Unlock 4.0 पर अभी सरकार का अंतिम फैसला बाकी, मेट्रो-कॉलेज-बैंक्वेट हॉल पर मुख्य फोकस

  • मेट्रो ट्रेनों को सोशल डिस्टेंसिंग के सख्त पालन के साथ चलाने की संभावना।
  • स्कूल-कॉलेज को क्रमिक रूप से खोले जाने की बात पर चल रहा है विचार।
  • एक सितंबर से लागू होना है अनलॉक का अगला फेज, जल्द आएंगे निर्देश।

नई दिल्ली। केंद्र सरकार जल्द ही विभिन्न शहरों में मेट्रो ट्रेन को चलाए जाने की इजाजत दे सकती है। कुछ मंत्रालयों और विशेषज्ञों ने क्रमिक रूप से स्कूल-कॉलेज खोलने की भी सलाह दी है। लेकिन इस संबंध में केंद्र ने अभी अंतिम फैसला नहीं किया है। शादी-विवाह जैसे आयोजनों में मेहमानों की संख्या अभी सीमित ही रखी गई हैं।

क्या है संसद के मानसून सत्र में मोदी सरकार का एजेंडा? मंत्रियों के वेतन और भत्ते के कानून में संशोधन...

वरिष्ठ सरकारी सूत्र के मुताबिक अनलॉक के अगले चरण के दिशा-निर्देश अगले एक-दो दिन के अंदर जारी हो जाएंगे। इन पर एक सितंबर से अमल करना होगा।

मेट्रो में कई सख्तियों का करना होगा पालन

एक सितंबर से लागू होने वाले अनलॉक के अगले चरण में सीमित सवारियों और प्लेटफॉर्म पर सोशल डिस्टेंसिंग के नियमों के साथ मेट्रो फिर से चलाए जाने की इजाजत दिए जाने की संभावना है। सेवा शुरू करने से पहले सीट, गाड़ी और प्लेटफॉर्म आदि के सही तरीके से सैनेटाइजेशन और मास्क संबंधी नियमों के पालन की व्यवस्था भी करनी होगी।

metro1.jpg

यह भी सुनिश्चित करना होगा कि ट्रेन या प्लेटफॉर्म पर ज्यादा भीड़ नहीं हो। दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने भी मेट्रो शुरू मिली जानकारी के मुताबिक किए जाने की मांग की है। मेट्रो का सबसे बड़ा नेटवर्क दिल्ली में ही है।

स्कूल-कॉलेज के संबंध में लेना होगा फैसला

स्कूल, कॉलेज और कोचिंग आदि दोबारा क्रमिक रूप से खोलने के पक्ष में स्वास्थ्य मंत्रालय और कई विशेषज्ञों ने राय दी है। लेकिन इस संबंध में अभी अंतिम फैसला नहीं हुआ है। पिछले अनलॉक गाइलडाइन में सिर्फ यही कहा गया था कि अगस्त महीने के अंत तक स्कूल-कॉलेज बंद रहेंगे।

क्या सरकार का अगला लक्ष्य है जनसंख्या नियंत्रण, मानसून सत्र में कई सांसद ला सकते हैं प्राइवेट बिल

संभव है कि पहले कॉलेजों को स्वैच्छिक रूप से खोलने की इजाजत मिले। स्कूलों के संबंध में केंद्र के निर्देश के आधार पर अंतिम फैसला राज्यों को ही लेना है।

कोरोना काल में कब खुलेंगे स्कूल, मुख्यमंत्री ने कहा- अभी नहीं बता सकते अब तक खुलेंगे स्कूल

बड़े आयोजनों पर अभी फैसला नहीं

विवाह-शादी में अधिकतम 50 मेहमानों की सीमा को समाप्त करने को ले कर भी पर्यटन मंत्रालय की ओर से सिफारिश की गई है, लेकिन इस संबंध में अभी कोई फैसला नहीं हुआ है। योग सेंटर और जिम आदि को खोलने की छूट पिछले चरण में मिल चुकी है।

होटल-बैंक्वेट की कुल क्षमता का 50 प्रतिशत इस्तेमाल करने की बात कही- प्रह्लाद पटेल

केंद्रीय पर्यटन एवं संस्कृति मंत्री स्वतंत्र प्रभार प्रह्लाद सिंह पटेल ने राजस्थान पत्रिका से बातचीत में कहा कि उन्होंने शादी में मेहमानों की संख्या बढ़ाने को लेकर नहीं कहा है। बल्कि बैंक्वेट हॉसृल और होटल मालिकों की समस्या को देखते हुए यह सुझाव दिया है की किसी भी मीटिंग हॉल, बैंक्वेट हॉल या होटलों के सभा पक्ष की कुल क्षमता का 50 प्रतिशत इस्तेमाल करने की अनुमति दी जाए।

Good News: केंद्र सरकार ने वाहन स्वामियों को दी बड़ी छूट, लाइसेंस समेत दस्तावेज की वैधता इतने महीने बढ़ाई

पत्रिका से बातचीत में केंद्रीय मंत्री पटेल ने बताया कि लॉकडाउन की वजह से होटलों और बैंक्वेट हॉल मालिकों को काफ़ी नुक़सान हुआ है। उनके प्रतिनिधि पूरी सुरक्षा और सावधानी के साथ हॉल की कुल क्षमता का 50 प्रतिशत इस्तेमाल करने देने की इजाज़त मांग रहे थे। लिहाज़ा उन्होंने अपनी तरफ़ से सरकार से अनुरोध किया कि कुल क्षमता का 50 प्रतिशत इस्तेमाल करने पर विचार करें।

Show More
अमित कुमार बाजपेयी
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned