ब्रिटेन: पीएम Boris Johnson ने कोरोना की दूसरी लहर से निपटने के​ लिए बनाई योजना

Highlights

  • दुनियाभर में कोरोना से मरने वालों की संख्या दस लाख के पार पहुंच चुकी है।
  • ब्रिटेन में लिवरपूल को सबसे अधिक जोखिम वाले क्षेत्र में रखा गया है।

लंदन। दुनियाभर में कोरोना वायरस (Coronavirus) का कहर अभी भी जारी है। इस समय पूरे विश्व में 3.80 करोड़ से अधिक लोग संक्रमित हो चुके हैं। वहीं कोरोना से मरने वालों की संख्या 10.85 लाख के पार पहुंच गई है।

Afghanistan: अमरीकी सेना ने तालिबानी ठिकानों पर किया हमला, 20 आतंकी ढेर

ब्रिटेन ने संक्रमण की दूसरी लहर से निपटने के लिए त्रीस्तरीय योजना तैयार की है। इसके तहत लिवरपूल को सबसे अधिक जोखिम वाले क्षेत्र में रखा गया है। वहीं पब,जिम और सटृटेबाजी की दुकानों को पूरी तरह से बंद कर दिया गया है।

ब्रिटेन के प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन ने सोमवार को कहा देश में कोरोना की दूसरी लहर पर काबू पाने के लिए नई योजना तैयार की गई है। इसे तीन चरणों में लागू करा जाएगा। इसमें क्षेत्रों को कई श्रेणियों में बांटा गया है। मीडियम, हाई और वेरी हाई रिस्क की श्रेणी बनाई है।

जॉनसन के अनुसार सभी क्षेत्रों में जरूरी सामानों की खरीददारी के लिए दुकानें,स्कूल और विश्वविद्यालय खुले रहेंगे। वहीं पब,जिम और सटृटेबाजी की दुकानों को पूरी तरह से बंद कर दिया है। जबकि लिवरपूल को सबसे अधिक जोखिम की श्रेणी में रखा गया है।

प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन ने पहली बार विपक्षी सांसदों को भी इस योजना की जानकारी दी है। विपक्षी सांसदों का आरोप है कि सरकार कोरोना के बहाने जनता के अधिकारों को छीन रही है। बीते महीने ब्रिटेन में कोरोना वायरस के आने के बाद एकदम से मामले बढ़ने लगे क्योंकि उत्तर-पश्चिम और उत्तर-पूर्व इंग्लैंड में सर्द मौसम शुरू हो गया है। वहीं लिवरपूल में प्रति एक लाख पर 600 से अधिक लोगों के संक्रमित होने के साथ ही यह देश की सबसे जोखिम वाली जगह बन गई।

Libya: बंधक बनाए गए सातों भारतीय रिहा, आतंकियों ने पिछले महीने किया था किडनैप

इंग्लैंड के उप मुख्य चिकित्सा अधिकारी जोनाथन वान-टैम के अनुसार पीएम की अपील है कि सभी लोग इस योजना को सफल बनाएंगे। देशभर में दोबारा से मामले बढ़ रहे हैं। इसके कारण संक्रमण को काबू में करने के लिए योजना तैयार की गई है। मीडियम कैटेगरी वाले क्षेत्र में रह रहे लोग लॉकडाउन का पालन करेंगे और सार्वजनिक जगहों पर जाने से बचेंगे। वहीं हाई रिस्क वाले क्षेत्रों में लोगों को घर के अंदर रहना होगा।

कोरोना वायरस
Mohit Saxena
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned