कोरोना की दूसरी लहर में 594 डॉक्टरों की मौत, सबसे ज्यादा दिल्ली में : इंडियन मेडिकल एसोसिएशन

इंडियन मेडिकल एसोसिएशन (IMA) ने दूसरी लहर के दौरान डॉक्टरों की मौत को लेकर आंकड़ा जारी किया है। IMA ने बताया कि इस दौरान 594 डॉक्टरों की मौत हो गई है। इसमें सबसे ज्यादा दिल्ली के 107 डॉक्टर शामिल है।

नई दिल्ली। पूरी दुनिया में महामारी कोरोना वायरस का कहर जारी है। कोरोना की दूसरी लहर ने देशभर में तबाही मचा रखी है। देश का कोई भी कोना दूसरी लहर से बच नहीं सका। दूसरी लहर के पीक टाइम में कोरोना के मरीजों की संख्या और इससे मरने वालों का आंकड़ा लगातार बढ़ता ही गया। इस दौरान मरीजों को बेड, ऑक्सीजन और इलाज के लिए दवाइयों को लेकर काफी परेशानियों का सामना करना पड़ा। इस मुश्किल समय में डॉक्टर्स और नर्सों ने जी जान लगाकर दिन-रात मरीजों की सेवा की। महामारी कोरोना ने डॉक्टरों को भी अपनी चपेट में ले लिया। इंडियन मेडिकल एसोसिएशन (IMA) ने दूसरी लहर के दौरान डॉक्टरों की मौत को लेकर आंकड़ा जारी किया है। IMA ने बताया कि इस दौरान 594 डॉक्टरों की मौत हो गई है।

 

यह भी पढ़ें :— खड़गे ने NHRC के अध्यक्ष की चयन की प्रक्रिया से खुद को किया अलग, पीएम मोदी को लिखा पत्र, कहा- नियुक्तियों में इस वर्ग को मिले जगह

सबसे ज्यादा दिल्ली के 107 डॉक्टर
इंडियन मेडिकल एसोसिएशन ने बताया कि कोरोना संक्रमण की दूसरी लहर में कम से कम 594 डॉक्टरों को अपनी जान गंवानी पड़ी। इसमें सबसे ज्यादा राजधानी दिल्ली के 107 डॉक्टर शामिल है। आईएमए के राज्यवार आंकड़े बताते हैं कि कोविड-19 की दूसरी लहर में मरने वाले हर दूसरे डॉक्टर की या तो दिल्ली, बिहार या उत्तर प्रदेश में मौत हुई।

अब तक 1300 डॉक्टरों की मौत
कोरोना वायरस की दूसरी लहर में मरने वाले डॉक्टरों में दिल्ली, बिहार और उत्तर प्रदेश तीनों राज्यों की हिस्सेदारी करीब 45 फीसदी है। आईएमए ने कहा कि कुल मिलाकर, पिछले साल महामारी शुरू होने के बाद से कोविड-19 से लड़ते हुए लगभग 1,300 डॉक्टरों की मौत हो गई है।

देश में 18 लाख से कम एक्टिव केस
पिछले कई दिनों से कोरोना संक्रमण के मामलों में कमी आ रही है। स्वास्थ्य मंत्रालय मंत्रालय के मुताबिक भारत में पिछले 24 घंटे में कोरोना के 1,32,788 नए केस सामने आए हैं, जबकि 3,207 कोविड मरीजों ने दम तोड़ा है। हालांकि, इस दौरान 2,31,456 कोरोना मरीज ठीक/डिस्चार्ज हुए हैं। देश में फिलहाल कोरोना के 18 लाख से भी कम एक्टिव केस हैं।


राज्य मौतों की संख्या
दिल्ली 107
बिहार 96
उत्तर प्रदेश 67
राजस्थान 43
झारखंड 39
आंध्र प्रदेश 32
तेलंगाना 32
गुजरात 31
पश्चिम बंगाल 25
ओड़िशा 22
तमिलनाडु 21
महाराष्ट्र 17
मध्यप्रदेश 16
असम 08
कर्नाटक 08
केरल 05
मणीपुर 05
छत्तीसगढ़ 03
हरियाणा 03
जम्मू-कश्मीर 03
पंजाब 03
गोवा 02
त्रिपुरा 02
उत्तराखंड 02
पुड्डुचेरी 01
अज्ञात 01

Shaitan Prajapat
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned