कोरोना संकट : आंध्र प्रदेश से तेलंगाना इलाज के लिए आ रहे हैं मरीज, बॉर्डर पर एंबुलेंस को रोक रही है पुलिस

आंध्र प्रदेश में भी स्थिति बहुत ही खराब होती जा रही है। बेहतर इलाज के लिए मरीज पड़ोसी राज्य में जा रहे हैं। इसी बीच तेलगाना पुलिस राज्य के सीमावर्ती क्षेत्रों में पड़ोसी आंध्र प्रदेश से आने वाले एंबुलेंस मरीजों की एंबुलेंस को रोक रहे हैं।

नई दिल्ली। कोरोना की दूसरी लहर बेकाबू होती जा रही है। कई राज्यों में लॉकडाउन और कर्फ्यू के साथ कड़े नियम बनाए गए हैं। रोजाना करना के मरीजों की संख्या में भी बढ़ोतरी देखने को मिल रही है। कई राज्यों में कोरोना के मरीजों को अस्पताल में बेड नहीं मिल रहे हैं। कई जगह मरीजों को ऑक्सीजन की किल्लत का भी सामना करना पड़ रहा है। दक्षिण राज्य आंध्र प्रदेश में भी स्थिति बहुत ही खराब होती जा रही है। बेहतर इलाज के लिए मरीज पड़ोसी राज्य में जा रहे हैं। इसी बीच तेलगाना पुलिस राज्य के सीमावर्ती क्षेत्रों में पड़ोसी आंध्र प्रदेश से आने वाले एंबुलेंस मरीजों की एंबुलेंस को रोक रहे हैं। ऐसा कहा जा रहा है कि अस्पताल में मरीजों को बेड नहीं मिल रहा है और इलाज के लिए लंबी लाइनें लगी हुई है। इसलिए पुलिस को यह कदम उठाना पड़ रहा है।

ऐसे मरीजों को रोक रही है पुलिस
तेलंगाना के सीमाई जिले के एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने बताया कि सभी मरीजों नहीं रोका जा रहा है। सिर्फ उन्हें ही राज्य में आने की अनुमति दी जा रही है, जिनको बेड दिए जाने की पुष्टि की गई है। पुलिस अधिकारी ने अच्छे इलाज के लिए पड़ोसी राज्यों से बहुत सारे मरीज आ रहे है। हम केवल उन्हीं मरीजों की एंबुलेंस को रोक रहे है जिनको किसी भी अस्पताल में बेड मिलने की पुष्टि नहीं की गई है। बेड नहीं मिलने वाले लोग अस्पतालों के बाहर इंतजार करते रहते है। ऐसी स्थिति में वे खुद तो परेशान होते ही है, साथ ही वहां पर अव्यवस्था भी फैल जाती है।

यह भी पढ़ें :— दिल्ली में अस्पताल के 80 कर्मचारी कोरोना संक्रमित, वैक्सीन की दोनों डोज लेने के बाद भी डॉक्टर की मौत

रोजाना आ रही हैं 500-600 एंबुलेंस
एक रिपोर्ट के अनुसार, रोजाना तेलंगाना में सीमा प्रवेश स्थल से विभिन्न अस्पतालों में भर्ती के लिए 500 से 600 एंबुलेंस आ रही है। प्रदेश से लगे सीमाई जिले के एक पुलिस अधिकारी ने कहा कि एंबुलेंस को रोकने के लिए तेलंगाना सरकार से कोई लिखित आदेश नहीं दिया है। इसके बारे में उनको मौखिक निर्देश मिले है। उन्होंने कहा कि मौजूदा हालात को देखते हुए आने वाले कुछ दिनों के लिए यह पाबंदी लगाई गई है। एक वरिष्ठ अधिकारी ने पिछले दिन कहा था कि हैदराबाद में अस्पतालों में 50 प्रतिशत से ज्यादा बेड पर पड़ोसी राज्यों के मरीज हैं।

14986 नए मामले, 84 मरीजों की मौत
आपका बता दें कि आंध्र प्रदेश में पिछले 24 घंटे के दौरान कोरोना वायरस कोविड-19 के 14,986 नए मामले सामने आए। जिससे राज्य में संक्रमण के कुल मामलों की संख्या 13 लाख को पार हो गई है। इस समय प्रदेश में 13 लाख 02 हजार 589 मरीज गए है। 24 घंटे में 16,167 मरीज संक्रमण से ठीक भी हुए जबकि 84 मरीजों की मौत हो गई। कोविड-19 के ये नए मामले 60,124 लाख नमूनों की जांच करने पर सामने आए।

coronavirus
Shaitan Prajapat
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned