पाकिस्तान में बड़ा रेल हादसा : सिंध में टकराईं दो ट्रेनें, 30 की मौत, ट्रेन काटकर निकाल रहे है यात्री

पाकिस्तान में सोमवार तड़के एक भीषण रेल हादसा हो गया। सिंध प्रांत के डहारकी में दो ट्रेनों के बीच टक्कर हो गई, जिससे 30 से ज्यादा लोगों की जान चली गई।

नई दिल्ली। पड़ोसी मुल्क पाकिस्तान में सोमवार सुबह एक बड़ा रेल हादसा हो गया। एक रिपोर्ट के अनुसार, यह भीषण रेल हादसा सिंध प्रांत के डहारकी में हुआ। जहां दो ट्रेनें आपस में टकरा गई। इस हादसे में अब तक 30 से ज्यादा लोगों की मौत हो गई और 50 से ज्यादा लोग जख्मी हो गए। खबरों के अनुसार, अभी भी कई लोग बोगियों में फंसे हुए हैं। जिनको निकालने का काम चल रहा है। घायलों को इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती करवा रहे है।

यह भी पढ़ें :— एक्सपर्ट ने वैक्सीनेशन के हालात पर जताई चिंता, कहा- समय रहते नहीं सुधरे तो भयानक होगी तीसरी लहर!

आठ डिब्बे पटरी से उतरे
जानकारी के मुताबिक, मिल्लत एक्सप्रेस कराची से सरगोधा और सर सैयद एक्सप्रेस रावलपिंडी से कराची जा रही थी। यह हादसा तड़के 3 बजकर 45 मिनट पर हुआ। पाकिस्तान के सिंध प्रांत के घोटाकी जिले के डहारकी में सोमवार तड़के मिल्लत एक्सप्रेस और सर सैय्यद एक्सप्रेस की आपस में टक्कर हो गई। इससे मिल्लत एक्सप्रेस के आठ डिब्बे पटरी से उतर गए। इस हादसे में अब तक 30 के मारे जाने की खबर है, जबकि 50 से ज्यादा लोग घायल बताए जा रहे हैं।

यह भी पढ़ें :— भारतीय वैज्ञानिक दंपती ने खोली चीन की पोल : वुहान लैब से लीक हुआ कोरोना वायरस, शोध में दी ये अहम जानकारी

ट्रेन काटकर निकाल रहे है यात्री
जियो टीवी की रिपोर्ट के मुताबिक, हादसे के चार घंटे बीत जाने के बाद भी अधिकारी मौके पर नहीं पहुंचे हैं और ना ही हेवी मशीनरी पहुंचाई गई है। बताया जा रहा है कि कई यात्री बुरी तरह फंसे हुए हैं। फंसे हुए यात्री को ट्रेन काटकर ही वहां से निकाला जा सकता है। घायलों को ट्रैक्टर ट्रॉली के जरिए ले जाया जा रहा है। रिपोर्ट के मुताबिक, साढ़े 9 बजे के आसपास मेडिकल टीम वहां पहुंचेगी।

 

बढ़ सकती है मरने वालों की संख्या
पाकिस्तानी अधिकारियों ने आशंका जताई है कि मरने वालों की संख्या बढ़ सकती है। घोटाकी जिले के डिप्टी कमिश्नर ने कहा कि हादसे में करीब 14 बोगियां पलट गई हैं। इनमें से 8 को भारी नुकसान हुआ है। बोगियों में फंसे हुए लोगों को निकालना एक बड़ी चुनौती बनी हुई है। डेप्युटी कमिश्नर ने कहा कि राहत ट्रेन को रवाना कर दिया गया है। घोटाकी, धारकी, ओबरो और मीरपुर मथेलो के अस्पतालों में आपात स्थिति घोषित करके सभी डॉक्टरों और पैरामेडिकल स्टाफ को ड्यूटी पर बुलाया गया है।

Shaitan Prajapat
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned