अस्पताल की लापरवाही : शव का अंतिम संस्कार करने पहुंचे परिजन, Dead Body देख उड़ गए होश

Highlights
- हरियाणा (Haryana) के फरीदाबाद (Faridabad) जिले में घटना सामने आई है, जिसने एक बार फिर कई सवाल खड़े कर दिए हैं
- यहां एक व्यक्ति के इलाज के दौरान मौत के बाद उसके परिजनों को महिला की डेडबॉडी (Dead Body) सौंप दी गई
- मामले का खुलासा उस वक्त हुआ जब परिजन अंतिम संस्कार (Funeral) के लिए शमशान घाट पहुंचे

 

नई दिल्ली. कोरोना काल (Coronavirus) के बीच अस्पतालों की लापरवाही (Carelessness of hospitals) लगातार सामने आ रही है। कभी मरीजों के साथ तो कभी परिजनों के साथ बदसलूकी पर लापरवाही (hospital negligence) की घटना लगातार सामने आ रही है। इसी क्रम में हरियाणा (Haryana) के फरीदाबाद (Faridabad) जिले में घटना सामने आई है, जिसने एक बार फिर कई सवाल खड़े कर दिए हैं। यहां एक व्यक्ति के इलाज के दौरान मौत के बाद उसके परिजनों को महिला की डेडबॉडी (Dead Body) सौंप दी गई।

मामले का खुलासा उस वक्त हुआ जब परिजन अंतिम संस्कार (Funeral) के लिए शमशान घाट पहुंचे। परिजनों ने जैसे ही मृतक का चेहरा देखा तो उनके होश उड़ गए। परिजनों (hospital negligence) शव को अपना समझ कर दाह संस्कार कर रहे थे पर वह 80 साल की एक बुजुर्ग महिला का था। जिसे देखकर परिजन आक्रोशित हो उठे।

परिजनों ने लगाया आरोप

उन्होंने तुरंत ही अस्पताल की लापरवाही करार देते इसकी सूचना एशियन अस्पताल (Asian Hospital) को दी गई। अस्पताल की तरफ से तुरंत ही दूसरी एंबुलेंस से संबंधित व्यक्ति के शव को श्मशान घाट पहुंचाया गया और महिला के शव को हॉस्पिटल वापस ले जाया गया। वहीं परिजनों का आरोप है कि हॉस्पिटल की तरफ से उन्हें डराया धमकाया जा रहा है, ताकि वे इसकी सूचना पुलिस को ना दे दे।

की जाएगी जांच

घटना की सूचना पाकर पुलिस भी श्‍मशान घाट पहुंच गई और परिजनों को डेडबॉडी सौंपकर कर जांच शुरू कर दी है। वहीं, अस्पताल प्रबंधन इस मामले को लेकर कुछ कहने के लिए तैयार नहीं है, लेकिन उनके मुताबिक अस्पताल के कर्मचारी से लापरवाही हुई है जिसकी वह जांच कर रहे हैं।

कर्मचारियों की गलती आई सामने

सराय ख्वाजा थाना प्रभारी नरेश कुमार ने बताया कि अस्पताल कर्मचारियों की गलती की वजह से शव बदल गए थे। समय रहते इस गलती के बारे में पता चलने पर दोनों पक्षों को उनके परिजन का शव दे दिया गया। मामले में अभी तक किसी भी पक्ष ने लिखित शिकायत नहीं दी है। कोई लिखित शिकायत देता है तो पुलिस मामला दर्ज कर कार्रवाई करेगी।

Ruchi Sharma
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned