scriptFather died due to coronavirus Judge refuse to take body not join funeral in Siwan at Bihar | रिश्तों की परीक्षा ले रहा कोरोना, जज ने पिता की मौत के बाद शव लेने से किया इनकार, ऐसे हुआ अंतिम संस्कार | Patrika News

रिश्तों की परीक्षा ले रहा कोरोना, जज ने पिता की मौत के बाद शव लेने से किया इनकार, ऐसे हुआ अंतिम संस्कार

कोरोना का कहर मानवीय संवेदना के साथ-साथ रिश्तों की भी ले रहा परीक्षा, जज ने कोविड के खौफ से किया पिता का शव लेने से इनकार, फिर ऐसे हुआ अंतिम संस्कार

नई दिल्ली

Published: May 10, 2021 08:36:49 am

नई दिल्ली। देशभर में कोरोना ( Coronavirus In India ) की दूसरी लहर का कहर जरी है। महामारी के इस दौर में हर कोई दूसरों की मदद के लिए कोशिशों में जुटा हुई है। कुछ लोग बतौर योद्धा अपनी जान हथेली पर रखकर आगे आ रहे हैं और लोगों की जान बचा रहे हैं। लेकिन इस बीच बिहार ( Bihar ) के सीवान ( Siwan )से दिल दहला देने वाली घटना सामने आई है।
Coronavirus In Bihar
Coronavirus In Bihar
दरअसल कोरोना के खौफ के चलते यहां इंसानियत भी दम तोड़ रही है। कोरोना के डर के चलते एक जज बेटे ने अपने पिता के शव को लेने से ही इनकार कर दिया। आइए जानते फिर कैसे हुआ उनका अंतिम संस्कार और क्या है पूरा मामला...
यह भी पढ़ेँः Corona संक्रमित डायबिटीज मरीजों में 'ब्लैक फंगस' का बढ़ा खतरा, ऐसे करता है अटैक

कोरोना महामारी की रफ्तार में भले ही बीते 24 घंटे में थोड़ा सा ब्रेक लगा हो, लेकिन इसका खौफ इस करद लोगों पर हावी हो गया है कि वे अपने जिम्मेदारियों को निभाने में भी पीछे हटने लगे हैं।
कोरोना का कहर मानवीय संवेदना के साथ-साथ रिश्तों की भी परीक्षा भी ले रहा है। लोग अपनों की मौत के बाद उन्हें अंतिम विदाई तक के लिए तैयार नहीं दिख रहे। ऐसा ही मामला बिहार के सीवान में भी देखने को मिला।
यहां एक जज साहब के पिता की कोरोना से मौत हो गई। इस बात का पता जैसे ही जज साहब को हुआ तो उन्होंने अपने पिता का शव लेने से इनकार कर दिया।
फिर ऐसे हुआ अंतिम संस्कार
जज साहब तो अपने कर्तव्य और जिम्मेदारी से पीछे हट गए। कोरोना के डर के चलते उन्होंने एक वकील को अधिकृत करते हुए प्रशासन से उनका अंतिम संस्कार कराने का निवेदन कर डाला।
बहरहाल कोरोना संक्रमण से पिता की मौत क्या हुई जज साहब ने पिता के अंतिम दर्शन व विदाई में भी शामिल होना उचित नही समझा। अधिवक्ता ने आपदा साथी ग्रुप के साथ मिलकर बुजुर्ग को अंतिम विदाई दी।
जज ने ये दी सफाई
जज साहब ने इस संबंध में एक पत्र जारी कर अपनी सफाई दी। उन्होंने कहा कि हम विवशता के चलते अपने पिता का पार्थिव शरीर अपने यहां नहीं ला सकते। उन्होंने जिला प्रशासन से अपने स्तर से दाह संस्कार कराने का निवेदन किया।
यह भी पढ़ेंः राजद सुप्रीमो लालू यादव ने नीतीश सरकार को बताया कोरोना वायरस से ज्यादा खतरनाक, जानिए फिर क्या हुआ

ये बोले डॉक्टर
स्वास्थ्य विभाग से जुड़े एक डॉक्टर के मुताबिक करीब चार दिन पहले जज साहब ने डायट स्थित डेडिकेटेड कोविड हेल्थ सेंटर में अपने बीमार पिता को भर्ती कराया था।

जांच के दौरान उनके पिता की कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आई। इसके बाद अस्पताल प्रबंधन की ओर से न्यायाधीश के बुजुर्ग पिता का जरूरी इलाज शुरू हुआ। हालांकि उनकी तबीयत तेजी से बिगड़ने लगी और सुधार ना होने की वजह से उन्होंने कोरोना से जंग हार अपनी जान गंवा दी।
पिता की मौत की खबर सुनने के बाद दूसरों के साथ न्याय करने वाले जज साहब ने एक पत्र जारी कर दिया। इस पत्र को जिसने देखा वो दंग रह गया। क्योंकि इस पत्र में जज साबह ने प्रशासन की ओर से पिता के अंतिम संस्कार करने का आवेदन किया था।
बहरहाल वकील ने अपने ग्रुप के साथियों के साथ मिलकर उनके पिता के अंतिम बिदाई दी, लेकिन जज साहब के इस डर ने रिश्तों की परीक्षा का क्रूर नमूना जरूर समाज के सामने रखा है।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Monsoon Alert : राजस्थान के आधे जिलों में कमजोर पड़ेगा मानसून, दो संभागों में ही भारी बारिश का अलर्टमुस्कुराए बांध: प्रदेश के बांधों में पानी की आवक जारी, बीसलपुर बांध के जलस्तर में छह सेंटीमीटर की हुई बढ़ोतरीराजस्थान में राशन की दुकानों पर अब गार्ड सिस्टम, मिलेगी ये सुविधाधन दायक मानी जाती हैं ये 5 अंगूठियां, लेकिन इस तरह से पहनने पर हो सकता है नुकसानस्वप्न शास्त्र: सपने में खुद को बार-बार ऊंचाई से गिरते देखना नहीं है बेवजह, जानें क्या है इसका मतलबराखी पर बेटियों को तोहफे में देना चाहता था भाई, बेटे की लालसा में दूसरे का बच्चा चुरा एक पिता बना किडनैपरबंटी-बबली ने मकान मालिक को लगाई 8 लाख रुपए की चपत, बलात्कार के केस में फंसाने की दी थी धमकीराजस्थान में ईडी की एन्ट्री, शेयर ब्रोकर को किया गिरफ्तार, पैसे लगाए बिना करोड़ों की दौलत

बड़ी खबरें

राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू का देश के नाम संबोधन, कहा - '2047 तक हम अपने स्वाधीनता सेनानियों के सपनों को पूरी तरह साकार कर लेंगे'पंजाब में शुरु हुई सेहत क्रांति की शुरुआत, 75 'आम आदमी क्लीनिक' बन कर तैयार, देश के 75वें वर्षगांठ पर हो जाएंगे जनता को समर्पितMaharashtra: सीएम शिंदे की ‘मिनी’ टीम में हुआ विभागों का बंटवारा, फडणवीस को मिला गृह और वित्त, जानें किसे मिली क्या जिम्मेदारीलाखों खर्च कर गुजराती युवक ने तिरंगे के रंग में रंगी कार, PM मोदी व अमित शाह से मिलने की इच्छा लिए पहुंचा दिल्लीशेयर मार्केट के बिगबुल राकेश झुनझुनवाला की मौत ऐसे हुई, डॉक्टर ने बताई वजहBJP ने देश विभाजन पर वीडियो जारी कर जवाहर लाल नेहरू पर साधा निशाना, कांग्रेस ने किया पलटवारIndependent Day पर देशभर के 1082 पुलिस जवानों को मिलेगा पदक, सबसे ज्यादा 125 जम्मू कश्मीर पुलिस कोहरियाणा में निकली 6600 फीट लंबी तिरंगा यात्रा, मनाया जा रहा आजादी के अमृत महोत्सव का जश्न
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.