Coronavirus: कोरोना फिर बिगाड़ रहा हालात, देश के इस शहर में लगा नाइट कर्फ्यू

  • देश में कोरोना वायरस के खिलाफ वैक्सीनेशन अभियान जारी है
  • 60 से ज्यादा उम्र के लोगों को कोरोना का टीका लगाया जा रहा है

नई दिल्ली। देश में कोरोना वायरस ( Coronavirus in india ) के खिलाफ वैक्सीनेशन अभियान ( Corona Vaccination ) जारी है। वैक्सीनेशन का यह तीसरा चरण शुरू हो चुका है, जिसके तहत 45 साल से ऊपर बीमार व 60 से ज्यादा उम्र के लोगों को कोरोना का टीका ( Corona Vaccine ) लगाया जा रहा है। देशव्यापी इस वैक्सीनेशन के बावजूद भी कई राज्यों में कोरोना वायरस ( Coronavirus ) का यह जहरीला नाग एक बार फिर से अपना फल उठा रहा है। यही वजह है कि कई शहरों में नाइट कर्फ्यू जैसे सख्त कदम उठाए गए हैं। कोरोना मामलों में अचानक आए उछाल की वजह से पंजाब के जालंधर में नाइट कर्फ्यू ( Night curfew ) लगाने का फैसला लिया गया है। जिला मजिस्ट्रेट घनश्याम थोरी की ओर से शनिवार दोपहर को जारी एक आदेश में कहा गया कि नाइट कर्फ्यू रात 11 बजे से सुबह 5 बजे तक जारी रहेगा।

महाराष्ट्र के बाद अब इस राज्य में कोरोना का कहर, 24 घंटे में सामने आए इतने मामले

जिला मजिस्ट्रेट की ओर से जारी आदेश के अनुसार इस नाइट कफ्र्यू के दौरान लोगों की घरों से बाहर अनावश्यक आवाजाही पर प्रतिबंध रहेगा। केवल अति-आवश्यक सेवाओं को ही कफ्र्यू में छूट दी जाएगी। हालांकि जिला प्रशासन की ओर से यह साफ नहीं किया गया है कि नाइट कर्फ्यू कब तक जारी रहेगा। आपको बता दें कि बीते दो दिनों में कोरोना वायरस के मामलों में अप्रत्याशित बढोतरी देखने को मिली थी। यह ऐसा समय है जब छह महीने बाद कोरोना के मामले एक बार फिर से तीन सौ के आसपास पहुंच गए थे। शुक्रवार को भी कोरोना वायरस के 200 से ज्यादा नए मरीज देखने को मिले थे। यही वजह है कि जिला प्रशासन ने कोरोना की रोकथाम के लिए नाइट कफ्र्यू जैसे सख्त कदम उठाने का मजबूर हो गया था।

Farmer Protest: इस नेता ने ली किसानों की समस्याओं के निपटारे की जिम्मेदारी, दिए निर्देश

जिला मजिस्ट्रेट घनश्याम थोरी ने जानकारी देते हुए बताया कि कोरोना केसों में लगातार वृद्धि देखने को मिल रही है। यही वजह है कि कोरोना से लोगों के बचाव के लिए यह कदम उठाना पड़ा। आपको बता दें कि भारत में 16 जनवरी को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने दुनिया के सबसे बड़े कोरोना वैक्सीनेशन अभियान की शुरुआत की थी। वैक्सीनेश के पहले चरण में हेल्थ वर्कर्स फिर फ्रंटलाइन वर्कर्स और अब 60 से ऊपर के लोगों को कोरोना वैक्सीन लगाई जा रही है। वैक्सीनेशन अभियान के अंतर्गत रोजाना लाखों लोगों को टीका लगाया जा रहा है। कोरोना टीकाकरण को लेकर लोगों में भारी उत्साह देखने को मिल रहा है। यही वजह है कि वैक्सीनेशन के इस चरण की शुरुआत होते ही देश के 50 लाख लोगों ने कोरोना की वैक्सीन लेने के लिए पंजीकरण करवाया।

Coronavirus in india Coronavirus In India in Hindi
Show More
Mohit sharma
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned