scriptwhy the gap of two doses of covidshield was increased | आखिर क्यों बढ़ाया गया कोविशील्ड की दो डोज का गैप? सरकार ने दी सफाई | Patrika News

आखिर क्यों बढ़ाया गया कोविशील्ड की दो डोज का गैप? सरकार ने दी सफाई

locationनई दिल्लीPublished: Jun 16, 2021 06:24:40 pm

Submitted by:

Mohit Saxena

वैक्सीन के दो डोज के बीच के अंतराल को 6-8 सप्ताह से बढ़ाकर 12 से 16 सप्ताह करा गया है। सरकार का कहना है कि फैसला वैज्ञानिक प्रमाणों के आधार पर पारदर्शी तरह से लिया है।

covid shield
covid shield

नई दिल्ली। कोरोना संक्रमण से बचने के लिए कोविशील्ड (Covishield) वैक्सीन के दो डोज के बीच के अंतराल को 6-8 सप्ताह से बढ़ाकर 12 से 16 सप्ताह करा गया है। इसको लेकर कई संगठन सरकार पर आरोप लगा रहे हैं कि वैक्सीन की कमी को लेकर यह फैसला लिया गया है। उनका कहना है कि भारत सरकार ने वैज्ञानिक समूह की सहमति के बिना कोविशील्ड वैक्सीन की दो खुराक के बीच के अंतर को दोगुना कर दिया था। इस बीच सरकार के सलाहकार पैनल के तीन सदस्यों का कहना है कि भारत सरकार ने वैज्ञानिक समूह की सहमति के बिना कोविशील्ड वैक्सीन की दो खुराक के बीच के अंतर को दोगुना कर दिया था।

यह भी पढ़ें

Corona की तीसरी लहर को लेकर दिल्ली सरकार अलर्ट, सीएम केजरीवाल ने कहा- तैयार होंगे 5 हजार हेल्थ असिस्टेंट

सरकार ने मनमाने ढंग से लिया फैसला

मीडिया रिपोर्ट के अनुसार जानेमाने वैज्ञानिकों का कहना है कि वैक्सीन लगाने के अंतराल को बढ़ाने का फैसला सरकार ने मनमाने ढंग से लिया है। वैज्ञानिक कह रहे हैं कि विश्व स्वास्थ्य संगठन ने वैक्सीन लगाने के बीच अंतराल को बढ़ाकर 8 से 12 सप्ताह करने का सुझाव दिया था। मगर इसे बढ़ाकर 12-16 सप्ताह करने के पीछे का तर्क समझ से परे है। इस बारे में कोई आंकड़ा मौजूद नहीं है।

पारदर्शी तरीके से लिया निर्णय

वहीं अब राष्ट्रीय टीकाकरण तकनीकी परामर्श समूह (एनटीएजीआई) के अध्यक्ष एन के अरोड़ा का कहना है कि कोविशील्ड टीके की दो खुराकों के बीच अंतराल को आगे बढ़ाने का फैसला वैज्ञानिक प्रमाणों के आधार पर पारदर्शी तरह से लिया है।

यह भी पढ़ें

केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद ने ट्विटर पर बोला हमला, कहा- जानबूझकर की आईटी कानूनों की अवहेलना

समूह के सदस्यों के बीच कोई मतभेद नहीं

केन्द्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के ट्वीट के अनुसार उन्होंने कहा कि इस संबंध में समूह के सदस्यों के बीच कोई मतभेद नहीं था। सरकार ने 13 मई को कहा कि उसने कोरोना वायरस कार्यकारी समूह की अनुशंसाओं को स्वीकार कर कोविशील्ड के टीके की दो खुराकों के बीच के अंतराल को 6 से आठ सप्ताह से बढ़ाकर 12-16 सप्ताह कर दिया है।

ट्रेंडिंग वीडियो