अपनी सादगी के लिए जाने जाते हैं केंद्रीय मंत्री मनसुख मांडविया, साइकिल से जाते हैं संसद

  • कैबिनेट में शामिल मांडविया करोड़ों ( Mansukh Mandaviya ) की संपत्ति के हैं मालिक
  • रोज साइकिल से संसद जाते हैं मनसुख मांडविया
  • कई सांसदों को साइकल से संसद जाने के लिए किया प्रेरित

नई दिल्ली। सार्वजनिक जीवन में रहते हुए कुछ लोग समाज और देश के लिए मिसाल बन जाते हैं। ऐसे ही एक शख्स हैं, केंद्रीय मंत्री मनसुखलाल मांडविया ( Mansukhlal Mandaviya ) जो गुजरात ( Gujarat ) से राज्यसभा सांसद हैं। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ( pm modi ) की कैबिनेट में शामिल मांडविया करोड़ों की संपत्ति के मालिक हैं। फिर भी इनकी सादगी ही उनकी पहचान है। केंद्रीय मंत्री संसद में साइकिल से आने वाले सांसद के रूप में पहचाने जाते हैं।

यह भी पढ़ें-पुलवामा आतंकी हमला: बम बनाने का सामान Amazon से ऑनलाइन मंगाया गया था- NIA

करोड़ों की संपत्ति के मालिक

राज्यसभा चुनाव के समय मनसुख भाई मांडविया ने अपनी आय घोषित की थी, जिसके मुताबिक वे करोड़ों की संपत्ति के मालिक हैं। लेकिन अच्छा काम करके न केवल उन्होंने अपनी साख बनाई बल्कि मोदी कैबिनेट में जगह बनाने में कामयाब रहे। मनसुख मांडविया पर्यावरण संरक्षण को प्राथमिकता देते हैं। दूसरों को भी ऐसा करने की सलाह देते हैं।

ध्यान रहे कि मांडविया राष्ट्रपति भवन में मंत्री पद की शपथ लेने के लिए भी साइकिल चलाकर ही पहुंचे थे। संसद में अक्सर साइकिल से आने वाले इस केंद्रीय मंत्री ने कहा कि वह और सदस्यों को भी साइकिल से आने के लिए प्रोत्साहित करते रहते हैं।

मनसुख मांडविया ने संसद में साइकिल से आने के पीछे रोचक कहानी बताई। संसद में साइकिल से आने की शुरुआत करने के बारे में बताते हुए कहा कि जब वह राज्यसभा सदस्य बने तो उन्हें स्वर्ण जयंती सदन में एक फ्लैट आवंटित किया गया। उन्हें संसद आने के लिए वाहन का इंतजार करना पड़ता था।

Mansukh Mandaviya

उन्होंने कहा, 'जब वाहन आने में देरी हो गई थी तो मुझे उस दौरान खड़ा रहना पड़ा और 10-15 मिनट तक इंतजार करना पड़ा। दूरी मुश्किल से आधा किलोमीटर थी। इसलिए मेरे दिमाग में विचार आया कि क्यों नहीं साइकिल से (सदन) पहुंचा जाए, जो प्रदूषण मुक्त, पर्यावरण के अनुकूल है। मैंने साइकिल चलाना शुरू किया और संसद के सेंट्रल हॉल में दिवंगत पूर्व मंत्री अनिल माधव दवे के साथ इस बारे में चर्चा की।'

यह भी पढ़ें-दिल्ली हिंसा: ताहिर हुसैन की कुंडली खंगालने में लगी SIT, परिचित-रिश्तेदारों से कर रही है पूछताछ

मनसुख मांडविया ने कहा कि इसके तुरंत बाद संसद में सांसदों का 'क्लाइमेट क्लब' बना और दवे ने भी साइकिल चलानी शुरू की। इसके बाद अर्जुन राम मेघवाल, केटी तुलसी, डॉ. विकास महात्मे जैसे अन्य लोग इस क्लब से जुड़े।

गुजरात से राज्यसभा सांसद मांडविया ने कहा, 'हमारे पास संसद में एक क्लाइमेट क्लब है। एक समय था जब 8 से 10 सांसद साइकिल से संसद आते थे और इसके बाद से अब सदस्यों की संख्या 46 तक पहुंच गई है। अब मुझे इसे और मजबूत बनाना है और नए सांसदों को इस क्लब से जोड़ना है।'

pm modi नरेंद्र मोदी
Shivani Singh
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned