पंजाब: भाजपा विधायक पर हमले को लेकर गवर्नर ने जताई चिंता, कहा- दोषियों पर जल्द हो कार्रवाई

भाजपा विधायक अरुण नारंग की शनिवार को मुक्तसर जिले के मलोट में किसानों के एक समूह ने कथित रूप से पिटाई कर दी थी।

नई दिल्ली। पंजाब के राज्यपाल वी पी सिंह बदनौर (Vp Singh Badnore) ने मुक्तसर जिले में भाजपा के एक विधायक पर हाल में हुए हमले की रविवार को कड़ी निंदा की है। इसके साथ ही राज्यपाल ने कांग्रेस के नेतृत्व वाली राज्य सरकार से एक रिपोर्ट मांगी है। राज्यपाल ने पंजाब के सीएम अमरिंदर सिंह को इस घटना को लेकर अपनी चिंता व्यक्त की है।

दरअसल अबोहर से भाजपा विधायक अरुण नारंग की शनिवार को मुक्तसर जिले के मलोट में किसानों के एक समूह ने कथित रूप से पिटाई कर दी थी। उनके कपड़े फाड़ दिए गए। भाजपा विधायक पत्रकार वार्ता को संबोधित करने के लिए मलोट पहुंचे थे। पंजाब के भाजपा नेताओं के एक प्रतिनिधिमंडल ने राज्य इकाई के अध्यक्ष अश्वनी शर्मा और केंद्रीय मंत्री सोम प्रकाश के नेतृत्व में राज्यपाल से मुलाकात की और उन्हें एक ज्ञापन सौंपा।

ये भी पढ़ें: बेकाबू कोरोना का कहर: महाराष्ट्र में लगा नाइट कर्फ्यू, मुंबई में कोरोना तोड़ रहा रिकॉर्ड

सत्तारूढ़ पार्टी के इशारे पर हुआ हमला

एक आधिकारिक बयान में कहा गया कि ज्ञापन में कांग्रेस सरकार के इशारे पर भाजपा कार्यकर्ताओं और नेताओं पर 'अवैध और असंवैधानिक तरीके से बढ़ते हमलों' पर प्रकाश डाला गया है। इसमें बताया गया है कि प्रतिनिधिमंडल ने 'सत्तारूढ़ पार्टी की ओर से समर्थित राजनीतिक रूप से प्रेरित उपद्रवियों' के नारंग पर हिंसक हमला करने को लेकर राज्यपाल को जानकारी दी।

राज्यपाल ने हमले की निंदा की

प्रतिनिधिमंडल ने कांग्रेस के नेतृत्व वाली सरकार को बर्खास्त करने और राज्य में कानून व्यवस्था को बनाने का आह्वान किया है। राज्यपाल ने नारंग पर हमले की निंदा की है। बदनौर ने एक बयान में कहा कि राज्य सरकार किसी पर भी इस तरह के गैरकानूनी और हिंसक हमलों की अनुमति नहीं दे सकती है।

भाजपा के नेताओं ने विरोध में उतारी शर्ट

पंजाब के राज्यपाल से मुलाकात करने के बाद भाजपा के कार्यकर्ता मुख्यमंत्री आवास की ओर बढ़े। भाजपा के कुछ नेताओं ने विरोध में अपनी शर्ट भी उतार दी। प्रदर्शनकारियों ने राज्य में कांग्रेस के नेतृत्व वाली सरकार के खिलाफ भी नारे लगाए। उन्होंने आरोप लगाया कि कानून—व्यवस्था पूरी तरह से विफल हो चुकी है।

Mohit Saxena
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned