scriptNew Symptoms in corona case | कोरोना के एक और लक्षण ने बढ़ाई मुश्किलें, ठंड में बढ़ा ज्यादा असर | Patrika News

कोरोना के एक और लक्षण ने बढ़ाई मुश्किलें, ठंड में बढ़ा ज्यादा असर

locationनई दिल्लीPublished: Nov 17, 2020 01:50:59 pm

Submitted by:

Kaushlendra Pathak

  • COVID-19 के नए लक्षण से बढ़ी मुश्किलें
  • कोरोना के कारण शरीर में मस्कुलोस्केलेटल सिस्टम भी प्रभावित!

New Symptoms in corona case
कोरोना के नए लक्षण से बढ़ी मुश्किलें।
नई दिल्ली। चीन ( coronavirus in China ) के वुहान शहर से फैले कोरोना वायरस का कहर पूरी दुनिया में जारी है। आलम ये है कि पाबंदियों और लॉकडाउन के बावजूद हर कोरोना के केस लगातार बढ़ रहा है। हालांकि, कई जगहों पर कुछ समय से Unlock की प्रक्रिया जारी है। लेकिन, अचानक दोबारा मामले बढ़ रहे हैं। वहीं, इस महामारी को लेकर लगातार नए लक्षण भी सामने आ रहे हैं। इसी कड़ी में कोविड-19 के एक और लक्षण सामने आए हैं, जिसने एक बार फि लोगों की मुश्किलें बढ़ा दी है।
पढ़ें- दिल्ली पर कोरोना का संकट! दुनिया में अब तक की सबसे खराब स्थिति में पहुंची राष्ट्रीय राजधानी

कोरोना के नए लक्षण ने बढ़ाई मुश्किलें

एक स्टडी में दावा किया गया है कि कोरोना के कारण इंसान के शरीर में मस्कुलोस्केलेटल सिस्टम भी प्रभावित हो रहे हैं, जिसके कारण दर्ज ज्यादा होता है। इतना ही नहीं स्टडी में कहा गया है कि मांसपेशियों में दर्द कोरोना के संभावित लक्षण हो सकते हैं। यूएस नेशनल लाइब्रेरी ऑफ मेडिसिन नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ हेल्थ में पब्लिश्ड एक स्टडी के अनुसार, वायरल संक्रमण कोरोना और इन्फ्लूएंजा के रोगियों में एक लक्षण के रूप में मायलजिया भी हो सकता है। इसमें रोगियों को ज्यादा दर्द होता है। लिहाजा, लोगों से ज्यादा सावधान रहने की अपील की गई है।
इस तरह की हो समस्या तो रहें सावधान!

रिपोर्ट के अनुसार, मांसपेशियों में दर्द से रोगियों को लिगामेंट्स, टेंडन्स और फेसिया में काफी दर्द महसूस हो सकता है। इसका असर सॉफ्ट टिशूज मसल्स, बोन्स और ऑर्गन पर भी पड़ सकता है। विश्व स्वास्थ्य संगठन के मुताबिक, चीन में 55,924 कोरोना संक्रमित लोगों में 14.8 प्रतिशत रोगियों को मायलजिया की शिकायत थी। रिपोर्ट में कहा गया है कि कोरोना संक्रमितों का आंकड़ा और भी ज्यादा है। लेकिन, अब मायलजिया की शिकायत भी मिलनी शुरू हो गई है। स्टडी के अनुसार ठंड में इसका असर और ज्यादा हो सकता है। लिहाजा, लोगों से सर्दियों के मौसम में और भी ज्यादा सतर्क रहने के लिए कहा गया है और इस तरह की समस्या होने पर तुरंत कोरोना जांच कराने की सलाह दी गई है।

ट्रेंडिंग वीडियो