Coronavirus संकट के बीच फिर भूकंप के झटकों से हिली धरती, दहशत में लोग

-कोरोना संकट ( Coronavirus ) के बीच नेपाल में गुरुवार को भूकंप ( Earthquake in Nepal ) के झटके महसूस किए गए।
-नेशनल सीस्मोलॉजिकल सेंटर ( National Seismological Center ) के अनुसार गुरुवार सुबह 8 बजकर 14 मिनट पर भूकंप आया और इसकी तीव्रता 3.4 मापी गई। भूकंप का केंद्र भक्तपुर जिले के अनंतलिंगेश्वार में रहा।
-काठमांडू घाटी और उसके आसपास हल्के झटके महसूस किए गए।

कोरोना संकट ( coronavirus ) के बीच नेपाल में गुरुवार को भूकंप ( Earthquake in Nepal ) के झटके महसूस किए गए। जिससे लोगों में दहशत फैल गई। नेशनल सीस्मोलॉजिकल सेंटर ( National Seismological Center ) के अनुसार गुरुवार सुबह 8 बजकर 14 मिनट पर भूकंप आया और इसकी तीव्रता 3.4 मापी गई। भूकंप का केंद्र भक्तपुर जिले के अनंतलिंगेश्वार में रहा।

भूकंप से किसी प्रकार के जानमाल के नुकसान की कोई खबर नहीं है। काठमांडू घाटी और उसके आसपास हल्के झटके महसूस किए गए। बता दें कि कोरोना ( Covid-19 ) के खौफ के बीच पिछले कुछ दिनों में कई बार भूकंप के झटके महसूस किए गए हैं। जिससे लोग डरे सहमे हुए है। हालांकि, मौसम वैज्ञानिकों के मुताबिक, इन भूकंप के झटकों से घबराने की जरूरत नहीं है।

कोरोना संकट के बीच नई मुसीबत: भारी बारिश के चलते एक साथ टूटे दो बांध, कई शहरों में बाढ़ के हालात

नेपाल में कोरोना का बढ़ता ग्राफ ( Coronavirus in Nepal )
नेपाल में भी कोरोना का प्रकोप बढ़ता जा रहा है। नेपाल के स्वास्थ्य मंत्रालय के मुताबिक, देश में कोरोना वायरस के 25 नये मामले सामने आए है। इसके साथ ही कुल मामलों की संख्या 427 हो गई है। जबकि, दो लोगों की मौत हुई है। इसी बीच नेपाल के प्रधानमंत्री के पी शर्मा ओली ने भारत से आने वाला कोरोना वायरस संक्रमण को चीन और इटली से आने वाले संक्रमण से अधिक घातक बताया है। उन्होंने नेपाल में बढ़ रहे मामलों का भारत को जिम्मेदार बताया।

coronavirus
Show More
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned