किसान आंदोलनः टीकरी बॉर्डर पर किसान की मौत, सल्फास की गोलियां खाकर लिखा था सुसाइड नोट

Highlights

  • राणा ने मंगलवार को टीकरी सीमा पर प्रदर्शन स्थल पर सल्फास की गोलियां खाई थीं।
  • रोहतक जिले में पकासमा गांव का रहने वाला था किसान।

नई दिल्ली। नए कृषि कानूनों के विरोध में दिल्ली के टीकरी बॉर्डर पर जहरीला पदार्थ खाने वाले एक किसान की बुधवार को दिल्ली के एक अस्पताल में इलाज के दौरान मौत हो गई।

सरकार ने 18 माह तक कानून स्थगित करने का प्रस्ताव रखा, किसान पीछे हटने को तैयार नहीं

पुलिस के अनुसार मृतक की पहचान जय भगवान राणा के तौर पर हुई है। वह हरियाणा के रोहतक जिले में पकासमा गांव का रहने वाला था। उन्होंने कहा कि राणा ने मंगलवार को टीकरी सीमा पर प्रदर्शन स्थल पर सल्फास की गोलियां खाई थीं।

अपने सुसाइड नोट में जय भगवान राणा ने लिखा कि वह एक छोटा किसान है। केंद्र के नए कृषि कानून के खिलाफ बहुत से किसान सड़कों पर हैं। उसने पत्र में लिखा, सरकार कहती है कि यह सिर्फ दो या तीन राज्यों का मामला है, मगर पूरे देश के किसान कानूनों के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे हैं। किसान और केंद्र के बीच बातचीत में भी गतिरोध बना हुआ है।

Mohit Saxena
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned