दुनिया के 18 देशों में फैला Coronavirus, WHO घोषित कर सकता है 'वैश्विक महामारी'

  • Coronavirus की चपेट में आने से चीन में अब तक 170 लोगों की मौत हो चुकी है
  • 6000 से अधिक लोग इस वायरस से संक्रमित हैं
  • चीन में 1000 से अधिक नए मामले सामने आए हैं

नई दिल्ली। रहस्यमय कोरोना वायरस ( Coronavirus ) का प्रकोप चीन के वुहान शहर से निकलकर दुनिया के 18 देशों तक फैल चुका है। इस वायरस की चपेट में आने से चीन में अब तक 170 लोगों की मौत हो चुकी है, जबकि करीब 6000 लोग प्रभावित हैं।

कोरोना वायरस के प्रकोप को देखते विश्व स्वास्थ्य संगठन ( WHO ) ने दुनिया के सभी देशों की सरकारों से अपील की है कि वे वायरस को फैलने से रोकने के लिए तत्काल ठोस कदम उठाएं उचित कार्रवाई करें।

यूरोप में Coronavirus ने दी दस्तक, फ्रांस से तीन मामले आए सामने

इस संबंध में WHO ने बुधवार को एक आपात बैठक बुलाई और इस बारे में चर्चा की कि क्या कोरोना वायरस के संक्रमण को देखते हुए वर्ल्ड हेल्थ इमरजेंसी घाषित किया जाए या नहीं?

आपको बता दें कि चीन में कोरोना के 1000 नए मामले सामने आए हैं। इसको लेकर चीन में पहले ही हेल्थ आपातकाल घोषित किया जा चुका है और कई प्रमुख शहरों में लोगों के बाहर निकलने पर प्रतिबंध लगा दिया गया है। साथ ही कई शहरों में लोगों के जाने पर भी पाबंदी है। बचाव के लिए युद्ध स्तर पर चीन में उपाय किए जा रहे हैं।

दुनिया के 18 देशों में फैला वायरस

आपको बता दें कि इस रहस्यमय कोरोना वायरस ने देखते ही देखते चीन से निकलकर 18 देशों को अपनी चपेट में ले लिया है। इसमें अमरीका, भारत, श्रीलंका, जापान, हांगकांग, थाइलैंड, ताइवान, ब्रिटेन, ऑस्ट्रेलिया, फ्रांस आदि कई देश शामिल हैं।

बुधवार को हुई आपात बैठक में जेनेवा में WHO के डायरेक्टर जनरल Tedros Adhanom Ghebreyesus ने कहा कि पिछले सप्ताह दुनिया भर से कोरोना को लेकर जो रिपोर्टें सामने आई है, वह बहुत ही खतरनाक है। दुनिया में एक भय का माहौल बनता जा रहा है। इसलिए हमने इसे लेकर इंटरनेशनल हेल्थ रेगुलेशन इमरजेंसी कमेटी बनाने का फैसला किया है।

दूसरी तरफ WHO के प्रमुख माइकल रायन ने कहा कि पूरी दुनिया को इस वायरस को लेकर अलर्ट होने की जरूरत है। तभी इससे लड़ने में WHO को मदद मिल पाएगी। हम सब साथ आएंगे तभी दुनिया के 194 देश एक साथ कोरोना से मुकाबला कर सकेंगे।

नागरिकों को एयरलिफ्ट करने की कवायद शुरू

आपको बता दें कि चीन में दुनिया के कई देशों के लोग रहते हैं और छात्र-छात्राएं पढ़ाई करते हैं। ऐसे में इस वायरस के खतरा को देखते हुए नागरिकों को एयरलिफ्ट करने की प्रक्रिया शुरू कर दी गई है।

खतरनाक Coronavirus के प्रकोप से डरी दुनिया, कई देशों के एयरपोर्ट पर अलर्ट

भारत भी इसको लेकर सजग है और अपने नागरिकों को वापस लाने में जुटा है। इसके लिए विशेष तौर पर एयर इंडिया को जिम्मेदारी सौंपी गई है।

कई देशों ने अपने देश की उड़ानें चीन के लिए रद्द कर दी हैं और अपने नागरिकों के लिए एडवाइजरी भी जारी की है, ताकि वे सावधानी बरतें।

Read the Latest World News on Patrika.com. पढ़ें सबसे पहले World News in Hindi पत्रिका डॉट कॉम पर. विश्व से जुड़ी Hindi News के अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook पर Like करें, Follow करें Twitter पर.

Anil Kumar
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned