जानिए किस तरह स्लेज और स्नोमोबाइल से बर्फीले अलास्का में कोरोना की वैक्सीन पहुंचाई जा रही है

-07 लाख 32 हजार की आबादी है अमरीका के अलास्का राज्य की
-13 फीसदी लोगों का टीकाकरण हो चुका है अलास्का प्रांत में अब तक (13 percent of people have been vaccinated in Alaska province so far)

अमरीकी राज्य अलास्का ने कठिन परिस्थितियों के बावजूद कोरोना टीका-करण में मिसाल कायम की है। इसके पीछे सबसे अहम भूमिका उन चिकित्साकर्मियों की है, जिन्होंने माइनस 20 डिग्री से भी नीचे तापमान में विमान, नौका, स्नोमोबाइल्स और स्लेज के जरिए वैक्सीनेशन को पूरी गंभीरता से अंजाम दिया। होमर के छोटे शहर से लेकर खेमार की खाड़ी तक भी टीकों पर पहुंचाया जा रहा है, जहां तक रास्ते सुलभ नहीं है। कई स्थानों पर मौसम अत्यंत प्रतिकूल होने के कारण टीम जाने में असमर्थ रही तो यहां की स्थानीय आबादी के लोग वॉलंटियर के रूप में आगे आए और टीकों को अपने समुदाय के लोगों तक पहुंचाने में मदद की। करीब सात लाख 32 हजार की आबादी और 200 से अधिक जनजातियों वाले प्रदेश में अब तक 13 फीसदी लोगों को टीका लगाया जा चुका है।

पड़ोसी देशों को मुफ्त वैक्सीन देकर भारत ने ऐसे बढ़ाई कूटनीतिक बढ़त

भारत भी दे रहा टीका
टीकाकरण की कामयाबी इसलिए भी अधिक है, क्योंकि यहां प्रतिकूल मौसम के अलावा बिना सडक़ दूर दराज के इलाकों में लोगों तक पहुंचना पड़ता है। डॉक्टर और नर्स बर्फ पर यात्राएं कर रहे हैं, ताकि यहां के लोगों को महामारी से बचाया जा सके। बर्फ में जमे लैंडिंग स्ट्रिप पर दस सीटर विमान और मछली पकडऩे वाली नौका में टीकाकरण किया जा रहा है। संघीय साझेदारी के चलते भारत भी यहां अतिरिक्त टीकों की आपूर्ति कर रहा है।

Show More
pushpesh
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned