scriptWest Bengal ranks top with 81,224 beggars: Govt informs Rajya Sabha | केंद्र सरकार का बड़ा खुलासा, पश्चिम बंगाल में हैं सबसे ज्यादा भिखारी | Patrika News

केंद्र सरकार का बड़ा खुलासा, पश्चिम बंगाल में हैं सबसे ज्यादा भिखारी

  • पश्चिम बंगाल में 81 हजार 244 लोग भीख मांग कर अपना पेट भरने को मजबूर है
  • यहां पुरुषों के मुकाबले भीख मांगने वाली महिलाएं अधिक हैं
  • राज्य में 48158 महिलाएं भीख मांगती हैं जबकि पुरुष भिखारियों की संख्या 33 हजार 86 है

नई दिल्ली

Published: March 11, 2021 04:57:46 pm

नई दिल्ली। हर दिन हम सभी का पाला किसी ना किसी भिखारी से जरूर पड़ता है। उनसे पीछा छुड़ाने के लिए हम उन्हें कुछ रुपए देकर आगे बढ़ जाते हैं, लेकिन क्या आपने कभी सोचा है कि आखिर देश में कितने भिखारी हैं? भारत सरकार द्वारा जारी किए गए आंकड़ों के मुताबिक, देश में 4 लाख से अधिक भिखारी हैं। इनमे से सबसे अधिक भिखारी पश्चिम बंगाल में हैं।

West Bengal has the highest number of beggars
West Bengal has the highest number of beggars

ये भी पढ़ें- सड़क पर ले आई शराब, करोड़पति होने के बाद भी दो साल से मंदिर के बाहर मांग रहा था भीख

पश्चिम बंगाल में 81 हजार 244 लोग भीख मांग कर अपना पेट भरने को मजबूर है।यहां पुरुषों के मुकाबले भीख मांगने वाली महिलाएं अधिक हैं। राज्य में 48158 महिलाएं भीख मांगती हैं जबकि पुरुष भिखारियों की संख्या 33 हजार 86 है।

केंद्रीय सामाजिक न्याय मंत्री थावर चंद गहलोत ने राज्यसभा में बताया कि साल 2011 की जनगणना के अनुसार, देशभर में कुल 4,13,670 भिखारियों की संख्या है, जिसमें 2,21,673 पुरुष और 1,91,997 महिला भिखारी हैं। सबसे ज्यादा 81,244 भिखारी पश्चिम बंगाल में हैं। इसमें कम भिखारी के मामले में लक्षद्वीप है, जहां सिर्फ 2 भिखारी हैं।

आंकड़ों के अनुसार, पश्चिम बंगाल 81,224 भिखारियों के साथ शीर्ष पर है। वहीं उत्तर प्रदेश में 65,835 भिखारी, आंध्र प्रदेश में 30,218, बिहार में 29,723, मध्य प्रदेश में 28,695, राजस्थान में 25,853, दिल्ली में 2,187 भिखारी हैं जबकि चंडीगढ़ में केवल 121 भिखारी हैं।

ये भी पढ़ें- मौत के बाद लखपति भिखारी की झोपड़ी से मिली नोटों की मोटी गड्डियां, घंटो चली गिनती

पूर्वोत्तर के राज्यों कि बात करें तो सिक्किम में 68, अरुणाचल प्रदेश में 114, नागालैंड में 124, मणिपुर में 263, मिजोरम में 53, त्रिपुरा में 1490, मेघालय में 396 और असम में 22,116 भिखारी हैं।

सरकार के आंकड़ों के अनुसार सबसे कम भिखारी लक्षद्वीप में हैं। यहां इनकी संख्या मात्र 2 है।वहीं दादरा और नगर हवेली में 19, दमन और दीव में 22 और अण्डमान और निकोबार द्वीपसमूह में 56 भिखारी हैं।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

इन नाम वाली लड़कियां चमका सकती हैं ससुराल वालों की किस्मत, होती हैं भाग्यशालीजब हनीमून पर ताहिरा का ब्रेस्ट मिल्क पी गए थे आयुष्मान खुराना, बताया था पौष्टिकIndian Railways : अब ट्रेन में यात्रा करना मुश्किल, रेलवे ने जारी की नयी गाइडलाइन, ज़रूर पढ़ें ये नियमधन-संपत्ति के मामले में बेहद लकी माने जाते हैं इन बर्थ डेट वाले लोग, देखें क्या आप भी हैं इनमें शामिलइन 4 राशि की लड़कियों के सबसे ज्यादा दीवाने माने जाते हैं लड़के, पति के दिल पर करती हैं राजशेखावाटी सहित राजस्थान के 12 जिलों में होगी बरसातदिल्ली-एनसीआर में बनेंगे छह नए मेट्रो कॉरिडोर, जानिए पूरी प्लानिंगयदि ये रत्न कर जाए सूट तो 30 दिनों के अंदर दिखा देता है अपना कमाल, इन राशियों के लिए सबसे शुभ

बड़ी खबरें

Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.