि यह आपदा पिछले 4 महीनों में 737 मैक्स 8 के साथ दूसरी दुर्घटना थी। अक्टूबर में लायन एयर प्लेन का विमान इंडोनेशिया की राजधानी जकार्ता के पास समुद्र में दुर्घटनाग्रस्त हो गया, जिससे सभी 189 लोग मारे गए। अब अफ्रीका के सबसे बड़े वाहक इथोपिया एयरलाइन्स ने घोषणा की है कि वह अपने 737 मैक्स विमानों को सेवा से बाहर ले जाएगा। इससे पहले सोमवार को चीन के नागरिक उड्डयन प्रशासन ने देश की एयरलाइंस को बोइंग 737 मैक्स 8 विमान जमीन पर उतरने के आदेश दिए थे। बता दें कि रविवार की सुबह हुए इस हादसे में 157 लोगों की मौत हो गई थी, इसमें चार भारतीय भी शामिल थे।

 

Read the Latest India news hindi on Patrika.com. पढ़ें सबसे पहले India news पत्रिका डॉट कॉम पर.

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned