WHO के डीजी ने की आयुर्वेद की तारीफ, भारत की भूमिका को माना अहम

 

  • टेड्रोस ने आयुर्वेद को पूरी दुनिया के लिए लाभकारी माना।
  • पीएम से बातचीत में उन्होंने घरेलू उपचार को भी अहम बताया।

नई दिल्ली। आयुर्वेद दिवस पर भारतीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और विश्व स्वास्थ्य संगठन के महानिदेशक डॉ. टेड्रोस अदनोम ग्रेब्रेयस के बीच बातचीत हुई। बातचीत के दौरान डब्लूएचओ के महानिदेशक ने भारतीय आयुर्वेद चिकित्सा पद्धति की तारीफ की। उन्होंने कहा कि यह चिकित्सा पद्धति पूरी दुनिया के लिए लाभकारी है।

PM Modi बोले - भारतीय आयुर्वेद पूरी मानवता की भलाई के लिए है

चिकित्सा के क्षेत्र में भारत की भूमिका अहम

इसके अलावा टेड्रोस अदनोम घेब्रेयेस ने विश्‍व स्‍वास्‍थ्‍य संगठन और भारतीय स्‍वास्‍थ्‍य अधिकारियों के बीच घनिष्‍ठ और नियमित सहयोग पर जोर दिया। उन्‍होंने पीएम मोदी से बातचीत के क्रम में आयुष्‍मान भारत योजना और टीबी के खिलाफ भारत के घरेलू पहलों की विशेष रूप से तारीफ की। डब्लूएचओ के महानिदेशक ने कहा कि विश्‍व स्‍वास्‍थ्‍य के मसले पर भारत की भूमिका बहुत महत्‍वपूर्ण है। उन्होंने कहा कि दो नए संस्थान भी आगामी वर्षों में अहम भूमिका इस दिशा में निभाएंगे।

दूसरी तरफ पीएम मोदी ने शुक्रवार को जामनगर और जयपुर में एक-एक आयुर्वेद शिक्षण और शोध संस्थान का उद्घाटन किया। इस मौके पर उन्होंने कहा कि पीएम मोदी ने कहा कि चिकित्सा के क्षेत्र में देश का प्राचीन आयुर्वेद आज दुनिया के काम आ रहा है।

pm modi
Dhirendra
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned