scriptHimanta Biswa Sarma sworn in as CM of Assam | हिमंत बिस्व सरमा ने असम के सीएम पद की शपथ ली, जेपी नड्डा समारोह में हुए शामिल | Patrika News

हिमंत बिस्व सरमा ने असम के सीएम पद की शपथ ली, जेपी नड्डा समारोह में हुए शामिल

हिमंत बिस्व सरमा के साथ भाजपा के 10, एजीपी के दो और यूपीपीएल के एक विधायक ने मंत्री पद की शपथ ली।

नई दिल्ली

Published: May 10, 2021 02:16:15 pm

नई दिल्ली। भाजपा नेता हिमंत बिस्व सरमा ने सोमवार को असम के सीएम पद की शपथ ली। श्रीमंत शंकरदेव कलाक्षेत्र में 12 बजे के करीब राज्यपाल जगदीश मुखी ने हिमंत बिस्वा सरमा को गोपनियता की शपथ दिलाई। उनके साथ भाजपा के 10, एजीपी के दो और यूपीपीएल के एक विधायक ने मंत्री पद की शपथ ली। शपथ ग्रहण समारोह में भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा के साथ कई वरिष्ठ नेताओं ने हिस्सा लिया।
hemant sarma
hemant sarma
नए मंत्रियों की सूची में असम भाजपा चीफ रंजीत कुमार दास,चंद्र मोहन पटवारी, परिमल शुक्लाबैद्य, रोनोज पेगु, संजय किशन, जोगन नोहन, अजंता नेयोग, अशोक सिंघल, पिजुष हजारिका, बिमल बोरा को शामिल किया गया है। ये सभी भाजपा से विधायक हैं। इनके साथ गठबंधन की पार्टी असम गण परिषद के अतुल बोरा और केशव महानता को मंत्रिमंडल में रखा गया है। यूनाइटेड पीपल्स पार्टी लिबरल के उरखाव ग्वारा ब्रह्मा को भी मंत्रिमंडल में शामिल किया गया है।
यह भी पढ़ें

कोरोना के बाद 'ब्लैक फंगस' को लेकर सरकार की बढ़ी चिंता, ICMR ने जारी की अहम एडवाइजरी

सरमा ने कामाख्या मंदिर में की पूजा

गौरतलब है कि शपथ ग्रहण से पहले हिमंत बिस्व सरमा ने कामाख्या मंदिर और डोल गोविंद मंदिर में जाकर पूजा अर्चना की। पूर्व सीएम सर्वानंद सोनोवाल ने सरमा का नाम सबसे आगे रखा। इस पर सभी विधायकों ने सहमति जताई। सरमा ने रविवार को राज्यपाल जगदीश मुखी से मुलाकात कर सरकार गठन का दावा किया।
सरमा पर ज्यादा भरोसा जताया

गौरतलब है कि राज्य में सीएम पद को लेकर तस्वीर साफ नहीं हो पाई थी। सोनोवाल से ज्यादा सरमा की दावेदारी को ज्यादा अहम माना गया। बाद में पार्टी हाईकमान ने सरमा पर ज्यादा भरोसा जताया। इस सिलसिले में भाजपा नेतृत्व ने दोनों नेताओं को शनिवार को दिल्ली बुलाया था। रविवार को गुवाहाटी में विधायक दल की बैठक सरमा के नाम को आगे रखा गया। सोनोवाल को केंद्र सरकार में जगह दी जाएगी।
यह भी पढ़ें

रिश्तों की परीक्षा ले रहा कोरोना, जज ने पिता की मौत के बाद शव लेने से किया इनकार, ऐसे हुआ अंतिम संस्कार

पांचवीं बार विधायक बने सरमा

विधायक दल के नेता के रूप में सरमा को आगे करने को लेकर सोनोवाल ने कहा कि नॉर्थ ईस्ट डेमोक्रेटिक अलायंस (नेडा) के संयोजक सरमा उनके लिये छोटे भाई की तरह हैं। वे उन्हें इस नई यात्रा के लिए शुभकामनाएं देते हैं। वहीं सरमा ने कहा कि उनके पूर्ववर्ती सर्वानंद सोनोवाल ‘मार्गदर्शक’ बने रहेंगे।
असम में राजग को 75 सीटें मिली

असम की 126 सदस्यीय विधानसभा में सत्तारूढ़ गठबंधन को 75 सीटें मिली हैं। भाजपा को 60 सीटें मिलीं, वहीं गठबंधन साझेदार असम गण परिषद (एजीपी) व यूनाइटेड पीपुल्स पार्टी लिबरल (यूपीपीएल) को नौ और छह सीटें मिली हैं। हिमंत के लिए सबसे बड़ी चुनौती राज्य में को बढ़ रहे कोरोना संक्रमण के मामले हैं। यहां पर तेजी से संक्रमण फैल रहा है।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

इन नाम वाली लड़कियां चमका सकती हैं ससुराल वालों की किस्मत, होती हैं भाग्यशालीजब हनीमून पर ताहिरा का ब्रेस्ट मिल्क पी गए थे आयुष्मान खुराना, बताया था पौष्टिकIndian Railways : अब ट्रेन में यात्रा करना मुश्किल, रेलवे ने जारी की नयी गाइडलाइन, ज़रूर पढ़ें ये नियमधन-संपत्ति के मामले में बेहद लकी माने जाते हैं इन बर्थ डेट वाले लोग, देखें क्या आप भी हैं इनमें शामिलइन 4 राशि की लड़कियों के सबसे ज्यादा दीवाने माने जाते हैं लड़के, पति के दिल पर करती हैं राजशेखावाटी सहित राजस्थान के 12 जिलों में होगी बरसातदिल्ली-एनसीआर में बनेंगे छह नए मेट्रो कॉरिडोर, जानिए पूरी प्लानिंगयदि ये रत्न कर जाए सूट तो 30 दिनों के अंदर दिखा देता है अपना कमाल, इन राशियों के लिए सबसे शुभ
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.