अयोध्‍या विवाद: वादी इकबाल अंसारी का बड़ा बयान- फैसला जो भी आए, SC में नहीं दूंगा चुनौती

  • विरोध में फैसला आने पर भी नहीं खटखटाऊंगा अदालत का दरवाजा
  • अब तो अयोध्‍या विवाद बहुत जल्‍द फैसला आने की उम्‍मीद है
  • हाशिम अंसारी के बेटे हैं इकबाल अंसारी

नई दिल्‍ली। अयोध्या विवाद मामले में बुधवार को सुनवाई पूरी होने के बाद वादी इकबाल अंसारी ने कहा है कि वह राम जन्मभूमि-बाबरी मस्जिद मुकदमे में सुप्रीम कोर्ट के फैसले को स्वीकार करेंगे। विरोध में फैसला आने पर भी चुनौती देने वाली कोई याचिका दायर नहीं करेंगे।

इकबाल अंसारी हाशिम अंसारी के पुत्र हैं। हाशिल अंसारी बाबरी मस्जिद मामले में सबसे पुराने मुकदमेबाज थे। उन्होंने कहा कि वह खुश हैं कि मामला अपने तार्किक निष्कर्ष के अंतिम चरण में पहुंच गया है।

Indo-Pak बॉर्डर पर तैनात होगा एंटी ड्रोन सिस्टम, हवा में दुश्मन के अरमानों को कर देगा ध्‍वस्‍त

अंसारी ने कहा कि लगभग 70 वर्षों तक अयोध्या ने इस मामले पर सिर्फ राजनीति देखी है। अब इस बात की उम्‍मीद बंधी है कि यहां कुछ विकास होगा। इकबाल अंसारी ने कहा कि उन्होंने अपने पिता द्वारा शुरू की गई लड़ाई को निभाने की कसम खाई थी और उन्होंने अपना वादा पूरा किया।

आपको बता दें कि अयोध्या विवाद अब अपने समाधान के अंतिम दौर में है। राम जन्मभूमि बाबरी मस्जिद पर मालिकाना हक को लेकर 40 दिन तक रोजाना चली सुनवाई बुधवार को पूरी हो गई। सुप्रीम कोर्ट ने सभी पक्षों की बहस सुनने के बाद अपना फैसला सुरक्षित रख लिया है। बताया जा रहा है कि इस पर फैसला जल्द आ सकता है।

जम्‍मू-कश्मीर: फारूक अब्दुल्ला की बहन और बेटी को मिली जमानत, दो दिन से थी नजरबंद

Show More
Dhirendra
और पढ़े
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned