Coronavirus: पाकिस्तान ने भारत से लगाई मदद की गुहार, मांगी हाइड्रॉक्सीक्लोरोक्वीन दवा

-Coronavirus: कोरोना के बढ़ते मामलों को देखते हुए पाकिस्तान ( Coronavirus in Pakistan ) ने भी भारत से मदद की गुहार लगाई है।
- कोरोना महामारी को रोकने के लिए प्रधानमंत्री इमरान खान ( Imran Khan ) सरकार ने भारत से मलेरिया की दवा हाइड्रॉक्सीक्लोरोक्वीन ( Pakistan Need Hydroxychloroquine Medicine ) की मांग की है।
-इससे पहले अमेरिका, ब्राजील समेत 30 देशों ने हाइड्रॉक्सीक्लोरोक्वीन दवा की मांग की थी।

भारत समेत पूरी दुनिया में कोरोना वायरस ( coronavirus ) का प्रकोप जारी है। इस वायरस ( COVID-19 ) की वजह से अब तक एक लाख से ज्यादा लोगों की मौत हो चुकी है, जबकि 12 लाख से ज्यादा लोग इससे संक्रमित हो चुके है। अमेरिका, इटली, स्पेन जैसे देश कोरोना के आगे पस्त नजर आ रहे है, वहीं भारत मजबूती से मुकाबला कर रहा है। यही वजह है कि दुनिया के 30 देशों ने भारत से मदद मांगी है। अब इस कड़ी में पाकिस्तान का नाम भी शामिल हो गया है। कोरोना के बढ़ते मामलों को देखते हुए पाकिस्तान ने भी भारत से मदद की गुहार लगाई है।

पाकिस्तान ने मांगी हाइड्रॉक्सीक्लोरोक्वीन दवा
पाकिस्तान में कोरोना संक्रमित ( Coronavirus in Pakistan ) मरीजों की संख्या लगातार बढ़ती जा रही है। इस महामारी को रोकने के लिए प्रधानमंत्री इमरान खान ( Prime Minister Imran Khan ) सरकार ने भारत से मलेरिया की दवा हाइड्रॉक्सीक्लोरोक्वीन की मांग की है। बता दें कि इससे पहले अमेरिका, ब्राजील समेत 30 देशों ने हाइड्रॉक्सीक्लोरोक्वीन दवा की मांग की थी।

Lockdown 2 Guidelines: बाइक पर एक, कार में ड्राइवर सहित दो लोग कर सकेंगे सफर

1586941836300pakistan.jpg

पाकिस्तान में अब तक 6000 लोग संक्रमित
बता दें कि कोरोना वायरस के चलते पाकिस्तान में 100 से ज्यादा लोगों की मौत हो चुकी है। वहीं, इससे संक्रमित लोगों की संख्या 6 हजार को पार कर गई है। लगातार बढ़ते मामलों के बीच सरकार काफी चिंतित है। इसी वजह से पाकिस्तान ने भारत से मदद की मांग की है। सबसे पहले हाइड्रोक्‍सीक्‍लोरोक्‍वीन दवा को लेकर अमेरिकी राष्‍ट्रपति डोनाल्‍ड ट्रंप ने भारत से मांग की थी। उसके बाद अन्य देशों ने भी मदद के लिए गुहार लगाई।

पाकिस्तान ने लगाई निर्यात पर बैन
बता दें कि जब पता चला कि हाइड्रोक्‍सीक्‍लोरोक्‍वीन दवा कोरोना वायरस का इलाज करने में सक्षम है, तब पाकिस्तान ने इस दवा के निर्यात पर बैन लगा दिया था। लेकिन, कोरोना के बढ़ते मामलों के बीच हाइड्रोक्‍सीक्‍लोरोक्‍वीन दवा के लिए अब भारत से मांग की है।

Monsoon Forecast: कोरोना के संकट के बीच अच्छी खबर, इस साल सामान्य रहेगा मानसून

coronavirus_3.jpg

क्या है हाइड्रोक्सीक्लोरोक्वीन ( What is Hydroxychloroquine tablets ? )

अमेरिका समेत दुनिया के 30 देशों ने भारत से हाइड्रोक्सीक्लोरोक्वीन टेबलेट देने की मांग की है। इसकी एक वजह है कि भारत इस दवा का सबसे बड़ा उत्पादक और निर्यातक है। इंडियन फार्मास्युटिकल अलायंस (IPA) के मुताबिक दुनिया में होने वाली हाइड्रोक्सीक्लोरोक्वीन सप्लाई का 70 फीसदी भारत बनाता है। अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ( US President Donald Trump ) इसे कोरोना के इलाज के लिए कारगर मान रहे है। न्यूयॉर्क में लगभग 1500 कोरोना मरीजों का इलाज इस दवा से किया जा रहा है।

coronavirus COVID-19 virus Covid-19 in india
Show More
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned